Saturday, May 18, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बाजार
  4. बाजार में मची हाहाकार, भारी गिरावट के साथ बंद हुआ सेंसेक्स, जानिए इस मंदी के प्रमुख कारण

Why Share Market Fall Today : बाजार में मची हाहाकार, भारी गिरावट के साथ बंद हुआ सेंसेक्स, जानिए इस मंदी के प्रमुख कारण

Why Share Market Fall Today : सेंसेक्स सोमवार को 1.14 फीसदी या 845.12 अंक की गिरावट के साथ 73,399.78 पर बंद हुआ। उधर निफ्टी 1.10 फीसदी या 246.90 अंक की गिरावट के साथ 22,272.50 पर बंद हुआ।

Written By: Pawan Jayaswal
Updated on: April 15, 2024 16:03 IST
शेयर बाजार में क्यों...- India TV Paisa
Photo:FILE शेयर बाजार में क्यों आई गिरावट

Why Share Market Fall Today : भारतीय शेयर बाजार हफ्ते के पहले कारोबारी दिन सोमवार को बड़ी गिरावट के साथ बंद हुआ है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक सेंसेक्स आज 1.14 फीसदी या 845.12 अंक की गिरावट के साथ 73,399.78 पर बंद हुआ। बाजार बंद होते समय सेंसेक्स पैक के 30 शेयरों में से 27 शेयर लाल निशान पर और 3 शेयर हरे निशान पर थे। उधर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक निफ्टी सोमवार को 1.10 फीसदी या 246.90 अंक की गिरावट के साथ 22,272.50 पर बंद हुआ। बाजार बंद होते समय निफ्टी पैक के 50 शेयरों में से 6 शेयर हरे निशान पर और 44 शेयर लाल निशान पर थे।

यहां रही सबसे अधिक गिरावट

निफ्टी पैक के शेयरों में सबसे अधिक गिरावट आज श्रीराम फाइनेंस में 3.12 फीसदी, विप्रो में 2.60 फीसदी, आईसीआईसीआई बैंक में 2.43 फीसदी, बजाज फाइनेंस में 2.28 फीसदी और बजाज फिनसर्व में 2.22 फीसदी दर्ज हुई। वहीं, निफ्टी पैक में सबसे अधिक तेजी ओएनजीसी में 5.80 फीसदी, हिंडाल्को में 2.40 फीसदी, मारुति में 1.17 फीसदी, नेस्ले इंडिया में 0.83 फीसदी और ब्रिटानिया में 0.38 फीसदी दर्ज हुई।

सेक्टोरल सूचकांकों का हाल

सेक्टोरल सूचकांकों की बात करें, तो आज एक निफ्टी ऑयल एंड गैस (+0.41%) को छोड़कर बाकी सभी लाल निशान पर बंद हुए। सबसे अधिक गिरावट निफ्टी मीडिया में 2.23 फीसदी दर्ज हुई। इसके अलावा, निफ्टी बैंक में 1.63 फीसदी, निफ्टी ऑटो में 0.78 फीसदी, निफ्टी फाइनेंशियल सर्विसेज में 1.75 फीसदी, निफ्टी एफएमसीजी में 0.98 फीसदी, निफ्टी आईटी में 1.58 फीसदी, निफ्टी मेटल में 0.58 फीसदी, निफ्टी फार्मा में 0.91 फीसदी, निफ्टी पीएसयू बैंक में 1.98 फीसदी, निफ्टी प्राइवेट बैंक में 1.66 फीसदी, निफ्टी रियल्टी में 1.09 फीसदी, निफ्टी हेल्थकेयर इंडेक्स में 1.37 फीसदी, निफ्टी कंज्यूमर ड्यूरेबल्स में 1.32 फीसदी और निफ्टी मिडस्मॉल हेल्थकेयर में 1.24 फीसद की गिरावट दर्ज हुई।

गिरावट के पीछे रहे ये कारण

  • इजरायल-ईरान युद्ध : इजरायल-ईरान युद्ध के कारण मध्य-पूर्व क्षेत्र में तनाव बढ़ रहा है। यह भारतीय बाजार में आज की गिरावट का सबसे प्रमुख कारण है।
  • अमेरिकी डॉलर में मजबूती : भू-राजनीतिक तनाव के कारण अमेरिकी डॉलर में मजबूती बढ़ी है। वहीं, रुपया कमजोर हुआ है। रुपया सोमवार को शुरुआती कारोबार में छह पैसे की गिरावट के साथ अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 83.44 पर रहा। इससे भी बाजार का मूड खराब हुआ है।
  • वैश्विक बाजारों में बिकवाली : मध्य पूर्व में तनाव बढ़ने से वैश्विक बाजार में बिकवाली हावी हुई है। अमेरिकी शेयर बाजार शुक्रवार को गिरावट के साथ बंद हुआ। सोमवार को सुबह के शुरुआती सत्र में, प्रमुख एशियाई बाजार जैसे निक्केई, हैंग सेंग, कोस्पी आदि दबाव में कारोबार कर रहे हैं। इसका असर भी भारतीय बाजार पर देखने को मिला है।
  • विदेशी निवेशकों की बिकवाली : दुनिया में तनाव बढ़ने से विदेशी निवेशक भारतीय बाजार से पैसा निकाल रहे हैं। शुक्रवार को एफपीआई ने 8,027 करोड़ रुपये की बिकवाली की थी। यह ट्रेंड आगे भी जारी रह सकता है। इसका असर भी बाजार पर देखने को मिल रहा है।
  • भारत-मॉरीशस कर संधि में बदलाव : भारत और मॉरीशस ने दोनों देशों के बीच डबल टैक्सेशन एवॉयडेंस एग्रीमेंट में संशोधन किया है। इसके बाद मॉरीशस के रास्ते भारत में आने वाले निवेश पर अब कड़ी नजर रहेगी। इससे विदेशी निवेश प्रभावित होने की आशंका है। इसका भी असर बाजार पर देखने को मिल रहा है।
  • क्रूड की कीमतों में उछाल : इजरायल पर ईरान के हमले के बाद कच्चे तेल की कीमतों में उछाल आया है। मिडिल ईस्ट में बढ़ते तनाव के बीच तेल की कीमतों पर इसका असर पड़ने की आशंका है। अगर दोनों देशों के बीच युद्ध होता है तो ब्रेंट क्रूड ऑयल का भाव 100 डॉलर प्रति बैरल के पार जा सकता है। अभी ही यह 90 डॉलर प्रति बैरल के आसपास पहुंच गया है। इसका भी असर भारतीय बाजार पर देखने को मिल रहा है।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Market News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement