1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. फायदे की खबर
  5. LPG सिलेंडर लेने के लिए 1 नवंबर से बदल रहे हैं नियम, जानिए क्‍या करना होगा अब आपको

LPG सिलेंडर लेने के लिए 1 नवंबर से बदल रहे हैं नियम, जानिए क्‍या करना होगा अब आपको

जिन ग्राहकों को एलपीजी सिलेंडर की होम डिलीवरी की जाएगी, उनके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर में एक कोड भेजा जाएगा।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: October 26, 2020 10:51 IST
LPG cylinder home delivery rules to change from 1 November- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

LPG cylinder home delivery rules to change from 1 November

नई दिल्‍ली। एक नवंबर,2020 से तरलीकृत पेट्रोलियम गैस (LPG) सिलेंडर की होम डिलीवरी के नियमों में बड़ा बदलाव होने जा रहा है। एलपीजी सिलेंडर बुक करने वाले उपभोक्‍ताओं को घर पर सिलेंडर की डिलीवरी लेने से पहले वन-टाइम पासवर्ड (OTP) बताना अनिवार्य होगा। तेल कंपनियों ने एलपीजी सिलेंडर की चोरी रोकने और सही ग्राहकों की पहचान करने के लिए एक नया सिस्टम बनाया है। इसमें होम डिलीवरी के लिए कंपनियां Delivery Authentication Code (DAC) लागू कर रही हैं। इसमें सिलेंडर की बुकिंग OTP के जरिये होगी। इस सिस्टम में अब सिर्फ बुकिंग कराने भर से काम नहीं चलेगा। यानी जब डिलीवरी मैन घर पहुंचेगा तो उसको OTP बताना होगा तभी सिलेंडर आपको मिलेगा।

एक पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर डिलीवरी ऑथेंटिकेशन कोड (Delivery Authentication Code -DAC) राजस्थान के जयपुर में पहले से ही चल रहा है। इसे शुरुआती दौर में देश के 100 स्मार्ट शहरों में लागू किया जाएगा। जिन ग्राहकों को एलपीजी सिलेंडर की होम डिलीवरी की जाएगी, उनके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर में एक कोड भेजा जाएगा। जब सिलेंडर डिलीवरी के लिए घर पर मिलेगा, तब ये OTP आपको डिलीवरी बॉय के साथ शेयर करना होगा। एक बार इस कोड का सिस्टम से मिलान करने के बाद ही ग्राहक को सिलेंडर की डिलीवरी की जाएगी। 

जिन ग्राहकों का मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड नहीं है, तो डिलीवरी पर्सन एक एप के जरिये इसे रियल टाइम अपडेट भी कर पाएगा और कोड जनरेट करेगा। इस प्रकार से ग्राहकों को कोड मिल जाएगा। ऑयल कंपनियों की तरफ से सभी ग्राहकों को सलाह दी गई है कि वो अपना नाम, पता और मोबाइल नंबर अपडेट करा लें ताकि उन्हें सिलेंडर की डिलीवरी लेने में किसी तरह की कठिनाइयों का सामना ना करना पड़े। हालांकि यह नियम कॉमर्शिय एलपीजी सिलेंडर के लिए लागू नहीं होगा।

वूड मैकेंजी रिपोर्ट के मुताबिक 2030 तक भारत चीन को पीछे छोड़कर दुनिया का सबसे बड़ा कुकिंग गैस एलपीजी घरेलू क्षेत्र बाजार बन जाएगा। बेहतर पर्यावरण और स्‍वास्‍थ्‍य के लिए सरकार भी निम्‍न-आय वर्ग के लोगों के लिए उज्‍जवला योजना लेकर आई है ताकि उन्‍हें खतरनाक धुएं से बचाने के लिए एलपीजी कनेक्‍शन दिया जा रहा है।

Write a comment