Wednesday, April 17, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. विषय

government banks न्यूज़

सरकारी बैंकों के स्टॉक्स पर दांव लगाने का शानदार मौका, इन बैंकों के शेयर खरीदने की सलाह दे रहे ब्रोकरेज हाउस

सरकारी बैंकों के स्टॉक्स पर दांव लगाने का शानदार मौका, इन बैंकों के शेयर खरीदने की सलाह दे रहे ब्रोकरेज हाउस

बाजार | Nov 09, 2022, 10:57 AM IST

आईआईएफएल सिक्योरिटीज में वाइस प्रेसिडेंट अनुज गुप्ता ने इंडिया टीवी को बाताया कि मजबूत फंडामेंटल वाले बैंक के शेयर हमेशा निवेशकों को फायदा कराते हैं।

प्राइवेट बैंक की तरह सरकारी बैंकों में मिलेगी झटपट सर्विस, सरकार ने सुधार के लिए उठाया यह बड़ा कदम

प्राइवेट बैंक की तरह सरकारी बैंकों में मिलेगी झटपट सर्विस, सरकार ने सुधार के लिए उठाया यह बड़ा कदम

बिज़नेस | Apr 24, 2022, 02:06 PM IST

छह कार्यसमूह सरकारी बैंकों की कार्यप्रणाली पर ध्यान देंगे और ग्राहक सेवा, डिजिटलीकरण, मानव संसाधन प्रोत्साहन, कॉरपोरेट शासन और सहयोग को बेहतर बनाने के तरीके सुझाएंगे।

आम बजट 2020: सरकारी बैंकों में और पूंजी डालने की घोषणा नहीं करेगी सरकार

आम बजट 2020: सरकारी बैंकों में और पूंजी डालने की घोषणा नहीं करेगी सरकार

बिज़नेस | Jan 05, 2020, 01:53 PM IST

सूत्रों के मुताबिक, 2020-21 में बैंक अपने गैर प्रमुख कारोबार की बिक्री कर भी धन जुटा सकते हैं। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण मोदी 2.0 सरकार का आम बजट एक फरवरी को पेश कर सकती हैं। 

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने अक्टूबर-नवंबर के दौरान रिकॉर्ड 4.9 लाख करोड़ रुपए का कर्ज बांटा

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने अक्टूबर-नवंबर के दौरान रिकॉर्ड 4.9 लाख करोड़ रुपए का कर्ज बांटा

बिज़नेस | Dec 03, 2019, 07:01 PM IST

वित्त मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने त्योहारों के दौरान अक्टूबर-नवंबर में रिकार्ड 4.91 लाख करोड़ रुपए के कर्ज बांटे।

22 अक्टूबर को बैंक कर्मियों की हड़ताल, SBI ने कहा- हमें फर्क नहीं पड़ेगा

22 अक्टूबर को बैंक कर्मियों की हड़ताल, SBI ने कहा- हमें फर्क नहीं पड़ेगा

बिज़नेस | Oct 15, 2019, 07:46 PM IST

सरकारी बैंक कर्मचारियों के 2 संगठनों ने अगले हफ्ते मंगलवार (22 अक्तूबर) को देशव्यापी हड़ताल का आह्वान किया है, जिससे देशभर में बैंकिंग सेवाएं प्रभावित होने की आशंका जताई जा रही है।

सरकारी बैंकों में सरकार डालेगी 55,250 करोड़ रुपये, जानिए किस बैंक को मिलेगा कितना पैसा

सरकारी बैंकों में सरकार डालेगी 55,250 करोड़ रुपये, जानिए किस बैंक को मिलेगा कितना पैसा

बिज़नेस | Aug 31, 2019, 06:47 AM IST

सरकार ने शुक्रवार को घोषणा की कि वह सरकारी बैंकों में 55,250 करोड़ रुपये डालेगी, ताकि कर्ज देने को बढ़ावा दिया जा सके और विलय किए जाने वाले कर्जदाताओं का विनियामक अनुपाल सुनिश्चित की जा सके। इससे पहले सरकार ने 10 सरकारी बैंकों का विलय कर चार बड़े बैंक बनाने की घोषणा की थी। 

सरकारी बैंकों में 70,000 करोड़ की पूंजी डालने से अर्थव्यस्था को मिलेगी रफ्तार : एसएंडपी

सरकारी बैंकों में 70,000 करोड़ की पूंजी डालने से अर्थव्यस्था को मिलेगी रफ्तार : एसएंडपी

बिज़नेस | Jul 08, 2019, 02:19 PM IST

आम बजट 2019-20 में सरकारी बैंकों को 70,000 करोड़ रुपये की पूंजी दिए जाने का प्रस्ताव उनकी ऋण देने की स्थिति मजबूत करेगा।

सरकारी बैंकों का NPA बहुत अधिक चिंता का विषय नहीं, जल्‍द होगा समाधान : गंगवार

सरकारी बैंकों का NPA बहुत अधिक चिंता का विषय नहीं, जल्‍द होगा समाधान : गंगवार

बिज़नेस | Apr 27, 2017, 04:51 PM IST

केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री संतोष गंगवार ने गुरुवार को कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के NPA की बड़ी मात्रा सरकार के लिए ज्यादा चिंता का विषय नहीं है।

सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को दिया आदेश, 1 नवंबर से पहले वेतन समीक्षा को दें अंतिम रूप

सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को दिया आदेश, 1 नवंबर से पहले वेतन समीक्षा को दें अंतिम रूप

बिज़नेस | Apr 09, 2017, 03:08 PM IST

वित्त मंत्रालय ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक प्रमुखों से अगली वेतन समीक्षा समय पर क्रियान्वित करने के लिए तौर-तरीकों को अंतिम रूप देने को कहा है।

PNB का शुद्ध लाभ 11.5 प्रतिशत घटकर हुआ 549 करोड़, देना बैंकों का 44 करोड़ का घाटा

PNB का शुद्ध लाभ 11.5 प्रतिशत घटकर हुआ 549 करोड़, देना बैंकों का 44 करोड़ का घाटा

बिज़नेस | Nov 05, 2016, 04:34 PM IST

PNB का शुद्ध लाभ 11.5 प्रतिशत घटकर 549.36 करोड़ रुपए रह गया। पिछले साल इसी अवधि में बैंक ने 621.03 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हासिल किया था।

सरकारी बैंकों की समस्या का समाधान विलय नहीं, मैनेजमेंट को ज्यादा अधिकार देने की जरूरत

सरकारी बैंकों की समस्या का समाधान विलय नहीं, मैनेजमेंट को ज्यादा अधिकार देने की जरूरत

बिज़नेस | Sep 21, 2016, 06:18 PM IST

सरकारी बैंकों के बढ़ते एनपीए की समस्या का समाधान पर एसोचैम ने कहा है कि इसका समाधान विलय नहीं बल्कि बैंक मैमेजमेंट को अधिक स्वतंत्रता देने से होगा।

Advertisement
Advertisement