1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के 8293 नए केस मिले, 62 और मरीजों की हुई मौत, जानिए- देशभर के आंकड़े

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के 8293 नए केस मिले, 62 और मरीजों की हुई मौत, जानिए- देशभर के आंकड़े

महाराष्ट्र में रविवार को भी कोविड-19 के 8,000 से अधिक नए मामले आए, जबकि 62 मरीजों की मौत हो जाने से साथ अब तक राज्य में 52,154 लोग इस संक्रमण से अपनी जान गंवा चुके हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 28, 2021 23:57 IST
महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के 8293 नए केस मिले, 62 और मरीजों की हुई मौत, जानिए- देशभर के आंकड़े- India TV Hindi
Image Source : AP महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के 8293 नए केस मिले, 62 और मरीजों की हुई मौत, जानिए- देशभर के आंकड़े

मुंबई: महाराष्ट्र में रविवार को भी कोविड-19 के 8,000 से अधिक नए मामले आए, जबकि 62 मरीजों की मौत हो जाने से साथ अब तक राज्य में 52,154 लोग इस संक्रमण से अपनी जान गंवा चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग यह जानकारी दी। विभाग के अनुसार, राज्य में संक्रमण के 8,293 नए मामले सामने आए। यह लगातार पांचवां दिन है जब राज्य में 8000 से अधिक नये मामले सामने आये। 

विभाग के मुताबिक, दिन में 3,753 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दी गयी और अबतक 20,24,704 मरीज संक्रमणमुक्त हो चुके हैं। राज्य में अब उपचाराधीन रोगियों की संख्या 77,008 है। राज्य भर में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के लिए 1,62,84,612 नमूनों की जांच की गई है, जिनमें 84,794 परीक्षण आज किये गये। 

विभाग के अनुसार, राज्य में मरीजों के स्वस्थ होने की दर 93.95 फीसद और संक्रमण दर 2.42 फीसद है। मुंबई में 1,061, पुणे में 790, अमरावती में 632 और नागपुर में 796 नए मामले सामने आए। ऐसे में हो सकता है कि आने वाले दिनों में राज्य के कुछ और क्षेत्रों में पाबंदिया या लॉकडाउन देखने को मिले।

संवाददाता सम्मेलन के दौरान मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से जब उनके द्वारा लोगों को पिछले सप्ताह दिये गये कोविड-19 नियमों का पालन करने या लॉकडाउन के लिए तैयार रहने के अल्टीमेटम के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘हम इच्छुक तो नहीं हैं लेकिन यदि ऐसा किसा जाता है तो मजबूर होकर ऐसा किया जाएगा।’’ 

विदर्भ क्षेत्र के कुछ शहरों एवं पुणे में कोविड-19 के बढते मामले के मद्देनजर पाबंदियां या लॉकडाउन नजर आया है। कई जगहों पर पाबंदियां लगा दी गई हैं। गौरतलब है कि फिलहाल महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनजर सबसे ज्यादा गंभीर स्थिति है।

क्या है देश में कोरोना की स्थिति?

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के उपचाराधीन मामले बढ़कर 1,64,511 हो गए हैं, जो कि देश में संक्रमण के कुल मामलों का 1.48 प्रतिशत है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को यह जानकारी दी साथ ही कहा कि पिछले 24 घंटे में छह राज्यों में संक्रमण के मामले तजी से बढ़े हैं। 

मंत्रालय के अनुसार संक्रमण के 86.37 प्रतिशत मामले महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, कर्नाटक, तमिलनाडु और गुजरात से हैं। देश में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 16,752 नए मामले सामने आए हैं। महाराष्ट्र में सर्वाधिक 8,623 मामले, केरल में 3,792 और पंजाब में 593 नए मामले सामने आए हैं। 

मंत्रालय ने कहा कि आठ राज्यों में संक्रमण के रोजाना मामले बढ़ने का क्रम जारी है। तेलंगाना, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, गुजरात, पंजाब, जम्मू कश्मीर और पश्चिम बंगाल सहित कई राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में संक्रमण के मामले बढ़ने के बाद कैबिनेट सचिव ने शनिवार को इन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के अधिकारियों के साथ एक उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की।

कैबिनेट सचिव ने दोहराया कि राज्यों को संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए निरंतर और सख्त निगरानी करने की आवश्यकता है ताकि पिछले वर्ष मिल कर किए गए कठिन परिश्रम के लाभ व्यर्थ न चले जाएं। मंत्रालय ने कहा कि राज्यों को अपनी निगरानी कम नहीं करने, कोविड नियंत्रण संबंधी उपाय दृढ़ता से लागू करने और उल्लंघनों से कड़ाई से निपटने की सलाह दी गयी है। 

केन्द्र ने केरल, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु , पश्चिम बंगाल,छत्तीसगढ़, पंजाब, मध्य प्रदेश, गुजरात और जम्मू कश्मीर में उच्च स्तरीय दल पदस्थापित किए हैं जो संक्रमण के मामलों में वृद्धि के कारणों का पता लगाएंगे और संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए राज्य तथा स्वास्थ्य विभाग के साथ मिल कर काम करेंगे।

सुबह सात बजे तक की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना वायरस टीके की 1,43,01,266 खुराकें 2,92,312 सत्रों में दी गई हैं। इसमें 66,69,985 स्वास्थ्यकर्मी (पहली खुराक), 24,56,191 स्वास्थ्यकर्मी (दूसरी खुराक) और अग्रिम मोर्चे के 51,75,090 कर्मचारियों को दी गई पहली खुराक शामिल है।

(इनपुट- भाषा)

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X