1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. दिल्ली में पोल्ट्री उत्पादों की बिक्री पर रोक, अंडा-चिकेन अच्छी तरह पकाकर खाने की सलाह; UP में आए बर्डफ्लू के मामले

दिल्ली में पोल्ट्री उत्पादों की बिक्री पर रोक, अंडा-चिकेन अच्छी तरह पकाकर खाने की सलाह; उत्तर प्रदेश में आए बर्डफ्लू के मामले

उत्तर प्रदेश में पक्षियों की मौत के नए मामले आए हैं और बर्ड फ्लू संक्रमण की पुष्टि हुई है, वहीं दिल्ली में नगर निगमों ने पोल्ट्री उत्पादों की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया है। दिल्ली सरकार ने लोगों से नहीं घबराने और अंडा तथा चिकेन को अच्छी तरह पकाकर खाने की सलाह दी है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 13, 2021 21:58 IST
Sale of poultry products banned in Delhi; bird flu cases reported in UP- India TV Hindi
Image Source : PTI दिल्ली सरकार ने लोगों से नहीं घबराने और अंडा तथा चिकेन को अच्छी तरह पकाकर खाने की सलाह दी है।

नयी दिल्ली: उत्तर प्रदेश में पक्षियों की मौत के नए मामले आए हैं और बर्ड फ्लू संक्रमण की पुष्टि हुई है, वहीं दिल्ली में नगर निगमों ने पोल्ट्री उत्पादों की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया है। दिल्ली सरकार ने लोगों से नहीं घबराने और अंडा तथा चिकेन को अच्छी तरह पकाकर खाने की सलाह दी है। केंद्रीय मत्स्य, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय के एक बयान के मुताबिक झारखंड और जम्मू कश्मीर के कुछ जिलों से भी पक्षियों की मौत के मामले आए हैं। मंत्रालय ने राज्य सरकारों से पोल्ट्री उत्पादों की आपूर्ति पर पाबंदी नहीं लगाने को कहा है। मंत्रालय के मुताबिक अब तक दिल्ली, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, केरल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र और गुजरात में बर्ड फ्लू के मामलों की पुष्टि हुई है। 

मंत्रालय ने कहा, ‘‘पक्षियों की अप्राकृतिक मौत के मामले जम्मू कश्मीर के गांदेरबल और झारखंड के चार जिलों से भी आए हैं।’’ मंत्रालय ने कहा कि अनेक राज्य दूसरे राज्यों से पोल्ट्री उत्पादों की आपूर्ति पर प्रतिबंध लगा रहे हैं। पोल्ट्री उद्योग पर इसके नकारात्मक प्रभाव को देखते हुए राज्यों से ऐसे निर्णय पर फिर से विचार करने का अनुरोध किया गया है। राष्ट्रीय राजधानी में उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी), पूर्वी दिल्ली नगर निगम (ईडीएमसी) और दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) ने दुकानों और रेस्तराओं के पोल्ट्री या प्रसंस्कृत 'चिकन' बेचने तथा रखने पर रोक लगा दी। 

इससे पहले सोमवार को दिल्ली सरकार ने शहर के बाहर से लाए गए प्रसंस्कृत और पैक चिकन की बिक्री पर रोक लगा दी थी। दिल्ली में मृत मिले कौओं और बत्तखों के नमूनों में सोमवार को बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई थी, जिसके बाद यह कदम उठाया गया। निगम के पशु चिकित्सा सेवा विभाग की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि ग्राहकों को अंडा आधारित व्यंजन या पोल्ट्री मांस तथा अन्य संबंधित उत्पाद परोसे जाने पर रेस्तरां और होटलों के मालिकों को कार्रवाई का सामना करना होगा। बीते एक सप्ताह में पूर्वी दिल्ली के संजय झील इलाके में कई बत्तखें और शहर के अलग-अलग पार्कों में बड़ी संख्या में कौए मृत मिले हैं। 

दिल्ली सरकार के पशुपालन विभाग की हेल्पलाइन को मंगलवार को 50 से ज्यादा मृत पक्षियों की सूचनाएं मिली। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने शहर में बर्ड फ्लू के मामलों के मद्देनजर एक परामर्श जारी किया जिसमें लोगों से नहीं घबराने और अधपका चिकन, आधा उबला या आधा तला हुआ अंडा नहीं खाने समेत दिशा-निर्देशों के पालन की अपील की गई है। दिल्ली के स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय (डीजीएचएस) द्वारा जारी परामर्श में कहा गया है, "एच5एन8 पक्षियों के लिए अत्यधिक संक्रामक होता है, लेकिन मनुष्यों में इसके प्रभाव के साथ-साथ एवियन इन्फ्लूएंजा (एएच5एन8) वायरस के संक्रमण की आशंका कम होती है।" 

परामर्श में कहा गया, "30 मिनट तक 70 डिग्री सेल्सियस पर पूरी तरह पकाए गए अंडे और पॉल्ट्री उत्पाद को ही खाएं। आधा-पका हुआ चिकन या आधा उबला हुआ और आधा तला हुआ अंडा नहीं खाएं।" परामर्श में कहा गया कि पके हुए मांस के पास कच्चे मांस को न रखें। कच्चे पोल्ट्री उत्पादों को छूने के बाद अच्छी तरह हाथ धोएं। व्यक्तिगत स्वच्छता का ध्यान रखें और आसपास में सफाई बनाए रखें। उत्तर प्रदेश के जालौन जिले में कुछ पक्षियों की मौत के बाद प्रशासन सतर्क हो गया है। कानपुर में मरे पाए गए चार में से दो कौओं में बर्ड फ्लू संक्रमण की पुष्टि होने के बाद जिला प्रशासन ने निगरानी का काम और तेज कर दिया है। 

जालौन में पांच पक्षी मृत पाए गए थे और उनके नमूनों को जांच के लिए भेजा गया जबकि फतेहपुर में दो मोर का कंकाल मिला। हालांकि अधिकारियों ने बर्ड फ्लू से मोरों की मौत की आशंका से इनकार किया। जालौन के पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. विपिन सचान ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक अत्यधिक ठंड से पक्षियों की मौत हुई। बर्ड फ्लू के मद्देनजर महाराष्ट्र में ठाणे के जिलाधिकारी राजेश नर्वेकर ने वन विभाग को जिले में प्रवासी पक्षियों के लिए दलदली जमीन वाले इलाके में खास ध्यान रखने को कहा है। उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक में कहा कि बर्ड फ्लू की स्थिति की निगरानी के लिए जिले में सात टीमें तैनात की गयी है और एक नियंत्रण कक्ष बनाया गया है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X