Jammu Kashmir News: मुफ्ती नौमान ने इस्लाम के बारे में सवाल पूछने पर एक व्यक्ति को मारा थप्पड़, सोशल मीडिया पर वीडियो हुआ था वायरल

Jammu Kashmir News: रईस के मुताबिक मुफ्ती नौमान बारामूला जिले के रहने वाले हैं और श्रीनगर में कुरान पढ़ाते हैं। रईस ने आगे बताया कि मुफ्ती नौमान पहले भी कई विवादित बयानों की वजह से चर्चा में रहे हैं।

Reported By : Manzoor Mir Written By : Shailendra Tiwari Updated on: July 19, 2022 19:40 IST
Mufti Nauman slaps a person for asking question about islam- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV Mufti Nauman slaps a person for asking question about islam

Highlights

  • 14 जुलाई की बताई जा रही है घटना
  • मुफ्ती नौमान ने बरेलवी मौलवियों को गलत ठहराते हुए कहा था काफिर
  • इस्लामी जानकारों ने मामले में कोई टिप्पणी या बयान देने पर फिलहाल लगा दी है रोक

Jammu Kashmir News: सोशल मीडिया पर तेजी से एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें श्रीनगर के मुफ्ती नौमान एक व्यक्ति को थप्पड़ मारते नजर आ रहे हैं। दरअसल व्यक्ति ने इस्लाम के बारे में सवाल पूछा था जिस पर मुफ्ती नौमान भड़क गए और उन्होंने शख्स को थप्पड़ मार दिया। वीडियो वायरल होने के बाद, ग्रैंड मुफ्ती जम्मू-कश्मीर सहित कई उलेमा और इस्लामी स्कॉलरों ने इसकी निंदा की और कहा कि इस्लाम किसी को भी चोट पहुंचाना नहीं सिखाता है।

पीड़ित का नाम रईस अहमद है

वीडियो के वायरल होने के बाद हमने पता किया कि पीड़ित अनंतनाग जिले के कोकरनाग का रहने वाला है और उसका नाम रईस अहमद है। इंडिया टीवी से बात करते हुए रईस अहमद ने कहा कि मुफ्ती नौमान से यह उसकी दूसरी मुलाकात थी। पहले मुफ्ती नौमान को बरेलवी और देवबंद के धार्मिक मसले की समानता पर बात करने के लिए आमंत्रित किया था जो कि खुशी-खुशी सम्पन्न हो गया था।

14 जुलाई को हुई थी दूसरी मुलाकात

रईस ने बताया कि 14 जुलाई को यह हमारी दूसरी मुलाकात थी, मुलाकात हकूरा अनाटनाग की एक मस्जिद में हुई थी जहां मुफ्ती नौमान ने मेरे अन्य दो दोस्तों के साथ मुझे आमंत्रित किया था। रईस के मुताबिक मुफ्ती नौमान ने बरेलवी मौलवियों को गलत ठहराया और काफिर कहा। जब मैंने इसका विरोध किया तो मुफ्ती ने अपना नियंत्रण खो दिया और मुझे थप्पड़ मार दिया और फिर मुझे मस्जिद से खींच कर बाहर कर दिया।

"इस्लाम नहीं सिखाता किसी को ठेस पहुंचाना या अपमानित करना"

रईस ने आगे कहा कि इस्लाम हमें किसी को ठेस पहुंचाना या अपमानित करना नहीं सिखाता इस नाते मौलवी नौमान को सबके सामने माफी मांगनी चाहिए और अपनी गलती स्वीकार करनी चाहिए। बहुत से लोग आए और मुझसे कहा कि मौलवी नौमान के खिलाफ FIR दर्ज करो और अपमान का मामला दर्ज कराओ लेकिन मेरे शिक्षकों ने कहा कि इसे व्यक्तिगत न बनाएं और हम इसे शांति से हल करेंगे।

रईस ने मांग करते हुए कहा कि "अब मैं चाहता हूं कि मौलवी नौमान माफी मांगें और जो उन्होंने किया उसे स्वीकार करें।"

श्रीनगर में कुरान पढ़ाते हैं मुफ्ती नौमान

रईस के मुताबिक मुफ्ती नौमान बारामूला जिले के रहने वाले हैं और श्रीनगर में कुरान पढ़ाते हैं। रईस ने आगे बताया कि मुफ्ती नौमान पहले भी कई विवादित बयानों की वजह से चर्चा में रहे हैं। आपको बता दें कि वायरल वीडियो और मुफ्ती नौमान का बयान सामने आने के बाद नौमान का फोन लगातार स्विच ऑफ आ रहा है।

जानकारी के मुताबिक कश्मीर के कई बड़े इस्लामी जानकारों ने इस मामले में कोई टिप्पणी या बयान देने पर फिलहाल रोक लगा दी है ताकी किसी भी तरह का कोई विवाद आगे न बढ़े।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन