1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. अमेरिकन एयरलाइंस ने दी चेतावनी, 25000 कर्मचारियों की जा सकती है नौकरी

अमेरिकन एयरलाइंस ने दी चेतावनी, 25000 कर्मचारियों की जा सकती है नौकरी

एयरलाइन के सीईओ डग पार्कर और अध्यक्ष रॉबर्ट इसोम ने कर्मचारियों को भेजे नोटिस में कहा कि उन्हें छंटनी से बचे जाने की उम्मीद है, क्योंकि महामारी का प्रकोप कम पड़ने से एक अक्टूबर तक हवाई यात्रा की मांग में तेजी आने का अनुमान है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: July 16, 2020 14:09 IST
American Airlines warns 25,000 workers they could lose jobs- India TV Paisa
Photo:GOOGLE

American Airlines warns 25,000 workers they could lose jobs

डलास। अमेरिकन एयरलाइंस ने लगभग 25,000 कर्मचारियों को सूचित किया है कि कोरोना वायरस महामारी के चलते हवाई यात्रा की मांग में भारी कमी के कारण अक्टूबर में उनकी नौकरियों को खत्म किया जा सकता है। अमेरिकन एयरलाइंस के शीर्ष अधिकारियों ने बुधवार को कहा कि यदि पर्याप्त संख्या में श्रमिक दो साल तक के लिए आंशिक भुगतान के साथ अवकाश ले लेते हैं, तो यह छंटनी कम हो सकती है।

एयरलाइन के सीईओ डग पार्कर और अध्यक्ष रॉबर्ट इसोम ने कर्मचारियों को भेजे नोटिस में कहा कि उन्हें छंटनी से बचे जाने की उम्मीद है, क्योंकि महामारी का प्रकोप कम पड़ने से एक अक्टूबर तक हवाई यात्रा की मांग में तेजी आने का अनुमान है।

महामारी के चलते मंदी से एशिया-प्रशांत की कंपनियों पर पड़ेगा दबाव

क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने बृहस्पतिवार को कहा कि कोरोना वायरस महामारी के कारण आई वैश्विक मंदी एशिया-प्रशांत क्षेत्र की गैर-वित्तीय कंपनियों पर दबाव डालना जारी रखेगी। उसने कहा कि नकारात्मक ऋण रुझान 2020 की बाकी अवधि में भी जारी रहेगा।

उसने कहा कि हालांकि, उन्नत और उभरते दोनों बाजारों में राजकोषीय और मौद्रिक प्रोत्साहन कार्यक्रमों ने वित्तीय बाजारों को स्थिर करने में मदद की है और कंपनियों को अस्थायी राहत प्रदान की है। उसने कहा कि कंपनियों के परिचालन प्रदर्शन और वित्तपोषण की क्षमता वित्तीय बाजार के झटके की चपेट में है, खासकर यदि संक्रमण की एक दूसरी लहर के कारण नए सिरे से लॉकडाउन लगाए जाते हैं।

मूडीज समूह की क्रेडिट ऑफिसर एवं वरिष्ठ उपाध्यक्ष क्लारा लाउ ने कहा कि हमारा अनुमान है कि इस मंदी से उबरने में लंबा समय लगेगा। हालांकि लॉकडाउन की पाबंदियों में ढील से साल की दूसरी छमाही में क्रमिक वापसी को समर्थन मिलना चाहिए। इस बीच मूडीज ने तीन सरकारी बीमा कंपनियों में सरकार के द्वारा 12,450 करोड़ रुपए की पूंजी डाले जाने को क्रेडिट पॉजिटिव बताया। 

Write a comment
X