1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. भारतीय अर्थव्यवस्था 2021-22 में दहाई अंक में वृद्धि हासिल करने को तैयार: पीएचडी चैंबर

भारतीय अर्थव्यवस्था 2021-22 में दहाई अंक में वृद्धि हासिल करने को तैयार: पीएचडी चैंबर

वित्त वर्ष 2021-22 में 10.25 प्रतिशत के साथ दहाई अंक की जीडीपी वृद्धि का अनुमान है, जो सरकार की प्रभावी नीतियों, आरबीआई के उदार रुख और देश में बेहतर कारोबारी भावनाओं द्वारा समर्थित है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: October 11, 2021 21:28 IST
भारतीय अर्थव्यवस्था 2021-22 में दहाई अंक में वृद्धि हासिल करने को तैयार: पीएचडी चैंबर- India TV Hindi News
Photo:PTI

भारतीय अर्थव्यवस्था 2021-22 में दहाई अंक में वृद्धि हासिल करने को तैयार: पीएचडी चैंबर

नयी दिल्ली: उद्योग मंडल पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (पीएचडीसीसीआई) ने सोमवार को कहा कि सरकार की प्रभावी नीतियों, भारतीय रिजर्व बैंक के उदार नीतिगत रुख और बेहतर कारोबारी धारणा के चलते अर्थव्यवस्था वित्त वर्ष 2021-22 में सकल घरेलू उत्पाद की 10.25 प्रतिशत वृद्धि हासिल करने की दिशा में बढ़ रही है।

रिजर्व बैंक ने पिछले सप्ताह चालू वित्त वर्ष में वृद्धि दर के पूर्वानुमान को 9.5 प्रतिशत पर बरकरार रखा और वैश्विक स्तर पर सेमीकंडक्टर की कमी, जिंस कीमतों में वृद्धि और वैश्विक वित्तीय बाजार में उतार-चढ़ाव की आशंका को आर्थिक वृद्धि के लिए नकारात्मक जोखिम के रूप में चिह्नित किया था। 

पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के अध्यक्ष प्रदीप मुल्तानी ने कहा, ‘‘वित्त वर्ष 2021-22 में 10.25 प्रतिशत के साथ दहाई अंक की जीडीपी वृद्धि का अनुमान है, जो सरकार की प्रभावी नीतियों, आरबीआई के उदार रुख और देश में बेहतर कारोबारी भावनाओं द्वारा समर्थित है।’’

उद्योग मंडल ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामलों में गिरावट, तेज टीकाकरण अभियान, उपभोक्ता और व्यावसायिक भरोसे में सुधार, आगामी त्योहारों में प्रत्याशित रूप से भारी मांग आने वाले महीनों में आर्थिक सुधार की गति को और बढ़ाएगी।

Latest Business News

Write a comment