1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. SBI जनरल इंश्योरेंस का कर पश्चात लाभ पहली छमाही में 53 प्रतिशत बढ़ा

SBI जनरल इंश्योरेंस का कर पश्चात लाभ पहली छमाही में 53 प्रतिशत बढ़ा

कंपनी ने बताया कि समीक्षाधीन अवधि में उसका अंडरराइटिंग मुनाफा 56 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले की समान अवधि में 37 करोड़ रुपये था।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: October 28, 2020 15:47 IST
SBI General Insurance H1 PAT grows 53 pc to Rs 300 cr- India TV Paisa
Photo:SBI

SBI General Insurance H1 PAT grows 53 pc to Rs 300 cr

नई दिल्‍ली। निजी क्षेत्र की सामान्य बीमा कंपनी एसबीआई जनरल इंश्योरेंस ने बताया कि चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में उसका कर पश्चात लाभ 53 प्रतिशत बढ़कर 300 करोड़ रुपये हो गया। कंपनी ने बताया कि पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में उसका कर पश्चात लाभ 196 करोड़ रुपये था। बीमा कंपनी ने एक विज्ञप्ति में बताया कि उसकी कुल लिखित प्रीमियम (जीडब्ल्यूपी) अप्रैल-सितंबर में 17 प्रतिशत बढ़कर 3,658 करोड़ रुपये हो गई, जो कि एक साल पहले की समान अवधि में 3,118 करोड़ रुपये थी।

कंपनी ने बताया कि समीक्षाधीन अवधि में उसका अंडरराइटिंग मुनाफा 56 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले की समान अवधि में 37 करोड़ रुपये था। बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ पी सी कांडपाल ने कहा कि हमारे मजबूत वितरण नेटवर्क और विविध उत्पादों की मदद से हमने 17 प्रतिशत की वृद्धि दर हासिल की, जबकि उद्योग की वृद्धि दर 1.6 प्रतिशत रही। हमें इस साल 20 प्रतिशत वृद्धि की उम्मीद है।

गुडइयर ने भारत में ऑटोमोटिव लुब्रिकेंट्स खंड में प्रवेश किया

अमेरिकी टायर कंपनी गुडइयर ने बुधवार को कहा कि उसने भारत के ऑटोमोटिव लुब्रिकेंट्स खंड में प्रवेश किया है। कंपनी ने इंजन ऑयल की नई श्रृंखला के लिए सत्या ग्रुप तहत आने वाले एश्योरेंस इंटरनेशनल के साथ समझौता किया है। कंपनी ने बताया कि उसके लुब्रिकेंट्स उत्पाद सभी तरह के वाहनों के लिए होंगे, जिसमें वाणिज्यिक वाहन, यात्री वाहन और दोपहिया वाहन शामिल हैं।

इसके अलावा गुडइयर द्वारा पेश किए जा रहे अन्य उत्पादों में ग्रीस, ब्रेक फ्लूअड, ट्रांसमिशन ऑयल, ट्रैक्टर तेल, गियर ऑयल और हाइड्रोलिक ऑयल शामिल हैं। इन उत्पादों के लिए गुडइयर अनुसंधान और विकास (आरएंडडी) सहायता प्रदान करेगा, जबकि गुड़गांव स्थित एश्योरेंस इंटरनेशनल के जिम्मे विनिर्माण, विपणन और वितरण का काम होगा।

एश्योरेंस इंटरनेशनल बिक्री के बाद उपभोक्ताओं को जरूरी सहायता भी मुहैया कराएगी। गुडइयर इंडिया के कंट्री हेड (बिक्री और विपणन) संजय शर्मा ने पीटीआई-भाषा को बताया कि भारत ऑटोमोटिव लुब्रिकेंट खपत के मामले में दुनिया के शीर्ष तीन देशों में शामिल है, जिसके चलते कंपनी ने इस खंड में प्रवेश का फैसला किया।

Write a comment