1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Uber ने बंद किया मुंबई में अपना ऑफ‍ि‍स, यात्रियों के लिए कैब सेवा नहीं होगी प्रभावित

Uber ने बंद किया मुंबई में अपना ऑफ‍ि‍स, यात्रियों के लिए कैब सेवा नहीं होगी प्रभावित

कंपनी ने दुनियाभर में 6700 फुल टाइम कर्मचारियों की छंटनी करने की घोषणा की है। इसके अलावा अधिकारियों व कर्मचारियों की यात्रा पर भी प्रतिबंध लगाए गए हैं। नई भर्तियों पर पूरी तरह से रोक लगाई गई है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: July 04, 2020 8:59 IST
Uber shuts Mumbai office; services for riders to remain unaffected- India TV Paisa
Photo:GOOGLE

Uber shuts Mumbai office; services for riders to remain unaffected

नई दिल्‍ली। ऑनलाइन कैब बुकिंग सेवा देने वाली उबर ने रिस्‍ट्रक्‍चरिंग के तहत मुंबई में अपना ऑफ‍िस बंद कर दिया है। सूत्रों ने बताया कि ऑफ‍िस बंद होने के बावजूद शहर में कैब सर्विस पर कोई असर नहीं पड़ेगा और वह पहले की तरह ही चालू रहेगी। हालांकि शहर में कंपनी की कैब सर्विस इस फैसले से अप्रभावित रहेगी। संपर्क करने पर उबर के प्रवक्‍ता ने कहा कि उबर मुंबई में अपने सभी यात्रियों को निरंतर उच्‍च स्‍तर की सेवा उपलब्‍ध कराती रहेगी।

सूत्रों ने बताया कि मुंबई ऑफ‍िस बंद करने का फैसला वैश्विक रिस्‍ट्रक्‍चरिंग योजना का हिस्‍सा है। मई में, उबर के सीईओ दारा खोसरोसी ने कर्मचारियों को सूचना दी थी कि प्रबंधन ने दुनियाभर में अपने 45 ऑफ‍िस बंद करने का फैसला किया है।

एक सूत्र ने बताया कि अधिकांश कर्मचारियों को कोरोना वायरस महामारी के दौरान घर से काम करने की सुविधा दी जा रही है ता‍कि वह सर्विस को सपोर्ट प्रदान कर सकें। अभी तक इस बात की कोई पुष्टि नहीं हो पाई है कि मुंबई ऑफ‍िस बंद होने से किसी तरह की छंटनी भी की जाएगी।

उबर के पास गुरुग्राम में एक बह़त बड़ा ऑफ‍िस है। इसके अलावा बेंगलुरु और हैदराबाद में टेक्‍नोलॉजी सेंटर्स भी हैं। इसके अलावा कई शहरों में इसके छोटे-छोटे सपोर्ट ऑफ‍िस भी हैं। मई में, उबर ने कहा था कि वह भारत में 600 कर्मचारियों की छंटनी करेगी, जिसमें ड्राइवर और राइडर सपोर्ट ऑपरेशन के लोग भी शामिल हैं। उबर के भारत में लगभग 2500 कर्मचारी हैं। कोरोना वायरस की वजह से कंपनी के कारोबार पर बुरा असर पड़ा है।

कंपनी ने दुनियाभर में 6700 फुल टाइम कर्मचारियों की छंटनी करने की घोषणा की है। इसके अलावा अधिकारियों व कर्मचारियों की यात्रा पर भी प्रतिबंध लगाए गए हैं। नई भर्तियों पर पूरी तरह से रोक लगाई गई है।

Write a comment
X