1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. गैजेट
  5. TikTok ने अपना मुख्‍यालय लंदन में बनाने की बातचीत को किया रद्द, चीन से बाहर निकलने की है योजना

TikTok ने अपना मुख्‍यालय लंदन में बनाने की बातचीत को किया रद्द, चीन से बाहर निकलने की है योजना

एक अमेरिकी अखबार ने भी इस बात की पुष्टि की है कि टिकटॉक भारत और अमेरिका सहित अन्य देशों में हो रहे विरोध के कारण चीन से बाहर निकलने की योजना पर काम कर रही है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: July 20, 2020 15:58 IST
TikTok has halted its talks with British government over moving its headquarters to London- India TV Paisa
Photo:GOOGLE

TikTok has halted its talks with British government over moving its headquarters to London

लंदन। चीन के बीजिंग में स्थित डेवलपर कंपनी यूनीकॉर्न बाइटडांस द्वारा निर्मित शॉर्ट वीडियो-शेयरिंग एप टिकटॉक के बारे में ऐसा बताया जा रहा है कि इसने लंदन में वैश्विक मुख्यालय खोलने की बात को रोक दिया है।

एक सूत्र के हवाले से द संडे टाइम्स में पेश की गई रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रिटेन के अंतरराष्‍ट्रीय व्यापार विभाग के साथ महीनों बातचीत के बाद बाइटडांस ने व्यापक भू-राजनीतिक संदर्भ के चलते चर्चा को रोक दिया है। वो लंदन में 3000 कर्मचारियों के साथ अपना मुख्‍यालय खोलने के लिए बातचीत कर रही थी।

ब्रिटेन सरकार द्वारा अगले साल से 5जी के लिए नई हुवावे किट्स की खरीदारी पर प्रतिबंध लगाए जाने और यह कहने कि साल 2027 के अंत तक चीन की इस बड़ी दूरसंचार कंपनी के उपकरण 5जी नेटवर्क्‍स से पूरी तरह से हटा दिए जाएंगे, के मुश्किल से एक हफ्ते बाद ही अब यह खबर आई है। इससे इस बात की आशंका जताई जा रही है कि इस कदम से चीन को कड़ी प्रतिक्रिया मिल सकती है, जिससे दोनों देशों के बीच टिट फॉर टैट की रणनीति पर ट्रेड वॉर के शुरू होने का खतरा है।

सुरक्षा विशेषज्ञों द्वारा इसके डेटा साझा करने के तरीकों को फ्लैग किए जाने और चीनी राज्य के साथ इसके कथित संबंध होने के बाद टिकटॉक चीन के बाहर अपने व्यापार के लिए एक नए वैश्विक मुख्यालय खोलने का प्रयास कर रही है।

हालांकि टिकटॉक ने इन आरोपों को मानने से इंकार कर दिया है। टिकटॉक उन 59 चीनी ऐप्स में से हैं, जिन पर 29 जून से भारत में प्रतिबंध लगा दिया। अमेरिका में डोनाल्ड ट्रम्प की सरकार भी टिकटॉक पर प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रही है। एक अमेरिकी अखबार ने भी इस बात की पुष्टि की है कि टिकटॉक भारत और अमेरिका सहित अन्‍य देशों में हो रहे विरोध के कारण चीन से बाहर निकलने की योजना पर काम कर रही है।

Write a comment
X