1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. बजाज आटो का मुनाफा सितंबर तिमाही में 19% गिरकर 1138 करोड़ रुपये

बजाज आटो का मुनाफा सितंबर तिमाही में 19% गिरकर 1138 करोड़ रुपये

वहीं कंसोलिडेटेड प्रॉफिट 21.62 प्रतिशत गिरकर 1,194 करोड़ रुपये रह गया। कंपनी को साल भर पहले इसी तिमाही में 1,523 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। कंपनी की बिक्री साल भर पहले के मुकाबले 10 प्रतिशत कम रही है। हालांकि, इस दौरान घरेलू दोपहिया वाहनों की बिक्री छह प्रतिशत बढ़ी है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: October 22, 2020 18:11 IST
बजाज ऑटो का सितंबर...- India TV Paisa
Photo:PTI

बजाज ऑटो का सितंबर तिमाही में मुनाफा 19% गिरा

नई दिल्ली। वाहन विनिर्माता कंपनी बजाज ऑटो के सितंबर तिमाही के दौरान स्टैंडअलोन प्रॉफिट में पिछले साल के मुकाबले 19 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है और ये 1138 करोड़ रुपये के स्तर पर पहुंच गया। वहीं कंसोलिडेटेड प्रॉफिट 21.62 प्रतिशत गिरकर 1,194 करोड़ रुपये रह गया। कंपनी को साल भर पहले इसी तिमाही में 1,523 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। कंपनी ने बृहस्पतिवार को इसकी जानकारी दी। कंपनी की तिमाही के दौरान ऑपरेशंस से आय साल भर पहले के 7,707 करोड़ रुपये से कम होकर 7,156 करोड़ रुपये रह गया। वहीं कुल टर्नओवर में तिमाही के दौरान 8 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है। पिछले साल के मुकाबले दूसरी तिमाही में कंपनी का ऑपरेटिंग प्रॉफिट 1 फीसदी की गिरावट के साथ 1233 करोड़ रुपये रहा है।

मौजूदा वित्त वर्ष के पहले 6 महीने में कंपनी के प्रॉफिट में 34 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है। वहीं ऑपरेटिंग प्रॉफिट 34 फीसदी गिर गया। पहली छमाही में ऑपरेशंस से आय 34 फीसदी और टर्नओवर 33 फीसदी गिरा है। इस दौरान कंपनी की बिक्री भी साल भर पहले के 11,73,591 इकाइयों से 10 प्रतिशत कम होकर 10,53,337 इकाइयों पर आ गयी। हालांकि, इस दौरान घरेलू दोपहिया वाहनों की बिक्री छह प्रतिशत बढ़कर 5,50,194 इकाइयों पर पहुंच गयी। इस दौरान एक्सपोर्ट में 12 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है। एक्सपोर्ट पिछले साल के मुकाबले 5.44 लाख यूनिट से घटकर 4.79 लाख यूनिट पर पहुंच गए हैं। वहीं पहली छमाही में कुल बिक्री 38 फीसदी घटी है। वहीं इस दौरान घरेलू बिक्री में 42 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है। बजाज आटो ने कहा कि दूसरी तिमाही में उद्योग में सात प्रतिशत की वृद्धि दर्ज गई और कंपनी की वृद्धि उद्योग के अनुरूप रही है। ‘‘चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में हमारी बाजार हिस्सेदारी 18.2 प्रतिशत रही जो कि एक साल पहले पहली छमाही में 18.1 प्रतिशत रही थी।’’

Write a comment