1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. TCS का स्टॉक नये रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा, मार्केट कैप 13 लाख करोड़ रुपये के पार

TCS का स्टॉक नये रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा, मार्केट कैप 13 लाख करोड़ रुपये के पार

मंगलवार को स्टॉक 2.32 प्रतिशत की बढ़त के साथ 3552.40 के स्तर पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान स्टॉक 3560.25 के स्तर तक पहुंचा जो कि स्टॉक का रिकॉर्ड उच्च स्तर है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: August 17, 2021 18:22 IST
टीसीएस मार्केट कैप 13...- India TV Paisa
Photo:FILE

टीसीएस मार्केट कैप 13 लाख करोड़ के पार

नई दिल्ली। आईटी सेक्टर की दिग्गज कंपनी टीसीएस के स्टॉक में बढ़त का सिलसिला जारी है। आज कंपनी का स्टॉक और कंपनी का मार्केट कैप नये रिकॉर्ड स्तरों पर पहुंच गया है। मंगलवार के कारोबार में स्टॉक 2.32 प्रतिशत की बढ़त के साथ बंद हुआ है।

रिकॉर्ड स्तरों पर पहुंचा स्टॉक

आज के कारोबार में स्टॉक 2.32 प्रतिशत की बढ़त के साथ 3552.40 के स्तर पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान स्टॉक 3560.25 के स्तर तक पहुंचा जो कि स्टॉक का रिकॉर्ड उच्च स्तर है। आज के कारोबार में स्टॉक 3484.45 के स्तर पर खुला था। वहीं कुछ समय लाल निशान में रहने के दौरान स्टॉक 3464 के स्तर तक गिरा। बीते एक साल के दौरान स्टॉक का निचला स्तर 2,217.05 रहा है। यानि इस दौरान स्टॉक में अधिकतम 60.5 प्रतिशत की बढ़त देखने को मिली है। 

13 लाख करोड़ रुपये के ऊपर पहुंचा बाजार मूल्य
इसके साथ ही टीसीएस का मार्केट कैप भी नये रिकॉर्ड स्तरों को पार कर गया। आज के बंद भाव के आधार पर कंपनी का बाजार मूल्य 13,14,051 करोड़ रुपये रहा है। कंपनी ने जनवरी में ही 12 लाख करोड़ रुपये के बाजार मूल्य का स्तर हासिल किया था। टीसीएस के अलावा सिर्फ रिलायंस इंडस्ट्रीज ही ऐसी कंपनी है जिसका बाजार मूल्य 13 लाख करोड़ रुपये के पार है।  वहीं इन्हीं दो कंपनियां का बाजार मूल्य 10 लाख करोड़ रुपये के पार है। देश की 46 कंपनियों का बाजार मूल्य एक लाख करोड़ रुपये या उससे ज्यादा है। वहीं 5 कंपनियों का बाजार मूल्य 5 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा और 2 कंपनियों का बाजार मूल्य 10 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा है।

टीसीएस का मुनाफा 28 प्रतिशत बढ़ा
टीसीएस का एकीकृत शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही अप्रैल-जून में 28.5 प्रतिशत उछलकर 9,008 करोड़ रुपये रहा। कंपनी ने कहा कि कोविड-19 की दूसरी लहर से घरेलू कारोबार पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा, जिससे कुल वृद्धि प्रभावित हुई। देश की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर सेवा प्रदाता कंपनी को इससे पूर्व वित्त वर्ष 2020-21 की इसी तिमाही में 7,008 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। 

यह भी पढ़ें: सैमसंग देगी 50 हजार युवाओं को रोजगार के लिये प्रशिक्षण, NSDC से किया करार

Write a comment
Click Mania
Modi Us Visit 2021