1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. फायदे की खबर
  5. 35 लाख रुपए जीतने का मौका, डिजिटल पेमेंट को लेकर फीचर फोन की दूर करनी होगी ये कमी

35 लाख रुपए जीतने का मौका, डिजिटल पेमेंट को लेकर फीचर फोन की दूर करनी होगी ये कमी

डिजिटल ट्रांजक्शन को भारत में बढ़ावा देने के लिए माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर और दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बिल गेट्स ने फीचर फोन यूजर्स के लिए एक पेमेंट सिस्टम तैयार करने की प्रतियोगिता रखी है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: January 04, 2020 13:11 IST
digital payment, UPI, Feature phone, Prize, NPCI, bill gates- India TV Paisa

35 लाख रुपए जीतने का मौका

नई दिल्ली। यदि आपके पास फोन है और आप 35 लाख रुपए जीतना चाहते हैं तो आपको बस एक छोटा सा काम करना होगा। डिजिटल ट्रांजक्शन को भारत में बढ़ावा देने के लिए माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर और दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बिल गेट्स ने फीचर फोन यूजर्स के लिए एक पेमेंट सिस्टम तैयार करने की प्रतियोगिता रखी है, जिसके विजेता को करीब 35 लाख रुपए दिए जाएंगे। 

यह प्रतियोगिता नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने आईआईएम अहमदाबाद के सेंटर फॉर इनोवेशन इंक्यूबेशन एंड एंटरप्रेन्योरशिप (CIIE.CO), बिल गेट्स और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की साझेदारी में रखी है। इस प्रतियोगिता का 'ग्रैंड चैलेंज पेमेंट यूजिंग फीचर फोन्स' (Grand Challenge Payments Using Feature Phones) नाम दिया गया है। बता दें कि, यह प्रतियोगिता फीचर फोन के लिए डिजिटल पेमेंट सिस्टम तैयार करने के लिए रखी गई है।

करना है बस ये काम

  • प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए सबसे पहले आपको https://grand-challenge.ciie.co/ पर क्लिक करने के साथ ही पेज पर दिख रहे Apply Now पर क्लिक करना होगा। 
  • जहां पर आपको Startup Application Form में पूछा गया विवरण जैसे स्टार्टअप नेम, नाम का पहला शब्द, नाम का दूसरा शब्द और ईमेल आईडी के साथ पासवर्ड भरने के साथ ही सभी शर्तों को मानते हुए नीचे दिए गए Next बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रतियोगिता में अप्लाई करने की अंतिम तारीख 12 जनवरी 2020 है। विजेता की घोषणा 14 मार्च 2020 को की जाएगी। बता दें ईनाम राशि में से टैक्स भी काटा जाएगा।  
  • इस प्रतियोगिता में तीन विजेता चुने जाएंगे। पहला इनाम 50 हजार डॉलर यानी करीब 35,84,275 रुपए का है। दूसरा इनाम 21,50,565 रुपए और तीसरा 14,33,710 रुपए का है। CIIE.CO और NCPI मिलकर विजेताओं को शॉर्टलिस्ट करेंगे।
  • इस प्रतियोगिता में प्रतियोगी जो समाधान सुझाएंगे उसे चार मानकों पर परखा जाएगा। आसान इस्तेमाल, लेन-देन के अनुभव को बढ़ाना, सिक्योरिटी फीचर और लेन-देन में किसी भी तरह की दिक्कत आने पर उसका ऑटोमेटिक हल। 
  • इस प्रतियोगिता में चुने गए प्रतिभागी को NPCI APIs का एक्सेस 11 फरवरी 2020 से मिलेगा। इसके अलावा NPCI के एक्सपर्ट्स भी प्रतिभागी की मदद करेंगे।

नोट- अप्लाई करने व और अधिक जानकारी के लिए grand-challenge.ciie.co पर जा सकते हैं।

भारत में डिजिटल राह की चुनौतियां

गौरतलब है कि भारत स्मार्टफोन के लिए दुनिया का सबसे बड़ा बाजार है लेकिन भारत में अभी भी करोड़ों लोग फीचर फोन का इस्तेमाल कर रहे हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में करीब 50 करोड़ लोग फीचर फोन इस्तेमाल कर रहे हैं। स्मार्टफोन यूजर्स तो तेजी से अपने फोन के जरिए डिजिटल पेमेंट कर रहे हैं लेकिन फीचर फोन वालों के लिए यह सुविधा नहीं है। 

नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) के दावे के मुताबिक, फीचर फोन के जरिए *99# डायल करके बहुत कम यानी करीब पांच लाख से कम ट्रांजेक्शन हो रहे हैं, क्योंकि फीचर फोन से डिजिटल पेमेंट करना आसान नहीं है। यूनाइटेड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) के दावे के मुताबिक भारत में करीब 100 करोड़ रुपए का डिजिटल ट्रांजैक्शन प्रतिमाह होता है, लेकिन इसमें स्मार्टफोन से होने वाले ट्रांजैक्शन काफी कम है। 

Write a comment