ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. मेरा पैसा
  5. जनवरी में निवेशकों ने म्यूचुअल फंड में लगाए 54,000 करोड़ रुपए, अच्‍छे रिटर्न से बढ़ रहा है रुझान

जनवरी में निवेशकों ने म्यूचुअल फंड में लगाए 54,000 करोड़ रुपए, अच्‍छे रिटर्न से बढ़ रहा है रुझान

निवेशकों ने जनवरी माह में म्यूचुअल फंड की विभिन्न योजनाओं में 54,000 करोड़ रुपए का निवेश किया। आय व इक्विटी कोषों से जुड़ी योजनाओं में अधिक निवेश किया गया।

Abhishek Shrivastava Abhishek Shrivastava
Published on: February 09, 2017 17:09 IST
जनवरी में निवेशकों ने म्यूचुअल फंड में लगाए 54,000 करोड़ रुपए, अच्‍छे रिटर्न से बढ़ रहा है रुझान- India TV Paisa
जनवरी में निवेशकों ने म्यूचुअल फंड में लगाए 54,000 करोड़ रुपए, अच्‍छे रिटर्न से बढ़ रहा है रुझान

नई दिल्‍ली। निवेशकों ने जनवरी माह में म्यूचुअल फंड की विभिन्न योजनाओं में 54,000 करोड़ रुपए का निवेश किया। इनमें आय और इक्विटी कोषों से जुड़ी योजनाओं में अधिक निवेश किया गया।

  • इसके साथ ही म्यूचुअल फंड में कुल मिलाकर चालू वित्त वर्ष के दौरान अप्रैल से जनवरी माह तक 3.67 लाख करोड़ रुपए की राशि निवेश की जा चुकी है।
  • इससे पहले 2015-16 में इसी अवधि के दौरान विभिन्न म्यूचुअल फंड योजनाओं में 1.84 करोड़ रुपए का निवेश किया गया था।

म्यूचुअल फंड में होने वाले निवेश पर नजर रखने वाले पोर्टल फंड्सइंडिया डॉट कॉम के मुख्य परिचालन अधिकारी श्रीकांत मीनाक्षी के मुताबिक,

इक्विटी के अलावा ऋण कोषों में भी प्रवाह बढ़ा है। जमा दरें घट रहीं हैं जिससे निवेशकों को कम रिटर्न मिल रहा है। गिरती दरों से ऋण पत्र एक बार फिर से प्रतिफल वित्तीय साधन के रूप में सामने आए हैं।

  • एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एएमएफआई) के आंकड़ों के मुताबिक जनवरी माह में म्यूचुअल फंड में 53,817 करोड़ रुपए निवेश किए गए।
  • इसमें लिक्विड, आय और इक्विटी फंड में निवेश प्रवाह का अधिक जोर रहा।
  • लिक्विड यानी मुद्रा बाजार कोषों की श्रेणी में जनवरी में 28,588 करोड़ का निवेश किया गया, जबकि आय कोषों में 10,541 करोड़ का शुद्ध निवेश किया गया।
  • इक्विटी और इक्विटी से जुड़ी म्यूचुअल फंड योजनाओं में 4,880 करोड़ रुपए का निवेश हुआ।
  • इस साल जनवरी अंत तक सभी 43 सक्रिय कोषों में कुल मिलाकर 17.37 लाख करोड़ रुपए की संपत्ति उनके प्रबंधनाधीन थी, जबकि दिसंबर 2016 के अंत में यह राशि 16.46 लाख करोड़ रुपए थी।
Write a comment
elections-2022