1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. SMAT 2021-2022: छत्तीसगढ़ ने रोमांचक मुकाबले में मुंबई को एक रन से हराया, गोवा ने किया उलटफेर

SMAT 2021-2022: छत्तीसगढ़ ने रोमांचक मुकाबले में मुंबई को एक रन से हराया, गोवा ने किया उलटफेर

सलामी बल्लेबाज अखिल हेरवादकर और शशांक सिंह के विपरीत अंदाज में जड़े अर्धशतकों की बदौलत छत्तीसगढ़ ने सैयद मुश्ताक अली टी 20 टूर्नामेंट के ग्रुप बी के बेहद रोमांचक मुकाबले में मुंबई को एक रन से हराकर पहली जीत दर्ज की।

Bhasha Bhasha
Updated on: November 08, 2021 18:39 IST
Syed Mushtaq Ali Trophy 2021 2022 Match Report NOV 8 Goa Vs Tamil Nadu Maharashtra Vs Pondicherry Pu- India TV Hindi
Image Source : IPLT20.COM Syed Mushtaq Ali Trophy 2021 2022 Match Report NOV 8 Goa Vs Tamil Nadu Maharashtra Vs Pondicherry Punjab Vs Odisha Chhattisgarh Vs Mumbai 

गोवा ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी टी20 टूर्नामेंट के एलीट ग्रुप ए मैच में सोमवार को गत चैम्पियन तमिलनाडु को सात विकेट से हराकर उलटफेर किया। तमिलनाडु की चार मैचों में यह पहली हार है। तमिलनाडु को नौ विकेट पर 136 रन पर रोकने के बाद गोवा ने 18.4 ओवर में तीन विकेट के नुकसान पर लक्ष्य हासिल कर लिया। गोवा ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला करने के बाद तमिलनाडु के बल्लेबाजों को खुलकर खेलने का मौका नहीं दिया। तमिलनाडु ने 11वें ओवर में 56 रन पर पांच विकेट गंवा दिये थे। इसके बाद संजय यादव (38) और शाहरुख खान (26) ने छठे विकेट के लिए 67 रन की साझेदारी कर टीम को मुश्किल परिस्थिति से बाहर निकाला। अनुभवी एन जगदीशन (21) और कप्तान विजय शंकर (पांच) भी बल्ले से कोई खास योगदान नहीं दे सके। गोवा के लिए बायें हाथ के तेज गेंदबाज श्रीकांत वाघ ने चार ओवर में 36 रन देकर चार विकेट लिये। लक्ष्य का पीछा करते हुए गोवा ने पी श्रवण कुमार (17 रन पर दो विकेट) के पहले ओवर में ही दो विकेट गंवा दिये लेकिन आदित्य कौशिक (41) और शुभम रंजने (नाबाद 52) ने तीसरे विकेट के लिए 66 रन की साझेदारी करके टीम को वापसी करायी। रंजने को इसके बाद सुयश प्रभुदेसाई (नाबाद 43) का अच्छा साथ मिला और दोनों ने  बिना किसी और क्षति के टीम को लक्ष्य के पार (तीन विकेट पर 140 रन) पहुंचा दिया। प्रभुदेसाई ने 24 गेंद की आक्रामक नाबाद पारी में दो चौके और तीन छक्के लगाए जबकि रंजने ने 42 गेंद की  नाबाद पारी में तीन चौके और दो छक्के जड़े। 

महाराष्ट्र बनाम पांडिचेरी 

ग्रुप के दूसरे मैच में महाराष्ट्र ने नौशाद शेख (36 गेंद में 55 रन) और केदार जाधव (39 गेंद में नाबाद 52) की अर्धशतकीय पारियों से 20 ओवर में तीन विकेट पर 193 रन बनाने के बाद पांडिचेरी को 13.5 ओवर में 76 रन पर ऑल आउट कर 117 रन की बड़ी जीत दर्ज की। महाराष्ट्र के अजीम काजी ने 17 गेंद में नाबाद 31 रन की पारी खेलने के बाद बायें हाथ की स्पिन गेंदबाजी से हैट्रिक भी ली। नौशाद शेख ने नौ रन देकर तीन विकेट लिये। 

पंजाब बनाम ओडिशा

दिन के एक अन्य मैच में पंजाब ने ओडिशा को 60 रन से हराया। रमनदीप सिंह की 23 गेंद में 54 रन की पारी के दम पर चार विकेट पर 189 रन बनाने के बाद पंजाब ने ओडिशा को सात विकेट पर 129 रन पर रोक दिया। तमिलनाडु, महाराष्ट्र और पंजाब की चार मैचों में यह तीसरी जीत है और तीनों टीमों के समान 12 अंक हैं। 

छत्तीसगढ़ बनाम मुंबई 

सलामी बल्लेबाज अखिल हेरवादकर और शशांक सिंह के विपरीत अंदाज में जड़े अर्धशतकों की बदौलत छत्तीसगढ़ ने सैयद मुश्ताक अली टी 20 टूर्नामेंट के ग्रुप बी के बेहद रोमांचक मुकाबले में मुंबई को एक रन से हराकर पहली जीत दर्ज की। छत्तीसगढ़ ने हेरवादकर (53) और शशांक (57) की पारियों की बदौलत पांच विकेट पर 157 रन बनाए। अजय मंडल ने भी आठ गेंद में दो छक्कों और एक चौके की मदद से नाबाद 19 रन की पारी खेली। हेरवादकर ने 54 गेंद की अपनी पारी में चार चौके और एक छक्का जड़ा जबकि शशांक ने तूफानी अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए 28 गेंद का सामना करते हुए चार छक्के और चार चौके जड़े। मुंबई की टीम इसके जवाब में कप्तान अजिंक्य रहाणे (69) और सिद्धेश लाड (46) की पारियों के बावजूद निर्धारित 20 ओवर में पांच विकेट पर 156 रन ही बना सकी। मुंबई को सौरभ मजूमदार के अंतिम ओवर में जीत के लिए आठ रन की दरकार थी लेकिन टीम ने पहली गेंद पर ही कप्तान रहाणे का विकेट गंवा दिया और बाकी पांच गेंद में छह रन ही जोड़ सकी। छत्तीसगढ़ की ओर से सुमित रुइकर ने 24 जबकि रवि किरण ने 32 रन देकर दो - दो विकेट चटकाए। मजूमदार ने एक विकेट हासिल किया।

कर्नाटक बनाम बड़ौदा 

ग्रुप के अन्य मैचों में कर्नाटक ने अपना विजयी अभियान जारी रखते हुए बड़ौदा को सात विकेट से हराकर लगातार चौथी जीत दर्ज की जबकि बंगाल ने बेहद एकतरफा मुकाबले में सेना को नौ विकेट से हराया। कर्नाटक ने कृष्णप्पा गौतम (17 रन पर दो विकेट) और विजय कुमार विशाक (34 रन पर दो विकेट) की उम्दा गेंदबाजी से बड़ौदा को सात विकेट पर 134 रन पर रोक दिया। बड़ौदा की ओर से भानु पानिया ने सर्वाधिक 36 रन बनाए। कर्नाटक ने लक्ष्य का पीछा करते हुए सलामी बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल (56) और करूण नायर (36) की पारियों की बदौलत 19.1 ओवर में तीन विकेट पर 137 रन बनाकर जीत दर्ज की। 

सेना बनाम बंगाल

दूसरी तरफ सेना की टीम बंगाल के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करते हुए आठ विकेट पर 90 रन ही बना सकी। सेना की ओर से देवेंद्र लोचब (नाबाद 34) और सचिदानंद पांडे (22) ही 20 रन के आंकड़े को पार कर पाए। बंगाल की ओर से प्रदीप्त प्रमाणिक (16 रन पर दो विकेट) ने दो जबकि आकाश दीप (10 रन पर एक विकेट), ऋत्तिक चटर्जी (14 रन पर एक विकेट), शाहबाज अहमद (14 रन पर एक विकेट), करण लाल (बिना रन दिए एक विकेट) और मुकेश कुमार (35 रन पर एक विकेट) ने एक - एक विकेट चटकाया। बंगाल ने इसके जवाब में सलामी बल्लेबाजों सुदीप चटर्जी (50) और अभिमन्यु ईश्वरन (नाबाद 32) के बीच पहले विकेट की 71 रन की साझेदारी की बदौलत 55 गेंद शेष रहते एक विकेट पर 91 रन बनाकर जीत दर्ज की। कर्नाटक की टीम ग्रुप बी में चार मैचों में चार जीत से 16 अंक के साथ शीर्ष पर है। बंगाल के चार मैचों में 12 जबकि मुंबई के आठ अंक हैं। इनके बाद बड़ौदा , छत्तीसगढ़ और सेना (तीनों की एक जीत और तीन हार) का नंबर आता है जिनके चार - चार अंक हैं। 

मध्य प्रदेश बनाम बिहार

इंडियन प्रीमियर लीग में अपनी टीमों की ओर से शानदार प्रदर्शन करने वाले आवेश खान और वेंकटेश अय्यर की अगुआई में गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन की बदौलत मध्य प्रदेश ने सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट के ग्रुप डी मैच में सोमवार को यहां बिहार को नौ विकेट से हरा दिया। आवेश (छह रन पर तीन विकेट), वेंकटेश (दो रन पर दो विकेट), मिहिर हिरवानी (15 रन पर दो विकेट) और कुलदीप सेन (15 रन पर दो विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने बिहार की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 18 ओवर में सिर्फ 59 रन पर ढेर हो गई। बिहार की ओर से सकिबुल गनी (21) ही 20 रन के स्कोर को पार कर पाए। मध्य प्रदेश ने इसके बाद वेंकटेश (नाबाद 36) और कुलदीप गेही (21) के बीच पहले विकेट की 48 रन की साझेदारी से 5.4 ओवर में ही एक विकेट पर 60 रन बनाकर एकतरफा जीत दर्ज की।

केरल बनाम असम 

ग्रुप के अन्य मुकाबलों में केरल ने असम को आठ विकेट से हराया। असम की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए आठ विकेट पर 121 रन ही बना सकी। केरल की ओर से बासिल थंपी ने 21 रन देकर तीन जबकि जलज सक्सेना ने 12 रन देकर दो विकेट चटकाए। केरल ने इसके जवाब में रोहन कुन्नुमल (नाबाद 56), मोहम्मद अजहरूद्दीन (24) और सचिन बेबी (नाबाद 21) की पारियों की मदद से 12 गेंद शेष रहते दो विकेट पर 122 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की। 

रेलवे बनाम गुजरात

रेलवे की टीम उपेंद्र यादव (41) की उपयोगी पारी के बावजूद नौ विकेट पर 132 रन ही बना सकी। गुजरात की ओर से हार्दिक पटेल ने 21 रन देकर तीन जबकि रूष कलारिया और अर्जन नागवासवाला ने दो-दो विकेट चटकाए। गुजरात ने लक्ष्य का पीछा करते हुए उर्विल पटेल (59) के अर्धशतक और कप्तान प्रिंयाक पंचाल (नाबाद 43) के साथ उनकी दूसरे विकेट की 92 रन की साझेदारी की बदौलत 12 ओवर में ही दो विकेट पर 133 रन बनाकर जीत दर्ज की। चौथे दौर के मुकाबलों के बाद मध्यप्रदेश और गुजरात समान 12 अंकों के साथ पहले दो स्थान पर हैं। इनके बाद केरल (आठ), असम (आठ), रेलवे (चार) और बिहार (चार) का नंबर आता है। 

राजस्थान बनाम आंध्र प्रदेश

राजस्थान ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के एलीट ग्रप सी मैच में सोमवार को यहां आंध्र प्रदेश को 11 रन से हराकर चार मैचों में लगातार चौथी जीत दर्ज की।   राजस्थान ने इससे पहले झारखंड, जम्मू-कश्मीर और हिमाचल को हराया था। पहले बल्लेबाजी का फैसला करने के बाद राजस्थान ने महिपाल लोमरोर की 69 रनों की आक्रामक पारी से 149 रन (ऑल आउट) बनाने के बाद आंध्र को आठ विकेट पर 138 रन पर रोक दिया। आंध्र के लिए नौवें क्रम पर बल्लेबाजी करने आये केवी शशिकांत ने 24 गेंद में नाबाद 47 रन की ताबड़तोड़ पारी खेली लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके। आंध्र के सी.स्टीफन (23 रन पर तीन विकेट) ने अपने पहले और दूसरे ओवर में एक-एक विकेट लिये जिससे राजस्थान की टीम तीसरे ओवर में 12 रन पर दो विकेट गवांकर संघर्ष कर रही थी। लोमरोर और सलामी बल्लेबाज यश कोठारी (25) ने इसके बाद तीसरे विकेट के लिए अर्धशतकीय साझेदारी कर टीम को संकट से बाहर निकाला। लोमरोर और कोठारी के अलावा राजस्थान के लिए दीपक हुड्डा (21) ही दोहरे अंक में रन बना सके। लोमरोर ने 45 गेंद की पारी में छह चौके और दो छक्के जड़े। आंध्र के लिए स्टीफन के अलावा पिन्निंति तपस्वी ने भी तीन (29 रन देकर) विकेट लिये। जीत के लिए 150 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी आंध्र की टीम के पास राजस्थान के स्पिनरों शुभम शर्मा (16 रन पर तीन विकेट) और रवि बिश्नोई (20 रन पर तीन विकेट) का कोई जवाब नहीं था। 34 रन तक उनकी आधी टीम पवेलियन लौट गयी जबकि 13वें ओवर में टीम का स्कोर सात विकेट पर 65 रन था। इसके बाद नीतीश कुमार रेड्डी (38) और शशिकांत ने आठवें विकेट के लिए 65 रन की साझेदारी कर जीत की उम्मीद जगाई लेकिन वे सफल नहीं हुए। शशिकांत ने तीन चौके और चार छक्के लगाकर राजस्थान के गेंदबाजों को परेशान किया। 

झारखंड बनाम हरियाणा 

ग्रुप के अन्य मैचों में झारखंड ने हरियाणा को 16 रन से, तो वहीं हिमाचल ने जम्मू कश्मीर को चार रन से हराया। झारखंड ने सौरभ तिवारी (नाबाद 58) और इशांक जग्गी (51) की अर्धशतकीय पारी से पांच विकेट पर 181 रन बनाने के बाद हरियाणा को 165 रन पर ऑल आउट कर दिया। झारखंड की चार मैचों में यह पहली जीत है , जबकि इतने ही मैचों में हरियाणा की यह दूसरी हार है। 

हिमाचल बनाम जम्मू कश्मीर

हिमाचल ने ऋषि धवन के हरफनमौला खेल के दम पर जम्मू कश्मीर पर रोमांचक जीत दर्ज की। हिमाचल ने आठ विकेट पर 157 रन बनाने के बाद जम्मू कश्मीर को 19.5 ओवर में 153 रन पर ऑल आउट कर दिया। धवन ने नाबाद 45 रन बनाने के बाद 23 रन देकर छह विकेट झटके।

लाइव स्कोरकार्ड

bigg boss 15