1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. एजुकेशन
  4. NEET Exam: आकांक्षा ने बताया कैसे एग्जाम में हासिल किए शत-प्रतिशत मार्क्स

NEET Exam: आकांक्षा ने बताया कैसे एग्जाम में हासिल किए शत-प्रतिशत मार्क्स

NEET Exam देने के बाद 17 वर्षीय आकांक्षा को उम्मीद थी कि उनका स्कोर 720 में से 700 के आसपास रहेगा। हालांकि आकांक्षा को उम्मीद से बेहतर नतीजे हासिल हुए और उन्होंने 720 में से 720 अंक हासिल किए हैं। 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: October 17, 2020 19:17 IST
Neet Topper Akansha Singh revealed strategy behind score hundred percent marks । NEET Topper आकांक्ष- India TV Hindi
Image Source : SPECIAL ARRANGEMENT Neet Topper Akansha Singh revealed strategy behind score hundred percent marks । NEET Topper आकांक्षा ने बताया कैसे एग्जाम में हासिल किए शत-प्रतिशत मार्क्स

नई दिल्ली. NEET Exam में शत-प्रतिशत अंक हासिल करने वाली उत्तर प्रदेश के कुशीनगर की आकांक्षा सिंह ने अपनी कामयाबी का श्रेय अपने माता-पिता व ईश्वर को दिया है। नीट परीक्षा स्थगित करने की इच्छा रखने वाले छात्रों के विपरीत, आकांक्षा का मानना है कि lockdown की अवधि ने उन्हें तैयारी करने के लिए अतिरिक्त समय दिया। आकांक्षा पहले Civil Services में अपना भविष्य तलाशना चाहती थीं। उन्होंने कहा, "मैं 8वीं तक IAS बनने का सोचती थी। फिर दिल्ली का AIIMS अस्पताल मेरे लिए एक प्रेरणास्रोत बन गया। इसके बाद से मैंने नीट की तैयारी की शुरू की।"

आकांक्षा के पिता Airforce से रिटायर्ड हैं। उनकी मां रुचि सिंह गांव के प्राथमिक स्कूल की अध्यापिका हैं। 10वीं तक कुशीनगर में पढ़ाई कर चुकीं आकांक्षा ने अपनी सफलता का श्रेय ईश्वर और माता-पिता को दिया। उन्होंने 11 व 12 की पढ़ाई दिल्ली के प्रगति पब्लिक स्कूल में से की है। आकांक्षा को पढ़ने के साथ ही गाने सुनना भी पसंद है। आकांक्षा ने IANS से कहा, "मैं डॉक्टर बनना चाहती थी। इसके लिए कक्षा 10 पास करने के बाद, मैं प्लस 2 के लिए दिल्ली आ गई और यहां एक कोचिंग भी ज्वाइन कर ली।"

नीट परीक्षा देने के बाद 17 वर्षीय आकांक्षा को उम्मीद थी कि उनका स्कोर 720 में से 700 के आसपास रहेगा। हालांकि आकांक्षा को उम्मीद से बेहतर नतीजे हासिल हुए और उन्होंने 720 में से 720 अंक हासिल किए हैं। अपने परीक्षा परिणाम पर संतोष जाहिर करते हुए आकांक्षा ने कहा, "मैंने रोजाना 10 से 12 घंटे अध्ययन किया और अपने संस्थान की अध्ययन सामग्री का अनुसरण किया। इसके अलावा, मैंने ऑनलाइन कक्षाएं भी लीं। प्रेरित महसूस करने के लिए मैंने सार्वजनिक मोटिवेशनल वीडियो भी देखे।"

आकांक्षा का उद्देश्य न्यूरोसर्जरी पर शोध करना है। उन्होंने IANS से कहा, "MBBS पूरा करने के बाद, मैंने बाद में अनुसंधान करने और चिकित्सा का अभ्यास करने की योजना बनाई।"

कोरोना काल ने आकांक्षा को चिकित्सकों की भूमिका और उनके महत्व से भी रूबरू कराया है। आकांक्षा ने कहा, "कोरोना के इस संकट में जिस तरह से डॉक्टरों ने अपनी जान जोखिम में डालकर प्रदर्शन किया है, वह मेरे जैसे हजारों लोगों के लिए प्रेरणा है। इसने मुझे एक स्वास्थ्य कार्यकर्ता के महत्व और जिम्मेदारी का एहसास कराया है।" नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने शुक्रवार को नीट 2020 परीक्षा का रिजल्ट जारी किया है। नीट का रिजल्ट एनटीए की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किया गया है। रिजल्ट के साथ एनटीए ने फाइनल प्रश्नोत्तर भी जारी कर दिए हैं। इस परीक्षा में दिल्ली से आकांक्षा सिंह और ओडिशा के शोएब आफताब ने 720 में से 720 अंक हासिल किए हैं। (IANS)

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। NEET Exam: आकांक्षा ने बताया कैसे एग्जाम में हासिल किए शत-प्रतिशत मार्क्स News in Hindi के लिए क्लिक करें एजुकेशन सेक्‍शन
Write a comment
X