1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. Exclusive: इंडिया टीवी पर अरविंद केजरीवाल के 11 'सिपहसलार'

Exclusive: इंडिया टीवी पर अरविंद केजरीवाल के 11 'सिपहसलार'

दिलीप पांडे ने कहा कि पिछले विधानसभा चुनाव में भी भाजपा ने अरविंद केजरीवाल का मजाक उड़ाया, जबकि हमने 49 दिनों की सरकार का कामकाज गिनाया। पिछली बार का वोटर हमारा शांत था, और उसने हमें वोट किया। इसबार का वोटर शांत नहीं बैठा।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 14, 2020 22:11 IST
Arvind Kejriwal- India TV
Image Source : INDIA TV Representational image

नई दिल्ली। दिल्ली चुनाव के नतीजों ने हर किसी को हैरान कर दिया, अरविंद केजरीवाल ने इतिहास रच दिया। केजरीवाल तीसरी बार दिल्ली के सीएम पद की शपथ लेंगे, उन्होंने इस बार 70 में से 62 सीटें जीतीं। दिल्ली के चुनाव में कौन सा मुद्दा चला ये समझने के लिए इंडिया टीवी ने बात की आम आदमी पार्टी के 11 जीते हुए विधायकों से। कार्यक्रम में ग्रेटर कैलाश के विधायक सौरभ भारद्वाज, तिमारपुर के विधायक दिलीप पांडे, मंगोलपुरी की विधायक राखी बिड़लान, संगम विहार के विधायक दिनेश मोहनिया, तिलक नगर के विधायक जरनैल सिंह, सीलमपुर के विधायक अब्दुल रहमान, बुराड़ी के विधायक संजीव झा, त्रिलोकपुरी के विधायक रोहित महरौलिया, वजीरपुर के विधायक राजेश गुप्ता, कोंडली के विधायक कुलदीप कुमार और द्वारका के विधायक विनय मिश्रा ने शिरकत की।

देखिए वीडियो

'शुरू से मिल रही थी अच्छी लोगों की प्रतिक्रिया'

ग्रेटर कैलाश के विधायक सौरभ भारद्वाज ने कहा कि जब चुनाव प्रचार शुरू किया तो लोग कहते थे आराम करो, टेंशन मत लो, तुम्हें हम जिताएंगे, मेहनत करने की जरूरत नहीं है। बार-बार सीएम साहब कहते थे विधायक घर ने बैठें, चुनाव को चुनाव की तरह लड़ना है। चुनाव लगभग एकतरफा था। भारतीय जनता पार्टी ने आखिरी के तीन हफ्ते में चुनाव लड़ा, उससे पहले वो भी माने बैठे थे कि AAP की सरकार बन रही है। मुझे लगता है कि आखिरी के तीन हफ्तों में जो उन्होंने आक्रमता दिखाई, वो चुनाव जीतने के लिए नहीं थी बल्कि अपने अस्तित्व, अपने कोर वोटर को बचाने की लड़ाई थी। जिसमें शायद उन्हें सफलता भी मिली।

'हमने काम पर लड़ा चुनाव''

दिलीप पांडे ने कहा कि पिछले विधानसभा चुनाव में भी भाजपा ने अरविंद केजरीवाल का मजाक उड़ाया, जबकि हमने 49 दिनों की सरकार का कामकाज गिनाया। पिछली बार का वोटर हमारा शांत था, और उसने हमें वोट किया। इसबार का वोटर शांत नहीं बैठा, 90 फीसदी लोग सीएम से नाराज नहीं थे। 40 फीसदी लोग कहते थे प्रचार करने की जरूरत नही है। भाजपा ने अपनी स्ट्रैटजी नहीं छोड़ी, जिसमें वो सिर्फ अपना आधार बचाने में सक्रिय  हुए।

'बहुत वोटर्स ने कहा- देश के लिए मोदीजी, दिल्ली के लिए केजरीवाल'
सौरभ भारद्वाज और दिलीप पांडे ने बताया कि चुनाव प्रचार के दौरान बहुत सारे ऐसे लोग मिलते थे, जो कहते थे कि लोकसभा चुनाव में मोदी जी को वोट किया। इसबार आपके लिए करेंगे। 

जामिया हिंसा मुद्दे पर ये बोले विधायक
सीलमपुर विधायक ने कहा कि शाहीन बाग या जामिया आंदोलन में सभी धर्मों के लोग शामिल हैं। हमारे इलाके में भी मुस्लिमों के साथ हिंदू भी सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। उन्होंने कहा कि लोग समझदार हो गए हैं, वो दुष्प्रचार से प्रभावित नहीं होते। ध्रुवीकरण के सवाल पर अब्दुल रहमान ने कहा कि मुस्लिम इलाके में उनको भी वोट मिला, हमें हिंदू इलाकों में भी वोट मिला। दिलीप पांडे ने कहा कि भाजपा के एजेंडे पर AAP का काम भारी पड़ गया।

मुफ्तखोरी के आरोप पर कही ये बात
जरनैल सिंह ने कहा कि कई विकसित देशों में फ्री यातायात, फ्री चिकित्सा की सुविधा है, हम भी वैसा ही कर रहे हैं। राखी बिड़लान ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि वो भी तो मुफ्त स्कूटी दे रहे थे। केजरीवाल ने काम किया तो मुफ्तखोरी की राजनीति का आरोप लगाया जा रहा है। ये अपमान है, मैं इसकी कड़ी निंदा करते हैं। एक अन्य विधायक ने कहा कि पिछले 5 सालों में लोगों ने हर जगह क्रांतिकारी बदलाव देखा है, लोग बहुत उत्साहित थे इस बार।

AAP के पक्ष में क्या रहा?

बुराड़ी विधायक संजीव झा ने कहा कि भाजपा ने जितना हमें शिक्षा, बिजली, पानी पर हमें घेरने की कोशिश की वो सब हमारे पक्ष में रहा। इनकी स्ट्रेटजी ये थी कि हमारे लोग वोट न कर पाएं, मतदाता केंद्रों के बाहर हुड़दंग करने की कोशिश करने की जा रही थी। सौरभ भारद्वाज ने कहा कि भाजपा वालों ने झगड़े की अफवाहें दो दिन पहले से ही फैलाने की कोशिश की। एक अन्य विधायक ने कहा कि हमारे पास लोगों को बताने कि लिए बहुत कुछ था, उनके पास थी तो बस MCD की नाकामी। उनसे लोग बहुत नाराज थे। उन्होंने कहा कि हमारे वोट जागरूक थे। 

शाहीन बाग पर क्यों बच रही थी AAP?
AAP विधायकों ने कहा कि इस मसले से हमारा लेना-देना नहीं था। कोई भी चीज जो हमपर थोपी जाएगा, हम उसपर क्यों फंसेंगे। विधायक राजेश ने कहा कि मेरे इलाके में 700 बाग हैं, जो MCD के अंडर में आते थे, जहां उन्होंने कुछ नहीं किया। वो एक ऐसे बाग में हमें ले जाना चाहते थे, जहां हम जाना नहीं चाहते थे। मुझे तो पता हीं नहीं था कहां है शाहीन बाग। दिलीप पांडे ने कहा कि दोनों पार्टियां इस कोशिश में थीं कि मुकाबला हमारे अखाड़े में हो, हमारे कैंपेन देशभक्ति की नई इबादत पर लागू था, भाजपा शाहीन बाग पर लड़ना चाहती थी, नहीं माने तो हनुमान जी ने उनकी लंका लगा दी।

'दिल्ली का बेटा' प्रोजेक्ट करने का आइडिया कहां से आया?
बुराड़ी विधायक ने कहा कि केजरीवाल जी को आतंकवादी कहा गया तो उन्होंने कहा कि दिल्ली की जनता बता देंगी, वो दिल्ली के बेटे हैं या आतंकवादी। दिल्ली की जनता ने बता दिया। सौरभ भारद्वाज ने कहा कि बेटा शब्द पब्लिक में से निकला। तीर्थ यात्रा पर गए लोगों ने कहा कि हमारे बेटे ने हमें तीर्थ यात्रा करवाई नहीं, तूने करवाई। आम लोगों ने कहा कि ये दिल्ली का श्रवण कुमार है। 

क्या लड़ेंगे और राज्यों के चुनाव?
दिलीप पांडे ने कहा कि हमारी लालसा है कि देश के बाकी राज्यों में भी ऐसी ही सियासत की शुरुआत हो, चाहे हमारी पार्टी का झंडा लगा के हो या दूसरी पार्टी का हो। सौरभ भारद्वाज ने कहा कि पार्टी का स्पष्ट मानना है कि पूरे देश के अंदर काम की राजनीति पहुंचे। जरनैल सिंह ने कहा कि दिल्ली बदली और देश बदलो।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
namaste-trump-indiatv
Write a comment
namaste-trump-indiatv