1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. यूपी में 'बादशाह' की बुलडोजर से आई बारात, श्रावस्ती से बहराइच पहुंचा दूल्हा

Bulldozer Baraat: यूपी में 'बादशाह' की बुलडोजर से आई बारात, श्रावस्ती से बहराइच पहुंचा दूल्हा

उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में श्रावस्ती से शनिवार को एक मुस्लिम दूल्हे की 'बुलडोजर' से बारात आई। बुलडोजर वाली इस बारात ने लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा।

Swayam Prakash Edited by: Swayam Prakash @SwayamNiranjan
Published on: June 18, 2022 21:19 IST
A baraat goes from Shravasti to Bahraich on bulldozer in UP- India TV Hindi
Image Source : REPRESENTATIONAL IMAGE A baraat goes from Shravasti to Bahraich on bulldozer in UP

Highlights

  • उत्तर प्रदेश में बुलडोजर पर आई बारात
  • बादशाह- रुबीना का निकाह बना यादगार
  • बहराइच जिले से श्रावस्ती पहुंचे बाराती

Bulldozer Baraat: उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले में श्रावस्ती से शनिवार को एक मुस्लिम दूल्हे की 'बुलडोजर' से बारात आई। बुलडोजर वाली इस बारात ने लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के दूसरे कार्यकाल का 'बुलडोजर' प्रतीक चिह्न बन गया है। यहां तक कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मिली जीत के बाद योगी आदित्यनाथ को "बुलडोजर बाबा" का नाम दिया गया है। 

चौराहे पर बुलडोजर बाबा की जयकार

शनिवार को बहराइच जिले के रिसिया ब्लॉक के अंतर्गत लक्ष्मणपुर शंकरपुर निवासी सलीम की बेटी रुबीना का निकाह श्रावस्ती के बादशाह के साथ शनिवार को हुआ। निकाह घर पहुंचने से पहले बुलडोजर पर दूल्हे बादशाह को बिठाकर चौराहे पर घुमाया गया। बाराती अकील, भूरे, शकील समेत कई बुलडोजर पर सवार थे। बारातियों, घरातियों और क्षेत्र के लोगों में इस कदर उत्साह था कि चौक पर 'बुलडोजर बाबा' की जय की नारेबाजी होने लगी। 

'बादशाह- रुबीना' का निकाह बना यादगार

श्रावस्ती से आए बाराती भूरे प्रधान ने कहा कि ''कारें तो सभी लाते हैं, कभी हाथी—घोड़ों पर बारात लाने का भी प्रचलन था। हम लोगों ने बुलडोजर पर बारात लाने का फैसला कर 'बादशाह- रुबीना' के निकाह को यादगार बनाने की सोची।’’ उन्होंने कहा कि यहां के लोगों द्वारा इस पहल को तवज्जो देना और भी अच्छा लगा। बहराइच सदर सीट से भाजपा विधायक और पूर्व मंत्री अनुपमा जायसवाल ने 'पीटीआई-भाषा' से कहा कि मुख्यमंत्री योगी जी का बुलडोजर सभी समुदायों के बीच सुशासन के प्रतीक के रूप में लोकप्रिय हो रहा है। उन्होंने कहा कि बुलडोजर सिर्फ अपराधियों के लिए ही भय का प्रतीक हो सकता है, शांतिप्रिय आमजन तो इसे शांति और अनुशासन का प्रतीक मानने लगे हैं। मुस्लिम समुदाय की बारात में इसका शामिल होना सभी समुदायों में योगी सरकार की लोकप्रियता का ज्वलंत उदाहरण है। 

अपराधियों के लिए काल बना बुलडोजर

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश सरकार में कई माफिया, नेता और उपद्रव करने के आरोपी बुलडोजर के शिकार हो चुके हैं। बांदा जेल में बंद पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी, मुख्यमंत्री योगी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोपी बरेली की भोजीपुरा सीट से सपा विधायक तथा पूर्व मंत्री शहजिल इस्लाम और जेल में बंद पूर्व सांसद अतीक अहमद के कथित अवैध निर्माण पर बुलडोजर चल चुका है।