1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Coronavirus Lockdown से ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज को हुआ खूब फायदा, पहली तिमाही में दो गुना हुआ शुद्ध लाभ 

Coronavirus Lockdown से ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज को हुआ खूब फायदा, पहली तिमाही में दो गुना हुआ शुद्ध लाभ 

समीक्षाधीन अवधि के दौरान कुल आय 26.97 प्रतिशत बढ़कर 3,514.35 करोड़ रुपए रही, जो कि एक साल पहले की समान तिमाही में 2,767.8 करोड़ रुपए थी। ब्

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: July 17, 2020 14:59 IST
Britannia Industries Q1 profit jumps over two fold to Rs 542.68 crore- India TV Paisa
Photo:GOOGLE

Britannia Industries Q1 profit jumps over two fold to Rs 542.68 crore

नई दिल्ली। खाद्य उत्पाद बनाने वाली कंपनी ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज को 30 जून 2020 को समाप्त चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में एकीकृत आधार पर 542.68 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ है। यह साल भर पहले की तुलना में दो गुना से भी अधिक है। कंपनी ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी। कंपनी ने पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में 248.64 करोड़ रुपए का लाभ कमाया था। कंपनी ने कहा कि शुद्ध लाभ बढ़ने का कारण आय का अधिक रहना है।

ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज ने शेयर बाजार से कहा कि समीक्षाधीन अवधि के दौरान कुल आय 26.97 प्रतिशत बढ़कर 3,514.35 करोड़ रुपए रही, जो कि एक साल पहले की समान तिमाही में 2,767.8 करोड़ रुपए थी। ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज के प्रबंध निदेशक वरुण बेरी ने कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण आलोच्य तिमाही ने अर्थव्यवस्था की राह में व्यवधान उत्पन्न किए और महामारी की रोकथाम के लिए देश भर में लगाए गए लॉकडाउन ने भी बाधाएं पैदा की। कारखाने, डिपो, परिवहन, वेंडर पूरी आपूर्ति श्रृंखला प्रभावित हुई।

उन्होंने कहा कि जैसे ही लॉकडाउन की पाबंदियों में ढील दी गई, कंपनी ने वितरण को महामारी से पहले के स्तर पर वापस लाने तथा ग्रामीण और भीतरी इलाकों में पहुंच बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित किया। बेरी ने कहा कि लागत के मोर्चे पर, हमने प्रमुख कच्चे माल की कीमतों में मध्यम मुद्रास्फीति देखी और उम्मीद है कि मानसून और फसल पर सकारात्मक दृष्टिकोण को देखते हुए कीमतें स्थिर रहेंगी।

उन्होंने कहा कि महामारी की गतिशील प्रवृत्ति और अनिश्चितता को देखते हुए कंपनी ने तत्काल लागत कम करने पर ध्यान दिया। इसके लिए आपूर्ति श्रृंखला की दक्षता को बढ़ाया गया, कच्ची सामग्रियों की बर्बादियां कम की गईं और लागत व व्यय को व्यवस्थित किया गया। बेरी ने कहा कि कंपनी ने मौजूदा परिस्थिति के मद्देननजर मांग में तेजी को देखते हुए मीडिया व विज्ञापन पर किए जाने वाले व्यय को भी व्यवस्थित किया है। उन्होंने कहा कि कंपनी उपभोक्ता प्राथमिकता, वितरण मॉडल और अल्पकालिक परिवर्तन पर कोविड-19 के प्रभाव का लगातार अध्ययन कर रही है।

Write a comment
X