1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. भारत बढ़ाएगा कच्चे तेल का भंडार, मिडिल ईस्ट देशों से सस्ता क्रूड खरीदने की योजना

भारत बढ़ाएगा कच्चे तेल का भंडार, मिडिल ईस्ट देशों से सस्ता क्रूड खरीदने की योजना

भारत ने 53 लाख टन क्षमता का आपातकालीन भूमिगत भंडार तैयार किया है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: April 08, 2020 21:48 IST
Crude Reserve- India TV Hindi News

Crude Reserve

नई दिल्ली। भारत ने कच्चे तेल की कीमतों में आयी गिरावट का लाभ उठाते हुये अपने भूमिगत भंडारों को भरने की तैयारी शुरू की है। इसके लिये सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात और इराक से कच्चे तेल की खरीद की जाएगी। सूत्रों ने बताया कि भारत ने कर्नाटक के मंगलुरू और पादुर तथा आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में 53.33 लाख टन का आपातकालीन भूमिगत भंडार तैयार किया है। यह भारत की 9.5 दिन की जरूरतों को पूरा करने के लिये पर्याप्त है। अभी मंगलुरू और पादुर के भंडार आधे खाली हैं जबकि विशाखापत्तनम वाले भंडार में भी कुछ जगह रिक्त है। इन्हें अब सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात और इराक से तेल खरीदकर भरा जाएगा।

सूत्रों ने कहा कि अबुधाबी नेशनल ऑयल कंपनी ने मंगलुरू की 15 लाख टन भंडारण क्षमता में आधी हिस्सेदारी खरीदी थी। उसने अपने व्यावसायिक इस्तेमाल के लिये 7.5 लाख टन तेल इसमें रखा है और शेष स्थान रिक्त है। इसे यूएई के अपर जकुम क्रूड से भरा जाएगा। पादुर भंडार इन तीनों में सबसे बड़ा है और इसकी कुल क्षमता 25 लाख टन है। अबुधाबी नेशनल ऑयल कंपनी ने इसके भी आधे हिस्से के लिये करार किया था, लेकिन कंपनी ने इसे कभी भरा नहीं। सूत्रों ने बताया कि इसमें अभी आधा भंडार ही भरा हुआ है। शेष भंडार को भरने के लिये सऊदी अरब से 12.5 लाख टन कच्चा तेल खरीदने की योजना है। इसी तरह विशाखापत्तनम में खाली भंडार को इराक के तेल से भरा जाएगा।

Latest Business News

Write a comment