1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. दिल्ली में गहराया बिजली संकट, 2-6 बजे तक सूझबूझ से इस्तेमाल करने की सलाह

दिल्ली में गहराया बिजली संकट, 2-6 बजे तक सूझबूझ से इस्तेमाल करने की सलाह

कोयले की कमी का असर राजधानी दिल्ली में भी दिखने लगा है। उत्तरी दिल्ली में बिजली सप्लाई करने वाली कंपनी TDPL ने आने उपभोक्ताओं को मैसेज भेज है कि आज 2 बजे से 6 बजे शाम तक बिजली की खपत सूझबूझ से साथ करें।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: October 09, 2021 14:57 IST
दिल्ली में गहराया बिजली संकट, 2-6 बजे तक सूझबूझ से इस्तेमाल करने की सलाह- India TV Hindi News
Photo:PIXABAY

दिल्ली में गहराया बिजली संकट, 2-6 बजे तक सूझबूझ से इस्तेमाल करने की सलाह

नई दिल्ली: कोयले की कमी का असर राजधानी दिल्ली में भी दिखने लगा है। उत्तरी दिल्ली में बिजली सप्लाई करने वाली कंपनी TDPL ने आने उपभोक्ताओं को मैसेज भेज है कि आज 2 बजे से 6 बजे शाम तक बिजली की खपत सूझबूझ से साथ करें। कोयले की कमी की वजह से जनरेशन प्लांट्स में बिजली कम पैदा हो रही है। इस बारे में दिल्ली सरकार और TDPL की मीटिंग चल रही है। TDPL का कहना है कि रोटेशन पर बिजली कटौती की जा सकती है।

सूत्र के मुताबिक दिल्ली को पहले दादरी-2 प्लांट से 800 मेगावाट बिजली मिलती थी, कोयले की कमी की वजह से अब सिर्फ 300 मेगावाट बिजली मिल रही है। लेकिन बवाना के गैस बिजली प्लांट में उत्पादन बढ़ा दी गयी है। यहा से पहले 300 मेगावाट बिजली मिलती थी जिसे बढ़कर 1200 कर दिया गया है। दरअसल इन दिनों बिजली कंपनी को एक्सचेंज से महंगी बिजली मिल रही है। 

पीक टाइम पर 20 रुपये प्रति मिनट तक बिजली मिल रही है। इसलिए दिक्कत हो रही है। पहले नॉन पीक टाइम पर एक्सचेंज से 4 से 5 रुपये यूनिट बिजली मिल जाती थी, जो अब बढ़कर 8 से 9 रुपये प्रति यूनिट हो गयी है। और पीक टाइम पर 20 प्रति यूनिट पहुंच रही है।दिल्ली में 3 कंपनी बिजली सप्लाई करती है। BSES yamuna, BSES Rajdhani और TDPL। ये मैसेज सिर्फ TDPL ने भेज है। BSES का कहना है कि उनके पास बिजली की कोई कमी नहीं है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर राष्ट्रीय राजधानी को बिजली की आपूर्ति करने वाले बिजली संयंत्रों को पर्याप्त कोयला और गैस देने के लिए बाद के कार्यालय के हस्तक्षेप का अनुरोध किया है।

Latest Business News

Write a comment