1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. केंद्र सरकार के वार्षिक बजट से ज्‍यादा है देश की टॉप-3 कंपनियों का कुल MCap, लगातार हो रही है वृद्धि

केंद्र सरकार के वार्षिक बजट से ज्‍यादा है देश की टॉप-3 कंपनियों का कुल MCap, लगातार हो रही है वृद्धि

तीनों कंपनियों की बाजार पूंजी को मिला दें तो यह रकम 32.48 लाख करोड़ रुपये है, जो भारत सरकार के बजट से ज्यादा है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: January 18, 2021 8:20 IST
total MCap of top 3 companies is more than the annual budget of government- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

total MCap of top 3 companies is more than the annual budget of government

नई दिल्‍ली। देश की शीर्ष तीन कंपनियों का संयुक्‍त रूप से बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) केंद्र सरकार के वार्षिक बजट से ज्यादा है। भारत की शीर्ष तीन कंपनियों की बाजार पूंजी 32 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा है, जबकि वित्त वर्ष 2020-21 में केंद्र सरकार के खर्च का बजटीय अनुमान 30.42 लाख करोड़ रुपये है। मार्केट कैपिटलाइजेशन यानी बाजार पूंजी के मामले में रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL), टाटा कंसल्टेंसी (TCS) और एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) क्रमश: पहले, दूसरे और तीसरे पायदान पर हैं। रिलायंस इंडस्ट्रीज की बाजार पूंजी 12.28 लाख करोड़ रुपये है, जबकि टीसीएस की बाजार पूंजी 12.13 लाख करोड़ रुपये और एचडीएफसी बैंक की बाजार पूंजी 8.07 लाख करोड़ रुपये है। अगर तीनों की बाजार पूंजी को मिला दें तो यह रकम 32.48 लाख करोड़ रुपये है, जो भारत सरकार के बजट से ज्यादा है।

टाटा समूह है नंबर वन

कंपनी समूह के कुल मार्केट कैप की बात करें तो भारत का अग्रणी कंपनी समूह टाटा ग्रुप है, जो बाजार पूंजीकरण के मामले में पहले नंबर पर आ गया है, जबकि दूसरे नंबर पर एचडीएफसी समूह और तीसरे नंबर पर रिलायंस समूह है। टाटा कंपनी समूह की बाजार पूंजी करीब 17 लाख करोड़ रुपये है, जबकि एचडीएफसी समूह की करीब 15 लाख करोड़ रुपये।

टाटा ग्रुप की संपत्ति 42% बढ़ी

केडिया एडवायजरी के डायरेक्टर अजय केडिया ने बताया कि टाटा समूह का प्रदर्शन पिछले साल से ही आकर्षक रहा है। समूह की बाजार पूंजी में बीते एक साल में करीब 42 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। उन्होंने कहा कि टाटा कंपनी समूह की 28 सूचीबद्ध कंपनियों में से 18 कंपनियों का प्रदर्शन बीते महीने में काफी आकर्षक रहा है और 2021 में टाटा के शेयर के भाव में आगे तेजी की संभावना बनी हुई है।

टॉप-10 में से छह कंपनियों का बाजार पूंजीकरण बढ़ा

सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से छह कंपनियों के बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) में बीते सप्ताह 1,13,018.94 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हुई। सबसे अधिक लाभ में टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) और भारती एयरटेल रहीं। रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचडीएफसी बैंक, इंफोसिस और आईसीआईसीआई बैंक के बाजार पूंजीकरण में भी इजाफा हुआ। वहीं दूसरी ओर हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी, कोटक महिंद्रा बैंक और बजाज फाइनेंस के बाजार मूल्यांकन में गिरावट आई।

टीसीएस का मार्केट कैप सबसे ज्‍यादा बढ़ा

सप्ताह के दौरान टीसीएस का बाजार पूंजीकरण 42,495.76 करोड़ रुपये बढ़कर 12,13,371.12 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। भारती एयरटेल का बाजार मूल्यांकन 33,960.84 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 3,28,697.33 करोड़ रुपये रहा। एचडीएफसी बैंक की बाजार हैसियत 19,001.41 करोड़ रुपये बढ़कर 8,07,615.27 करोड़ रुपये पर और इंफोसिस की 14,184.43 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 5,72,957.16 करोड़ रुपये रही। रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 2,884.44 करोड़ रुपये बढ़कर 12,28,330.03 करोड़ रुपये पर और आईसीआईसीआई बैंक का 492.06 करोड़ रुपये की वृद्धि के साथ 3,74,745.94 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।

कोटक महिंद्रा की संपत्ति घटी

कोटक महिंद्रा बैंक का बाजार मूल्यांकन 21,171.32 करोड़ रुपये घटकर 3,69,082.01 करोड़ रुपये पर और बजाज फाइनेंस का 12,000.53 करोड़ रुपये के नुकसान से 2,94,156.02 करोड़ रुपये पर आ गया। हिंदुस्तान यूनिलीवर का बाजार पूंजीकरण 9,034.04 करोड़ रुपये घटकर 5,52,592.14 करोड़ रुपये और एचडीएफसी का 3,861.42 करोड़ रुपये घटकर 4,73,801.61 करोड़ रुपये रह गया।

रिलायंस पहले स्‍थान पर बरकरार

शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर रही। उसके बाद क्रमश: टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, इन्फोसिस, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, भारती एयरटेल और बजाज फाइनेंस का स्थान रहा।

Write a comment
bigg boss 15