1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. व्‍हीकल स्‍क्रैप पॉलिसी को मिली मंजूरी, 1 अप्रैल 2022 से 15 साल पुराने सरकारी वाहनों के लिए होगी लागू

व्‍हीकल स्‍क्रैप पॉलिसी को मिली मंजूरी, 1 अप्रैल 2022 से 15 साल पुराने सरकारी वाहनों के लिए होगी लागू

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने अपने एक बयान में कहा कि मंत्री महोदय ने सरकारी विभागों और पीएसयू के 15 साल से अधिक पुराने वाहनों के डीरजिस्ट्रेशन और स्क्रैपिंग की नीति को अपनी मंजूरी दे दी है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: January 26, 2021 10:43 IST
Vehicle scrappage policy for over 15-year-old govt, PSU vehicles from April 1, 2022- India TV Paisa

 

Vehicle scrappage policy for over 15-year-old govt, PSU vehicles from April 1, 2022

नई दिल्‍ली। सरकारी विभागों और सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों (PSUs) के 15 साल से अधिक पुराने वाहनों के लिए स्‍क्रैप पॉलिसी को जल्‍द ही अधिसूचित कर दिया जाएगा और इसे 1 अप्रैल, 2022 से लागू किया जाएगा। केंद्र सरकार ने सोमवार को यह बात कही। सड़क परिवहन, राजमार्ग और एमएसएमई मंत्री नितिन गडकरी ने इस पॉलिसी को अपनी मंजूरी दे दी है।

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने अपने एक बयान में कहा कि मंत्री महोदय ने सरकारी विभागों और पीएसयू के 15 साल से अधिक पुराने वाहनों के डीरजिस्‍ट्रेशन और स्‍क्रैपिंग की नी‍ति को अपनी मंजूरी दे दी है। बयान में कहा गया है कि इसे शीघ्र ही अधिसूचित किया जाएगा और 1 अप्रैल, 2022 इसे लागू किया जाएगा।

केंद्र सरकार ने देश में इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री को बढ़ावा देने के लिए 15 साल से अधिक पुराने वाहनों को कबाड़ में बदलने के लिए 26 जुलाई, 2019 को मोटर व्‍हीकल कानून में संशोधन का प्रस्‍ताव किया था।

यह भी पढ़ें: आज लॉन्‍च होगी नई Tata Safari, Tata Motors ने किया लॉन्‍च कार्यक्रम LIVE देखने का खास इंतजाम

नितिन गडकरी ने 15 जनवरी को कहा था कि हमनें प्रस्‍ताव भेज दिया है और मुझे उम्‍मीद है कि स्‍क्रैप पॉलिसी के लिए हमें अतिशीघ्र कैबिनेट से मंजूरी प्राप्‍त हो जाएगी। उन्‍होंने यह भी कहा था कि जैसे ही इस पॉलिसी को मंजूरी मिल जाएगी, उसके बाद भारत एक ऑटोमोबाइल हब बन जाएगा और इसकी वजह से वाहनों की कीमतों में भी कमी आएगी।

गडकरी ने कहा कि पुराने वाहनों के रिसाइकल्‍ड सामग्री कीमत घटाने में मदद करेगी और इससे ऑटोमोबाइल इंडस्‍ट्री का राजस्‍व भी बढ़ेगा, जो वर्तमान में 1.45 लाख करोड़ रुपये के निर्यात के साथ 4.5 लाख करोड़ रुपये है।

यह भी पढ़ें: Kia Motors ने किया कमाल...17 महीने में बेचे इतने लाख वाहन

इससे पहले, वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा था कि पुराने वाहनों को कबाड़ में बदलने की एक नीति पर काम चल रहा है और मंत्रालयों की समीक्षा के बाद इसकी जल्‍द ही घोषणा की जाएगी। मई, 2016 में सरकार ने वॉलेंटरी व्‍हीकल फ्लीट मॉडर्नाइजेशन प्रोग्राम (V-VMP) को पेश किया था, जिसमें दशकों पुराने 2.8 करोड़ वाहनों को परिचालन से बाहर करने का प्रस्‍ताव किया गया है।

यह भी पढ़ें: सरकार ने BSNL-MTNL के विलय को टाला, BSNL को दी जमीन बेचने की मंजूरी

यह भी पढ़ें: 14 करोड़ लोगों में से प्रत्‍येक के खाते में जमा हो सकते हैं 94,045 रु.

यह भी पढ़ें: क्रेडिट कार्ड बिल से आप हो गए हैं परेशान, तो ऐसे कराएं अपना कार्ड बंद या कैंसिल

Write a comment
X