Monday, June 17, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. क्या Paytm में चल रही है "बड़ी गड़बड़ी", कंपनी ने रिजर्व बैंक के प्रतिबंध के बाद दिया ये बयान

क्या Paytm में चल रही है "बड़ी गड़बड़ी"? कंपनी ने RBI के बैन के बाद दिया ये बयान

बैंक के सभी आंकड़े देश के भीतर ही हैं। हम डिजिटल इंडिया अभियान में पूरी तरह यकीन करते हैं और देश में वित्तीय समावेशन को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: March 14, 2022 19:11 IST
Paytm Payment Bank- India TV Paisa
Photo:FILE

Paytm Payment Bank

नयी दिल्ली। Paytm Payments Bank ने सोमवार को कहा कि वह रिजर्व बैंक के स्थानीय स्तर पर डेटा भंडारण संबंधी नियमों का पूरी तरह अनुपालन करता है और उसके सारे आंकड़े देश के भीतर ही मौजूद हैं। रिजर्व बैंक ने गत शुक्रवार को पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड (पीबीबीएल) को नए खाते खोलने से इस आधार पर प्रतिबंधित कर दिया कि उसके परिचालन में ‘सामग्री निगरानी संबंधी चिंताएं’ पाई गई हैं। 

इस पर पीबीबीएल ने एक बयान में अपना पक्ष रखते हुए कहा, ‘‘बैंक के सभी आंकड़े देश के भीतर ही हैं। हम डिजिटल इंडिया अभियान में पूरी तरह यकीन करते हैं और देश में वित्तीय समावेशन को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध हैं।’’ उसने कहा कि ग्राहकों से जुड़े आंकड़े देश के भीतर ही सुरक्षित रखने संबंधी रिजर्व बैंक के नियमों का वह पूरी तरह अनुपालन करता है। रिजर्व बैंक ने इन आंकड़ों को महत्वपूर्ण मानते हुए सभी वित्तीय संस्थानों को स्थानीय स्तर पर डेटा सुरक्षित रखने का निर्देश दिया हुआ है। 

बहरहाल, नए खाते खोलने पर रोक लगने के बाद सोमवार को पेटीएम की मूल कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस के शेयरों में करीब 13 प्रतिशत की बड़ी गिरावट दर्ज की गई। इस गिरावट के पीछे पेटीएम पेमेंट्स बैंक के सर्वर से चीन की कुछ कंपनियों को आंकड़े भेजे जाने संबंधी खबर को जिम्मेदार माना जा रहा है। कंपनी ने उस रिपोर्ट को खारिज कर दिया है जिसके मुताबिक पेटीएम पेमेंट्स बैंक में चीन की कुछ फर्मों की भी अप्रत्यक्ष हिस्सेदारी है। 

पेटीएम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा की पेमेंट्स बैंक में 51 प्रतिशत हिस्सेदारी है जबकि बाकी हिस्सा वन97 कम्युनिकेशंस के पास है। चीन स्थित अलीबाबा समूह की अपनी अनुषंगियों के जरिये वन97 कम्युनिकेशंस में करीब 31 प्रतिशत हिस्सेदारी है। 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement