ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. गैजेट
  5. भारत में Apple iPhone फैक्ट्री दोबारा शुरू करेगा फॉक्सकॉन, खराब भोजन से मचे 'बवाल' के कारण हुई थी बंद

भारत में Apple iPhone फैक्ट्री दोबारा शुरू करेगा फॉक्सकॉन, खराब भोजन से मचे 'बवाल' के कारण हुई थी बंद

कंपनी ने आगे कहा कि कर्मचारी निवास स्थल तैयार होने और उसे मंजूरी मिलने के बाद वह क्रमिक रूप से टीम के सदस्यों का स्वागत करना शुरू कर देगी।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: January 10, 2022 14:21 IST
भारत में Apple iPhone...- India TV Paisa
Photo:AP

भारत में Apple iPhone फैक्ट्री दोबारा शुरू करेगा फॉक्सकॉन, खराब भोजन से मचे 'बवाल' के कारण हुई थी बंद 

Highlights

  • फॉक्सकॉन टेक्नोलॉजी ग्रुप ने तमिलनाडु संयंत्र में कई सुधारात्मक उपाए किए हैं
  • विषाक्त भोजन दिए जाने के बाद कंपनी को विरोध प्रदर्शन का समाना करना पड़ा
  • 15,000 से अधिक कर्मचारियों वाली फैक्ट्री में 18 दिसंबर से काम बंद है

नयी दिल्ली। एप्पल के लिए आपूर्ति करने वाली कंपनी फॉक्सकॉन टेक्नोलॉजी ग्रुप ने सोमवार को कहा कि उसने तमिलनाडु संयंत्र में कई सुधारात्मक उपाए किए हैं और कर्मचारियों को धीरे-धीरे श्रीपेरंबुदूर कारखाने में वापस लाया जाएगा। फॉक्सकॉन के श्रीपेरुंबुदूर कारखाने के कर्मचारी निवास स्थल में बीते दिनों बड़े पैमाने पर विषाक्त भोजन दिए जाने की घटना के बाद कंपनी को कर्मचारियों के तीखे विरोध प्रदर्शन का समाना करना पड़ा था और फिलहाल 18 दिसंबर से वहां काम बंद है। 

होन हाई टेक्नोलॉजी ग्रुप (फॉक्सकॉन) ने एक बयान में कहा, ‘‘हम श्रीपेरंबुदूर में कर्मचारी निवास की सुविधाओं में पाए गए मसलों को ठीक करने और अपने कर्मचारियों को दी जाने वाली सेवाओं को बढ़ाने के लिए कई तरह के सुधारों पर काम कर रहे हैं। हमने यह सुनिश्चित करने के लिए कई सुधारात्मक उपाए किए हैं, ताकि ऐसा दोबारा न हो और अब कर्मचारी अपना नाम गोपनीय रखकर अपनी किसी भी चिंता को बता सकते हैं।’’ 

कंपनी ने आगे कहा कि कर्मचारी निवास स्थल तैयार होने और उसे मंजूरी मिलने के बाद वह क्रमिक रूप से टीम के सदस्यों का स्वागत करना शुरू कर देगी। सूत्रों के अनुसार कर्मचारी निवास स्थल को सरकार और एप्पल की अनुमति मिलने के बाद कारखाने में क्रमिक रूप से काम शुरू कर दिया जाएगा। 

एप्पल के एक प्रवक्ता ने कहा कि श्रीपेरंबुदूर संयंत्र अभी भी निगरानी में है। उन्होंने कहा, ‘‘पिछले कई हफ्तों से स्वतंत्र लेखा परीक्षक और एप्पल की टीम फॉक्सकॉन के साथ काम कर रही हैं, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि श्रीपेरंबदूर में कर्मचारी निवास तथा खानपान की सुविधा में व्यापक सुधारात्मक उपाए लागू किए जा सकें।’’ 

हालांकि, कंपनियों ने परिचालन फिर से शुरू करने के लिए अपेक्षित समयसीमा पर कोई टिप्पणी नहीं की। दूसरी ओर सूत्रों ने कहा कि संयंत्र में पूरी तरह परिचालन शुरू करने में अधिक समय लगेगा और श्रमिकों को अगले कुछ महीनों में चरणबद्ध तरीके से वापस लाया जाएगा। कारखाने में 15,000 से अधिक लोग काम कर रहे थे। 

Write a comment
elections-2022