1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. आईपीएल 2022
  5. IPL 2022 : अंपायर ने बीच मैच में खतरनाक गेंदबाज को गेंदबाजी से रोका, जानिए इसका कारण

IPL 2022 : अंपायर ने बीच मैच में खतरनाक गेंदबाज को गेंदबाजी से रोका, जानिए इसका कारण

पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने 20 ओवर में तीन विकेट के नुकसान पर 149 रन बनाए थे और लखनऊ सुपर जाएंट्स के सामने जीत के लिए 150 रन का छोटा सा टोटल रखा था।

India TV Sports Desk Written by: India TV Sports Desk
Updated on: April 08, 2022 9:58 IST
anrich nortje - India TV Hindi
Image Source : IPLT20.COM anrich nortje 

Highlights

  • एन​रिक नोर्खिया ने मैच में दो बार कमर से ऊपर फेंक दी थी गेंद
  • अंपायर ने दो बार बीमर फेंकने के बाद गेंदबाजी करने से उन्हें रोका
  • एक बार क्विंटन डिकॉक और दूसरी बार दीपक हुड्डा को फेंका बीमर

आईपीएल 2022 का रोमांच जारी है। इस बीच गुरुवार को दिल्ली कैपिटल्स और लखनऊ सुपरजाएंट्स के बीच मैच खेला गया। मैच को लखनऊ सुपर जाएंट्स ने अपने नाम कर लिया। पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने 20 ओवर में तीन विकेट के नुकसान पर 149 रन बनाए थे और लखनऊ सुपर जाएंट्स के सामने जीत के लिए 150 रन का छोटा सा टोटल रखा था। एलएसजी ने इस स्कोर को दो गेंद शेष रहते ही जीत लिया। इस बीच एक घटना भी हुई, जिसको लेकर खूब चर्चा हो रही। मैच के दौरान अंपायर ने दिल्ली कैपिटल्स के गेंदबाज एन​रिक नोर्खिया को बीच ओवर में ही गेंदबाजी करने से रोक दिया। इसके बाद वे पूरे मैच में गेंदबाजी नहीं कर सके। 

दरअसल एनरिक नोर्खिया मैच का 14वां ओवर डालने आए और उनके सामने थे उनके ही देश के क्विंटन डिकॉक। इस ओवर की पहली ही गेंद सीधे फेंक दी और गेंद कमर से ऊपर की थी, अंपायर ने इसे नो बॉल करार दिया। लगा कि गेंद नोर्खिया के हाथ से छूट गई थी, क्योंकि ये दूसरी पारी चल रही थी और उस वक्त तक ठीकठाक ओस भी आ गई थी। ये गेंद 141 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से थी। हालांकि इसके बाद फ्री हिट दिया गया और मैच जारी रहा। 

इसके बाद 16वां ओवर फिर से एनरिच नोर्खियां ही लेकर आए। तीसरी गेंद नोर्खिया ने डाली और उनके सामने थे दीपक हुड्डा। ये भी एक बीमर था और गंद बल्ले पर लगकर प्वाइंटस की ओर चली गई। इस गेंद पर कैप भी पकड़ा गया, लेकिन अंपायर ने जब चेक किया तो पता चला कि ये भी कमर से ऊपर की थी। जब ये पक्का हो गया कि गेंद ऊपर है तो अंपायर ने एनरिक नोर्खिया को आगे गेंदबाजी करने से रोक दिया। कुछ देर तक मैदान पर गहमा गहमी रही और बीच हुई गेंदों का ओवर कराने के लिए कप्तान रिषभ पंत ने कुलदीप यादव को बुलाया। कुलदीप यादव ने इसी ओवर की आखिरी गेंद पर क्विवंटन डिकॉक का विकेट भी चटका दिया। कुलदीप यादव ने उन्हें सरफराज के हाथों कैच कराया। क्विंटन डिकॉक ने 52 गेंद पर 80 रन की बेहतरीन पारी खेली और लखनऊ सुपर जाएंट्स की जीत का आधार​ उन्हीं ने रखा।