1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. आईपीएल 2022
  5. Abhijeet Tomar IPL 2022: क्रिकेट छोड़कर वकील बनने का बना लिया था मन, KKR ने बदली इस बल्लेबाज की किस्मत

Abhijeet Tomar IPL 2022: क्रिकेट छोड़कर वकील बनने का बना लिया था मन, KKR ने बदली इस बल्लेबाज की किस्मत

अभिजीत तोमर को आईपीएल 2022 के अपने आखिरी लीग मैच में केकेआर ने अजिंक्य रहाणे की जगह मौका दिया है। ऑक्शन में उन्हें 40 लाख रुपए में कोलकाता ने खरीदा था।

Priyam Sinha Written by: Priyam Sinha @PriyamSinha4
Published on: May 18, 2022 20:32 IST
अभिजीत तोमर को आखिरी...- India TV Hindi
Image Source : KOLKATA KNIGHT RIDERS अभिजीत तोमर को आखिरी लीग मैच में केकेआर ने दी कैप

Highlights

  • केकेआर ने आखिरी लीग मैच में अभिजीत तोमर को दिया डेब्यू का मौका
  • चोटिल अजिंक्य रहाणे की जगह टीम में शामिल हुए अभिजीत तोमर
  • मेगा ऑक्शन में केकेआर ने 40 लाख रुपए में जोड़ा था अपने साथ

राजस्थान के 27 वर्षीय सलामी बल्लेबाज अभिजीत तोमर (Abhijeet Tomar) ने IPL 2022 में कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के लिए टीम के आखिरी लीग मैच में डेब्यू किया। उन्होंने अभी तक अपनी टीम राजस्थान के लिए 9 लिस्ट ए और 5 टी20 डॉमेस्टिक मैच खेले हैं। टी20 क्रिकेट में उनकी करीब तीन साल बाद वापसी भी हुई है। उनका करियर 2018 में शुरू हुआ था लेकिन एक ऐसा पड़ाव ऐसा कि उन्हें अपनी सबसे पसंदीदा चीज (क्रिकेट) से दूर होना पड़ा। अभिजीत तोमर को IPL 2022 के मेगा ऑक्शन में कोलकाता नाइट राइडर्स ने 40 लाख रुपए में अपने साथ जोड़ा था। 

अभिजीत को लीग के आखिरी मुकाबले में चोटिल हुए सीनियर खिलाड़ी अजिंक्य रहाणे की जगह टीम में शामिल किया गया। उन्होंने 8 जनवरी 2018 को 2017-18 जोनल टी 20 लीग में राजस्थान के लिए अपने टी20 करियर की शुरुआत की थी। इसके बाद 2018-19 विजय हजारे ट्रॉफी में उन्होंने राजस्थान के लिए लिस्ट ए करियर की शुरुआत की। 8 दिसंबर 2021 को, 2021-22 विजय हजारे ट्रॉफी के पहले दिन, तोमर ने लिस्ट ए क्रिकेट में अपना पहला शतक जड़ा और नाबाद 104 रन बनाए। 

अगर नहीं खरीदे जाते तो बन जाते वकील

आपको बता दें कि अभिजीत तोमर के पिता एक रिटायर्ड जज हैं। तोमर शुरू से ही पढ़ाई में औसत स्टूडेंट थे। क्रिकेट करियर पर ब्रेक लगने के बाद वह भी लॉ की डिग्री के लिए पढ़ने लगे। इतने में ही दोबारा उनकी लाइफ में क्रिकेट की वापसी हुई। लेकिन उनकी लॉ की पढ़ाई भी जारी रही। उनके कोच चंदन चौधरी ने बताया कि,'अगर इस साल ऑक्शन में उन्हें नहीं लिया जाता तो वह (अभिजीत) खेल को छोड़कर एक वकील बन जाते।'

इंजरी बनी राह का रोड़ा

अभिजीत ने अपने करियर की शुरुआत अच्छी की थी लेकिन इंजरी उनकी राह का रोड़ा बन गई। वह लगातार चोट से जूझते रहे और उन्हें ना चाहते हुए भी क्रिकेट से दूर रहना पड़ा। फिर कोरोना की एंट्री हो गई और उनके उगते हुए करियर पर ब्रेक लग गया। इसके बाद तोमर ने वापसी की और क्या शानदार वापसी की। उन्होंने रणजी ट्रॉफी और उसके बाद विजय हजारे ट्रॉफी में अपनी टीम राजस्थान के लिए सर्वाधिक रन बनाए। लेकिन उनकी टीम ने शायद उन्हें टी20 के लिए उपयोगी नहीं समझा और सैय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लि उन्हें टीम में जगह नहीं मिली।

इसके बाद तोमर हारे नहीं और फरवरी 2022 में IPL 15 के मेगा ऑक्शन से पहले उन्होंने राजस्थान रॉयल्स, मुंबई इंडियंस और केकेआर के लिए ट्रायल दिया। रॉयल्स के लिए ट्रायल मैच में उन्होंने नाबाद 70 रनों की पारी खेली। इसे देखकर केकेआर मैनेजमेंट प्रभावित हुआ और उन्होंने तोमर को ओपनिंग व मिडिल ऑर्डर समेत अलग-अलग भूमिकाओं में आजमाया। फिर बारी है ऑक्शन की तो राजस्थान और कोलकाता के बीच अभिजीत के लिए थोड़ी लड़ाई दिखी लेकिन अंत में केकेआर ने उन्हें 40 लाख रुपए में खरीद लिया।