Russia-Ukraine War: रूस के राष्ट्रपति पुतिन पर बड़ी कार्रवाई, इंटरनेशनल कोर्ट ने जारी किया अरेस्ट वारंट

अंतरराष्ट्रीय अदालत ने यूक्रेन में कार्रवाई को लेकर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। अब पुतिन गिरफ्तार हो सकते हैं।

Kajal Kumari Edited By: Kajal Kumari
Updated on: March 17, 2023 21:46 IST
arrest warrant issued against vladimir putin- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO वारंट जारी, गिरफ्तार होंगे रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन

Russia-Ukraine War: अंतरराष्ट्रीय अदालत ने यूक्रेन में कार्रवाई को लेकर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। बता दें कि रूस के समर्थन के एक स्पष्ट प्रदर्शन में, चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग सोमवार से शुरू होने वाली तीन दिवसीय यात्रा पर रूस जाएंगे। यूक्रेन पर चल रहे आक्रमण और पश्चिम और पूर्व के बीच कड़े संबंधों के बीच, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के अपने चीनी समकक्ष के साथ पूर्वी यूरोपीय देश में संघर्ष पर चर्चा करने की उम्मीद है। दोनों देशों ने शुक्रवार को बैठक की घोषणा की। इस बीच इंटरनेशनल कोर्ट ने पुतिन पर बड़ी कार्रवाई करते हुए गिरफ्तारी का वारंट जारी कर दिया है।

युद्ध अपराधों को लेकर जारी किया गया वारंट

अंतरराष्ट्रीय अपराध न्यायालय (आईसीसी) ने शुक्रवार को कहा कि उसने यूक्रेन से बच्चों के अपहरण में कथित संलिप्तता के कारण युद्ध अपराधों के लिए रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। आईसीसी ने एक बयान में कहा कि पुतिन ‘‘बच्चों के अवैध निर्वासन और यूक्रेन के कब्जे वाले क्षेत्रों से रूसी संघ में बच्चों को अवैध रूप से ले जाने संबंधी युद्ध अपराधों के लिए कथित रूप से जिम्मेदार हैं।’’ इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय अपराध न्यायालय ने रूसी राष्ट्रपति के कार्यालय में बाल अधिकार मामलों की आयुक्त मारिया अलेक्सेयेवना लवोवा-बेलोवा के खिलाफ भी ऐसे ही आरोपों के सिलसिले में गिरफ्तारी वारंट जारी किया है।

सोमवार को रूस जाएंगे शी जिनपिंग

शी जिनपिंग की यात्रा चीन के विदेश मंत्रालय द्वारा रूस और यूक्रेन के बीच लड़ाई को समाप्त करने की पेशकश करने वाले 12-सूत्रीय प्रस्ताव को जारी करने के लगभग तीन सप्ताह बाद हो रही है। हालांकि, आलोचकों ने कहा कि प्रस्ताव का कोई फल नहीं हो सकता है क्योंकि चीन ने यूक्रेन पर आक्रमण के दौरान भी रूसी नेता व्लादिमीर पुतिन को मजबूत समर्थन प्रदान किया है। प्रस्ताव में, चीन ने यूक्रेन को हथियारों की आपूर्ति को संयुक्त राष्ट्र में "आग में ईंधन जोड़ने" के रूप में माना।

हाल ही में, चीनी विदेश मंत्री किन गैंग ने अपने यूक्रेनी समकक्ष दमित्रो कुलेबा से कहा कि बीजिंग साल भर पुराने संघर्ष के नियंत्रण से बाहर होने को लेकर चिंतित था और उसने रूस के साथ चल रही स्थिति पर बातचीत का आग्रह किया।समाचार एजेंसी एपी ने किन के हवाले से कहा, चीन ने "यूक्रेन मुद्दे पर हमेशा एक उद्देश्यपूर्ण और निष्पक्ष रुख कायम रखा है, शांति को बढ़ावा देने और बातचीत को आगे बढ़ाने के लिए खुद को प्रतिबद्ध किया है और अंतरराष्ट्रीय समुदाय से शांति वार्ता के लिए स्थिति बनाने का आह्वान किया है।"

ये भी पढ़ें:

चीन का बढ़ेगा ब्लड प्रेशर, राफेल देने वाले फ्रांस ने भारत को दिया 6 न्यूक्लियर सबमरीन का ऑफर

इस देश के युवाओं को शा​दी करने में इंटरेस्ट नहीं, जानिए किस रिकॉर्ड ने सरकार का बढ़ाया सिरदर्द

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन