Storm In Japan: जापान में आए तुफान ने तोड़ी अंतरिक्ष केंद्र की दीवार, रोकी गई दर्जनों उड़ानें

Storm In Japan: अर्थव्यवस्था और उद्योग मंत्रालय के मुताबिक, क्यूशू द्वीप के दक्षिण में तनेगाशिमा द्वीप पर, जापान ‘एअरोस्पेस एंड एक्सप्लोरेशन’ एजेंसी के अंतरिक्ष केंद्र की एक दीवार टूट गई है।

Shashi Rai Edited By: Shashi Rai @km_shashi
Published on: September 20, 2022 11:05 IST
 Storm In Japan- India TV Hindi
Image Source : AP Storm In Japan

Highlights

  • जापान में आए तुफान ने तोड़ी अंतरिक्ष केंद्र की दीवार
  • 100 से अधिक लोग घायल हो गए हैं
  • गलवार सुबह भी बिजली आपूर्ति ठप रही

Storm In Japan: दक्षिण-पश्चिमी जापान में दस्तक देने के बाद उष्णकटिबंधीय तूफान मंगलवार को प्रशांत महासागर की तरफ बढ़ गया। इस कारण 100 से अधिक लोग घायल हो गए हैं और यातायात व बिजली आपूर्ति की सुविधाएं ठप पड़ गई हैं। तूफान ‘नानमादोल’ ने उत्तरी तोक्यो की ओर बढ़ने से पहले दक्षिणी जापान में काफी नुकसान किया। अर्थव्यवस्था और उद्योग मंत्रालय के मुताबिक, क्यूशू द्वीप के दक्षिण में तनेगाशिमा द्वीप पर, जापान ‘एअरोस्पेस एंड एक्सप्लोरेशन’ एजेंसी के अंतरिक्ष केंद्र की एक दीवार टूट गई है। रॉकेट बनाने के लिए इस्तेमाल की गई इमारत को हुए नुकसान का आकलन किया जा रहा था। दमकल और आपदा प्रबंधन एजेंसी के अनुसार, सोमवार को जापान के दक्षिणी मुख्य द्वीप क्यूशू के मियाज़ाकी प्रांत में दो लोगों की मौत हो गई। 

पश्चिमी जापान में 115 लोग घायल

एजेंसी ने बताया कि हिरोशिमा के पश्चिमी प्रांत में एक व्यक्ति लापता हो गया और पश्चिमी जापान में 115 लोग घायल हो गए। हालांकि, अधिकांश लोगों को मामूली चोटें आई हैं। अर्थव्यवस्था और उद्योग मंत्रालय के अनुसार, क्यूशू क्षेत्र के लगभग एक लाख 30 हजार से अधिक मकानों में मंगलवार सुबह भी बिजली आपूर्ति ठप रही। हालांकि, ज्यादातर यातायात सुविधाएं मंगलवार को सामान्य हो गई। 

पूर्वी जापान में दर्जनों उड़ानें रोक दी गईं

बुलेट ट्रेनों और जमीनी परिवहन का संचालन फिर शुरू हो गया, लेकिन पूर्वी जापान में दर्जनों उड़ानें रोक दी गईं। जापान मौसम विज्ञान एजेंसी ने मंगलवार को कहा कि उष्णकटिबंधीय तूफान उत्तरी जापानी तट से प्रशांत महासागर की ओर बढ़ गया है। 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन