1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. बाढ़ प्रभावित केरल में हैजा-रोधी टीकों के लिए WHO से आग्रह करे राज्‍य सरकार : शशि थरूर

बाढ़ प्रभावित केरल में हैजा-रोधी टीकों के लिए WHO से आग्रह करे राज्‍य सरकार : शशि थरूर

कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने केरल सरकार को सलाह दी है कि वह विश्व स्वास्थ्य संगठन(डब्ल्यूएचओ) से 20 लाख हैजा-रोधी टीकों की आपूर्ति करने का आग्रह करे।

Sachin Chaturvedi Sachin Chaturvedi
Published on: August 22, 2018 18:49 IST
Shashi Tharoor- India TV Hindi
Shashi Tharoor

तिरुवनंतपुरमबाढ़ का पानी घटते ही केरल में अब संक्रामक बीमारियों के फैलने की आशंक बढ़ गई है। इसे देखते हुए कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने केरल सरकार को सलाह दी है कि वह बाढ़ प्रभावित राज्य में जल-जनित रोगों के खतरों को कम करने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन(डब्ल्यूएचओ) से 20 लाख हैजा-रोधी टीकों की आपूर्ति करने का आग्रह करे। थरूर के कार्यालय से जारी बयान के अनुसार, तिरुवनंतपुरम के सांसद और विदेश मामलों के संसदीय प्रवर समिति के अध्यक्ष थरूर ने यह सलाह सोमवार व मंगलवार को जेनेवा में डब्ल्यूएचओ, इंटरनेशनल रेड क्रास और संयुक्त राष्ट्र के शीर्ष नेतृत्व से चर्चा करने के बाद दिया है।

उन्होंने इन संस्थाओं के अधिकारियों को केरल के मानवीय संकट के बारे में बताया। केरल में बाढ़ से अबतक 370 लोगों की जान चली गई है और लगभग 10 लाख लोग 3,000 राहत शिविरों में रहने को मजबूर हैं। बयान के अनुसार, "इस चर्चा से पहले, थरूर ने वार्ता की प्रकृति और प्राथमिकता के खास क्षेत्रों को लेकर केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन से संपर्क किया था।"

बयान के अनुसार, "थरूर ने बुधवार को भी चर्चा से प्राप्त प्रभाव और राज्य के लिए संभावित कार्रवाई के संबंध में विजयन को पत्र लिखा।" थरूर ने राज्य सरकार को यह जांच करने के लिए कहा कि क्या राज्य को मृत शव प्रबंधन के लिए बहुक्षेत्रीय जरूरी मूल्यांकन और गुजरात विश्वविद्यालय के फोरेंसिक सहयोग की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि राज्य को संयुक्त राष्ट्र के साथ मिलकर 'केरल को फिर से बेहतर बनाने के लिए' एक अंतर्राष्ट्रीय पुनर्निर्माण सम्मेलन का आयोजन करना चाहिए। थरूर ने जेनेवा में संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि राजदूत राजीव चंदर को भी अपनी बैठक के बारे में बताया।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X