Saturday, May 18, 2024
Advertisement

और कितने 'रूप' बदलेगा कोरोना! विदेश से भारत आने वाले यात्रियों में ओमिक्रॉन के 11 सब वैरिएंट मिले

कोरोना दुनियाभर के कई देशों में तबाही मचा रहा है। इसी बीच हमारे देश में विदेश से आने वाले यात्रियों में एक दो नहीं, बल्कि कोरोना के 11 अलग अलग सब वैरिएंट मिले हैं। टेस्टिंग के दौरान अब कोरोना अलग अलग 'भेष' बदलता दिखाई दे रहा है। समुद्र और हवाई मार्ग से आने वाले यात्रियों की टेस्टिंग में ये वैरिएंट मिले हैं।

Written By: Deepak Vyas @deepakvyas9826
Updated on: January 05, 2023 16:20 IST
विदेश से भारत आने यात्रियों में ओमिक्रॉन के 11 सब वैरिएंट मिले - India TV Hindi
Image Source : FILE विदेश से भारत आने यात्रियों में ओमिक्रॉन के 11 सब वैरिएंट मिले

चीन में तो कोरोना तबाही मचा ही रहा है, हमारे देश में बाहर से आने वाले यात्रियों में भी कोरोना पाया गया। लेकिन यहां हैरान करने वाली बात यह है कि ये कोरोना का कोई एक वैरिएंट नहीं, बल्कि भारत आने वाले यात्रियों में ओमिक्रॉन के 11 सब वैरिएंट मिले हैं। इससे यह स्पष्ट हो रहा है कि कोरोना किस तरह अलग अलग रूप रखकर अपनी दशा बदल रहा है। इतने सब वैरिएंट के सामने आने के बाद ये एकदम से अंदाजा लगाना मुश्किल है कि कौनसा वैरिएंट कितना बुरा असर डालेगा। 

चीन, जापान, साउथ कोरिया, अमेरिका के साथ ही दुनिया के कई देशों में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। पड़ोसी देश चीन में कोरोना ने भारी नुकसान पहुंचाया है। इस तबाही को दुनिया भी समझ रही है। इन सबके बीच विदेश से समुद्र और हवाई मार्ग से भारत आने वाले यात्रियों में कोरोना के एक, दो नहीं बल्कि 11 वैरिएंट मिले हैं।

समुद्र और हवाई मार्ग से आए यात्रियों की हुई टेस्टिंग

सूत्रों के मुताबिक, 24 दिसंबर से 3 जनवरी तक एयरपोर्ट और समुद्र के रास्ते भारत आए यात्रियों की कोरोना टेस्टिंग की गई थी। इनमें पॉजिटिव मिले यात्रियों में कोरोना वायरस के 11 वैरिएंट मिले हैं। समाचार एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से बताया कि 24 दिसंबर से 3 जनवरी तक विदेश से आए 19,227 यात्रियों का कोरोना टेस्ट किया गया। इनमें से 124 यात्रियों में कोरोना का संक्रमण पाया गया। संक्रमित लोगों की जीनोम सीक्वेंसिंग की गई, तो इनमें  कोरोना के 11 अलग अलग वैरिएंट की पुष्टि हुई है। ये सभी ओमिक्रॉन के सब वैरिएंट हैं। ये बात जरूर है कि इनमें से कोई भी वैरिएंट नया नहीं है। ये पहले भी भारत में मिल चुके हैं। लेकिन 11 अलग अलग वैरिएंट मिलना भी कोरोना वायरस के बदलते 'भेष' को दर्शाता है।  

चीन में तबाही मचा रहे ये वैरिएंट

वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन (WHO) ने बताया कि चीन की ओर से जारी किए गए डेटा से पता चलता है कि ओमिक्रॉन के सब वेरिएंट्स BA.5.2 और BF.7 से ही लोग संक्रमित हो रहे हैं। ये वेरिएंट 97.5 प्रतिशत मामलों के लिए जिम्मेदार हैं। डब्ल्यूएचओ ने बताया कि डेटा चीनी रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र द्वारा 2000 से ज्यादा जीनोम सीक्वेंसिंट के विश्लेषण पर आधारित था।

भारत में कितने हैं कोरोना के मामले?

भारत में पिछले 24 घंटे में  कोरोना के 188 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 201 मरीज ठीक हुए हैं। ऐसे में सक्रिय केस घटकर अब 2,554 रह गए हैं। रिकवरी रेट 98.8% है। वहीं, डेली पॉजिटिविटी रेट सिर्फ 0.10% है। पिछले 24 घंटे में देखा जाए तो देश में 1,93,051 कोविड टेस्ट किए गए हैं। जबकि इस दौरान वैक्सीन की 61,828 डोज पिछले 24 घंटे में लगाई गई हैं। अब तक देश में कोरोना वैक्सीन की 220.12 करोड़ डोज लग चुकी हैं। इनमें 95.13 करोड़ सेकेंड, 22.42 करोड़ बूस्टर डोज हैं।

दुनिया में कहां कहां तबाही मचा रहा कोरोना

दुनियाभर में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 3.88 लाख केस मिले हैं। जबकि 1517 लोगों ने अपनी जान गंवाई है। चीन के बाद जापान में कोरोना तबाही मचा रहा है। जापान में 1.04 लाख मामले मिले हैं। जबकि दक्षिण कोरिया में 78 हजार, अमेरिका में 39 हजार, जर्मनी में 28 हजार और ब्राजील में 30 हजार केस मिले हैं। वहीं, मौतों की बात करें तो अमेरिका में सबसे ज्यादा 346, फ्रांस में 123, जर्मनी में 235, ब्राजील में 207, दक्षिण कोरिया में 54 लोगों की मौत हुई है।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement