Shrikant Tyagi: निलंबित होने के बाद भी नहीं मानी हार, इस पुलिस अधिकारी ने श्रीकांत त्यागी को पकड़वाने में निभाई अहम भूमिका

Shrikant Tyagi: महिला से गालीगलौच के बाद श्रीकांत त्यागी फरार चल रहा था। इसी दौरान उसके कुछ साथी पीड़ित महिला का पता पूछते हुए सोसाइटी जा पहुंचे थे। जिसके बाद खूब बवाल हुआ और बढ़ते दवाब को देखते हुए कई पुलिसकर्मी निलंबित कर दिए गए थे।

Sudhanshu Gaur Written By: Sudhanshu Gaur @SudhanshuGaur24
Updated on: August 10, 2022 9:21 IST
Shrikant Tyagi- India TV Hindi News
Image Source : PTI Shrikant Tyagi

Highlights

  • श्रीकांत त्यागी को मेरठ से किया गया गिरफ्तार
  • कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा
  • पुलिस टीम को तीन लाख रुपए इनाम का ऐलान

Shrikant Tyagi: नोएडा का गालीबाज नेता 4 दिनों फरार रहने के बाद मंगलवार को पुलिस की गिरफ्त में आ गया। कोर्ट ने उसे 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। श्रीकांत त्यागी पुलिस को लगातार चकमा दे रहा था। उसकी गिरफ्तारी एक चुनौती मानी जा रही थी। लेकिन नोएडा पुलिस ने मेरठ से उसे उसके तीन साथियों के साथ गिरफ्तार कर लिया। इस गिरफ्तारी में एक खास बात यह रही कि एक पुलिसकर्मी निलंबित होने के बाद भी केस में लगातार लगा रहा। उसने अपने निलंबन से निराश न होते हुए दिन-रात एक करते हुए त्यागी की गुत्थी सुलझाने में लगा रहा। 

मामले में किया गया था निलंबित 

महिला से गालीगलौच के बाद श्रीकांत त्यागी फरार चल रहा था। इसी दौरान उसके कुछ साथी पीड़ित महिला का पता पूछते हुए सोसाइटी जा पहुंचे थे। जिसके बाद खूब बवाल हुआ और बढ़ते दवाब को देखते हुए कई पुलिसकर्मी निलंबित कर दिए गए। इसी मामले में नोएडा फेज-2 थाना के तत्कालीन प्रभारी सुजीत उपाध्याय को भी निलंबित कर दिया गया। लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी।  

पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि निलंबित होने के बावजूद उपाध्याय ने हार नहीं मानी और त्यागी की गिरफ्तारी के लिए तीन राज्यों मे कोशिश करते रहे। उन्होंने अपने नेटवर्क का इस्तेमाल करते हुए त्यागी को गिरफ्तार करने में बड़ी अहम भूमिका निभाई। गौरतलब है कि त्यागी पर नोएडा पुलिस ने 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था।

सुजीत उपाध्याय इनाम के हकदार - पुलिस कमिश्नर 

मंगलवार को गिरफ्तारी के बाद प्रेस कांफ्रेंस के दौरान नोएडा पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने बताया, 'श्रीकांत की गिरफ्तारी में सुजीत उपाध्याय की अहम भूमिका रही है। निलंबित होने के बाद मायूस होकर घर बैठने के बजाय उन्होंने अपराधी को पकड़वाने में रात-दिन एक कर दिया। इसलिए वह उत्तर प्रदेश पुलिस के महानिदेशक और अपर मुख्य सचिव गृह द्वारा इनाम के हकदार बन गए हैं।'

पुलिस टीम को तीन लाख रुपए इनाम का ऐलान 

आपको बता दें कि श्रीकांत त्यागी को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को तीन लाख रुपये इनाम देने की घोषणा की गई है। अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने दो लाख रुपये व डीजीपी डीएस चौहान ने एक लाख रुपये इनाम देने का ऐलान किया है।

श्रीकांत ने महिला के साथ अभ्रद व्यवहार और धक्का दिया था 

गौरतलब है कि नोएडा की ग्रैंड ओमेक्स सोसाइटी में रहने वाली एक महिला ने सोसायटी में नियमों के उल्लंघन का हवाला देते हुए श्रीकांत त्यागी की ओर से कुछ पेड़ लगाने पर आपत्ति जताई थी, जिसके बाद त्यागी ने महिला के साथ अभ्रद व्यवहार किया और उसे धक्का भी दिया था। घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सार्वजनिक हो गया था। श्रीकांत त्यागी खुद को बीजेपी से संबद्ध बताता है, जबकि पार्टी ने उससे दूरी बनाए रखी है। मामले को लेकर विपक्षी दलों ने भी बीजेपी पर निशाना साधा है।

Latest Uttar Pradesh News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
navratri-2022