1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. MSME को कोरोना वायरस की चुनौतियों से निपटने में सक्षम बनाने के लिए पांच टिप्स

MSME को कोरोना वायरस की चुनौतियों से निपटने में सक्षम बनाने के लिए पांच टिप्स

तेजी से बढ़ती कोविड-19 महामारी से हर जगह के अर्थव्यवस्थाएं प्रभावित हो रही हैं, जो दुनिया के लिये एक अभूतपूर्व चुनौती है। वायरस का प्रकोप भारतीय अर्थव्यवस्था तथा वित्तीय बाजारों के लिये सबसे बड़े खतरों में से एक बन चुका है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: April 12, 2020 22:00 IST
Five tips for MSME to deal with the challenges due to Coronavirus- India TV Paisa
Photo:MSME

Five tips for MSME to deal with the challenges due to Coronavirus

नई दिल्ली: तेजी से बढ़ती कोविड-19 महामारी से हर जगह के अर्थव्यवस्थाएं प्रभावित हो रही हैं, जो दुनिया के लिये एक अभूतपूर्व चुनौती है। वायरस का प्रकोप भारतीय अर्थव्यवस्था तथा वित्तीय बाजारों के लिये सबसे बड़े खतरों में से एक बन चुका है। छोटे व्यवसाय सबसे अधिक प्रभावित हैं और इस लॉकडाउन का आघात झेल रहे हैं। भारत में 63 मिलियन से अधिक एमएसएमई हैं, जिनमें से कई प्रकोप बढ़ने के साथ बुरी तरह प्रभावित हो रहे हैं। इस आपातकाल की प्रतिक्रिया के तौर पर फेसबुक व्यवसायों के साथ निकटता से काम कर रहा है, ताकि उनकी मदद करने का सर्वश्रेष्ठ तरीका समझ सके। दुनियाभर के 140 मिलियन से अधिक छोटे व्यवसाय हर माह फेसबुक की एप्स का उपयोग करते हैं। व्यवसायों को इस कठिन समय से उबरने में मदद करने के लिये फेसबुक ने  बिजनेस रिसोर्स हब, लॉन्च किया है, जो एमएसएमई के लिये पांच सरल उपाय बताता है, ताकि वे अपने ग्राहकों को सहयोग दे सकें और व्यवसाय की कुछ चुनौतियों से निपट सकें।

1. अपने आप को सुरक्षित और सूचित रखें: हर किसी के दिमाग में कोविड -19 के साथ, व्यवसायों को विश्व स्वास्थ्य संगठन और उनके स्थानीय सरकार स्वास्थ्य विभाग जैसी जानकारी के विश्वसनीय स्रोतों का पालन करने की आवश्यकता है, ताकि वे विकसित स्थिति पर अपने उपयोगकर्ताओं के साथ नियमित और पारदर्शी रूप से संवाद कर सकें। साथ ही अपने कर्मचारियों और अपने ग्राहकों के लिए सही निर्णय लें। 

2. अपने उपभोक्ताओं के साथ संपर्क में रहें: ग्राहकों के साथ संपर्क में रहने, संबंध बनाने और नियमित रूप से संवाद करने का समय है। ईमेल पर, किसी की वेबसाइट पर, और फ़ेसबुक फैमिली ऑफ़ एप्स के पृष्ठों पर अपने ग्राहकों के साथ जानकारी साझा करना महत्वपूर्ण है। संचार चैनलों को खुला रखें, भले ही वे प्रतिक्रिया करने में धीमे हों।

3. ऑनलाइन इवेंट्स को होस्ट करें: तकनीक और विभिन्न टूल्‍स जैसे ऑनलाइन वेबिनार, या फेसबुक या इंस्टाग्राम पर लाइव सत्र का लाभ उठाएं, न केवल अपने ग्राहकों से जुड़ने के लिए, बल्कि आपके व्यवसाय को गतिमान रखने के लिए, भले ही यह धीमी गति से हो।

4. ग्राहक सेवा योजना तैयार करें: आने वाले महीनों के लिए एक योजना तैयार करें। एक ग्राहक के आधार पर आने वाले प्रश्न और अनुरोध हो सकते हैं। आकस्मिक रूप से प्रतिक्रिया देने और एक दर्शक के साथ पारदर्शी होने के लिए एक आकस्मिक योजना बनाई जानी चाहिए। ईमेल के लिए टेम्पलेट प्रतिक्रियाएं और फेसबुक मैसेंजर और इंस्टाग्राम डायरेक्ट मेसैज जैसी मुफ्त चैट सेवाएं आपके ग्राहकों के साथ गहरे स्तर पर जुड़ने का एक अवसर हैं।

5. अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (एफएक्‍यूज) की एक सूची प्रदान करें: आपके ग्राहक प्रश्न करने के लिए बाध्य हैं। विस्तृत प्रतिक्रियाएं और पुन: आश्‍वासन प्रदान करते हुए, उपभोक्ताओं से पूछे जाने वाले प्रश्नों की एक सूची तैयार करें। स्थिति को प्रकट करने के लिए अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों को अपडेट करते रहें।

अर्चना वोहरा, निदेशक, लघु और मध्यम व्यवसाय (एसएमबी), फेसबुक इंडिया ने कहा, “फेसबुक पर, हम छोटे व्यवसायों को सक्षम करने के लिए उपाय कर रहे हैं, और कोविड-19 के प्रकोप के दौरान लचीलेपन का निर्माण कर रहे हैं। हमने एक बिजनेस रिसोर्स हब लॉन्च किया है, जो एसएमबी को उन चुनौतियों से उबरने के लिए क्या करना चाहिए, इस पर मार्गदर्शन कर सकता है। हमने अपने कई प्रमुख कौशल और सलाह कार्यक्रमों के लिए आभासी प्रारूप भी शुरू किए हैं। विश्व स्तर पर हमने 30,000 छोटे व्यवसायों को समर्थन देने के लिए 100 मिलियन अमरीकी डॉलर के अनुदान की घोषणा की है।” 

Write a comment
X