1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. चेन्‍नई में रॉयल एन्‍फील्‍ड और यामाहा के प्‍लांट में मजदूरों की हड़ताल, सुबह से उत्‍पादन ठप

चेन्‍नई में रॉयल एन्‍फील्‍ड और यामाहा के प्‍लांट में मजदूरों की हड़ताल, सुबह से उत्‍पादन ठप

देश की दो प्रमुख टू्-व्‍हीलर कंपनी रॉयल एन्‍फील्‍ड एवं यामाहा इंडिया में उत्‍पादन ठप हो गया है। चेन्‍नई के निकट ऑरागाडम ऑटो क्‍लस्‍टर में स्थित इन दोनों कंपनियों मजदूरों ने हड़ताल कर दी है। 

India TV Paisa Desk Written by: India TV Paisa Desk
Updated on: September 25, 2018 14:15 IST
Royal enfield - India TV Hindi News

Royal enfield 

नई दिल्‍ली। देश की दो प्रमुख टू्-व्‍हीलर कंपनी रॉयल एन्‍फील्‍ड एवं यामाहा इंडिया में उत्‍पादन ठप हो गया है। चेन्‍नई के निकट ऑरागाडम ऑटो क्‍लस्‍टर में स्थित इन दोनों कंपनियों मजदूरों ने हड़ताल कर दी है। जिसके चलते यहां उत्‍पादन फिलहाल बंद है। स्‍थानीय ट्रेड यूनियन के नेता के मुताबिक मजदूरों में वेतन में बढ़ोत्‍तरी और नौकरी की शर्तों को लेकर हड़ताल कर दी है।

वर्किंग पीपुल ट्रेड यूनियन काउंसिल और रॉयल एन्‍फील्‍ड कर्मचारी यूनियन के वाइस प्रेसिडेंट आर संपत के मु‍ताबिक रॉयल एन्‍फील्‍ड के कर्मचारियों की यह हड़ताल आज सुबह से शुरू हुई। कर्मचारी यूनियन के सदस्‍यों ने रजिस्‍ट्रेशन के लिए आवेदन किया था। ये लोग विभिन्‍न मांगों पर समझौते और वेतन वृद्धि की मांग कर रहे हैं। संपत का दावा है कि प्‍लांट में नियमित और कॉन्‍ट्रेक्‍ट दोनों प्रकार के कर्मचारियों ने हड़ताल में हिस्‍सा लिया है।

रॉयल एन्‍फील्‍ड ने ऑरागाडम स्थित प्‍लांट में 150 करोड़ का निवेश किया है। इस प्‍लांट की उत्‍पादन क्षमता 150000 मोटरसाइकिलों की है। यहां हर रोज़ 750 रॉयल एन्‍फील्‍ड मोटरसाइकिलें तैयार होती हैं। लेकिन संपत के मुताबिक आज सुबह से यहां एक भी बाइक का निर्माण नहीं हुआ है। संपत ने आरोप लगाया है कि कंपनी ने प्रोबेशन पीरिएड में चल रहे 120 कर्मचारियों को न तो स्‍थाई किया है और न ही नौकरी से निकाला है। कंपनी ने उन्‍हें प्‍लांट में प्रवेश की अनुमति नहीं दी है। उन्‍होंने बताया कि हड़ताल का नोटिस कंपनी को दे दी गई थी।

वहीं दूसरी ओर यामाहा प्‍लांट में भी करीब 700 मजदूर हड़ताल पर हैं। सीटू के कांचीपुरम जिला अध्‍यक्ष एस कन्‍नन ने बताया कि यामाहा प्‍लांट में फिलहाल 40 फीसदी उत्‍पादन ही जारी है। इस प्‍लांट के 2000 कॉन्‍ट्रेक्‍ट वर्क अभी यहां काम कर रहे हैं। कन्‍नन के मुताबिक ये लोग सिर्फ रिअसेंबलिंग का काम कर रहे हैं। उत्‍पादन लगभग ठप है।

अंग्रेजी समाचार पत्र द हिंदू को दिए एक जवाब में रॉयल एन्‍फील्‍ड के प्रवक्‍ता ने कहा, अधिकांश इंजीरियर्स अपना काम कर रहे हैं। इसमें से कुछ काम पर नहीं आए हैं। हालांकि वे इस समय प्‍लांट में मौजूद हैं।

Latest Business News

Write a comment
navratri-2022