ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. अमेरिका को कोरोना संकट ने दिया बड़ा झटका, इस साल 3,120 अरब डॉलर के बजट घाटे का अनुमान

अमेरिका को कोरोना संकट ने दिया बड़ा झटका, इस साल 3,120 अरब डॉलर के बजट घाटे का अनुमान

पिछले वर्ष अमेरिका का बजट घाटा उसके इतिहास में सबसे अधिक 3,130 अरब डॉलर था।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: August 28, 2021 21:14 IST
अमेरिका को कोरोना...- India TV Paisa
Photo:AP

अमेरिका को कोरोना संकट ने दिया बड़ा झटका, इस साल 3,120 अरब डॉलर के बजट घाटे का अनुमान 

वाशिंगटन। अमेरिका की संघीय सरकार ने अर्थव्यवस्था में उम्मीद से बेहतर सुधार के बीच इस साल का बजट घाटा 3,120 अरब डॉलर रहने का अनुमान लगाया है। यह मई में लगाए गए अनुमान से करीब 555 अरब डॉलर कम है। अर्थव्यवस्था में सुधार के बावजूद अमेरिका सरकार ने शुक्रवार को कहा कि वह 30 सितंबर को समाप्त होने वाले बजट वर्ष में 3,120 अरब डॉलर के घाटे का अनुमान लगा रही है। अमेरिका के इतिहास का यह दूसरा सबसे बड़ा बजट घाटा होगा। 

पिछले वर्ष अमेरिका का बजट घाटा उसके इतिहास में सबसे अधिक 3,130 अरब डॉलर था। अमेरिका सरकार का अनुमान है कि अगले एक दशक के दौरान किसी भी साल वार्षिक घाटा 1,000 अरब डॉलर से कम रहने की संभावना नहीं है। राष्ट्रपति जो बाइडन की नेतृत्व वाली सरकार ने एक अक्टूबर, 2021 से शुरू होने वाले बजट वर्ष के लिए 1,540 अरब डॉलर के बजट घाटे का अनुमान लगाया है। 

केयर्न-भारत कानूनी मामले में समयसीमा तय

वाशिंगटन की एक संघीय अदालत ने ब्रिटेन की केयर्न एनर्जी के एक मुकदमे को खारिज करने की मांग वाली भारत सरकार की याचिका पर जवाब देने के लिए समयसीमा तय की है। गौरतलब है कि एक अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता अदालत ने भारत सरकार को केयर्न को 1.2 अरब डॉलर का भुगतान करने का आदेश दिया था। इस आदेश को लागू करवाने के लिए ब्रिटिश ऊर्जा कंपनी ने अमेरिका की अदालत में मुकदमा दायर किया है। डिस्ट्रिक्ट ऑफ कोलंबिया की अमेरिकी जिला अदालत के न्यायाधीश रिचर्ड जे लियोन ने केयर्न को सरकार की 'मोशन टू डिसमिस' (मुकदमा निरस्त करने की याचिका) याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिए 10 सितंबर तक का समय दिया है।

पढ़ें- भारतीय कंपनी Detel ने पेश किया सस्ता इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर, जबर्दस्त हैं खूबियां

पढ़ें- शहर में भी लागू हो मनरेगा, मोदी सरकार को अर्थशास्त्री जयां द्रेज का सुझाव

पढ़ें- SBI ग्राहकों के लिए बुरी खबर! बैलेंस न होने पर ट्रांजेक्शन हुआ फेल, तो लगेगा इतना 'जुर्माना'

पढ़ें- SBI ग्राहक घर बैठे बदल सकते हैं नॉमिनी का नाम, ये है तरीका

पढ़ें- पेटीएम से पेमेंट करना पड़ेगा महंगा, कंपनी ने थोपा एक्स्ट्रा चार्ज

Write a comment
elections-2022