1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Vistara ने किया Lufthansa के साथ कोडशेयर करार, यात्रियों को मिलेंगे माइल्‍स प्‍वाइंट

Vistara ने किया Lufthansa के साथ कोडशेयर करार, यात्रियों को मिलेंगे माइल्‍स प्‍वाइंट

करार के तहत, लुफ्थांसा, विस्तारा द्वारा संचालित करीब 18 उड़ानों को अपने एलएच कोड प्रदान करेगी।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: December 09, 2019 14:46 IST
Vistara inks codeshare agreement with Lufthansa- India TV Paisa
Photo:VISTARA

Vistara inks codeshare agreement with Lufthansa

नई दिल्‍ली। पूर्ण सेवा प्रदाता एयरलाइन विस्तार ने लुफ्थांसा के साथ कोडशेयर करार किया है। दोनों विमानन कंपनियों के बीच इंटरलाइन भागीदारी पहले से है। विस्तार ने सोमवार को जारी बयान में कहा कि दोनों एयरलाइंस जल्द इस करार का दायरा बढ़ाने पर विचार कर रही हैं। इससे दोनों एयरलाइंस के यात्रियों को एक दूसरे के नेटवर्क पर यात्रा करने पर माइल्स-प्‍वाइंट मिलेंगे।

कोडशेयर करार के तहत कोई एयरलाइन भागीदार विमानन कंपनी के लिए भी अपने यात्रियों की बुकिंग कर सकती है। ऐसे में वह उन गंतव्यों के लिए यात्रियों को सुगमता से सेवाएं उपलब्ध करा सकती है, जहां उसकी उपस्थिति नहीं है। एयरलाइन करार एक ऐसा समझौता है जिसके तहत भागीदार एयरलाइन द्वारा संचालित उड़ान के लिए टिकट जारी या स्‍वीकार किया जाता है।

करार के तहत लुफ्थांसा प्रतिदिन विस्तार द्वारा परिचालित करीब 18 उड़ानों में ‘एलएच’ डेजिगनेटर कोड जोड़गी। इसके तहत दिल्ली, मुंबई और चेन्नई सहित 10 भारतीय शहर आएंगे। ‘कोड शेयर’ करार के तहत कोई एयरलाइन भागीदार विमानन कंपनी के लिए भी अपने यात्रियों की बुकिंग कर सकती है। ऐसे में वह उन गंतव्यों के लिए यात्रियों को सुगमता से सेवाएं उपलब्ध करा सकती है जहां उसकी उपस्थिति नहीं है। लुफ्थांसा के साथ कोड शेयर करने वाली विस्तार दूसरी एयरलाइन है। इससे पहले एयर इंडिया ने लुफ्थांसा से ‘कोड शेयर’ करार किया था।

विस्तार ने सोमवार को जारी बयान में कहा कि दोनों एयरलाइंस जल्द इस करार का दायरा बढ़ाने पर विचार कर रही है। इससे दोनों एयरलाइंस के यात्रियों को एक दूसरे के नेटवर्क से यात्रा करने पर ‘माइल्स-प्वाइंट’ मिलेंगे। दिल्ली, मुंबई और चेन्नई के अलावा लुफ्थांसा के साथ यह कोड शेयर करार अहमदाबाद, बेंगलुरु, गोवा, हैदराबाद, कोलकाता, कोच्चि और पुणे में लागू होगा।

बयान में कहा गया है कि इस ‘कोड शेयर’ करार के तहत आज से सभी चैनलों और प्रमुख जीडीएस प्रणाली पर बिक्री शुरू होगी। इसके तहत 16 दिसंबर से यात्रा की जा सकेगी। विस्तार के मुख्य रणनीतिक अधिकारी विनोद कन्नन ने कहा कि वैश्विक एयरलाइन बनने की प्रक्रिया के तहत उसका मुख्य लक्ष्य ग्राहकों को इस तरह के रणनीतिक गठबंधनों के जरिये विस्तारित अंतरराष्ट्रीय नेटवर्क उपलब्ध कराना है।

बयान में कहा गया है कि कोडशेयर करार के तहत टिकटों की बिक्री सभी चैनल और प्रमुख जीडीएस सिस्‍टम पर सोमवार से शुरू कर दी गई है। यह टिकट 16 दिसंबर, 2019 से शुरू होने वाली उड़ानों के लिए मिलेंगे।

Write a comment