1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. 5 महीने में पहली बार बढ़ी थोक मूल्‍य आधारित महंगाई दर, जुलाई में 1.88 फीसदी पर पहुंची

5 महीने में पहली बार बढ़ी थोक मूल्‍य आधारित महंगाई दर, जुलाई में 1.88 फीसदी पर पहुंची

थोक मूल्‍य आधारित महंगाई दर में पांच महीने के बाद पहली बार इजाफा देखने को मिला है। इसकी प्रमुख वजह खाने-पीने की चीजों की कीमतों का बढ़ना है।

Manish Mishra Manish Mishra
Published on: August 14, 2017 13:29 IST
5 महीने में पहली बार बढ़ी थोक मूल्‍य आधारित महंगाई दर, जुलाई में 1.88 फीसदी पर पहुंची- India TV Paisa
5 महीने में पहली बार बढ़ी थोक मूल्‍य आधारित महंगाई दर, जुलाई में 1.88 फीसदी पर पहुंची

नई दिल्‍ली। थोक मूल्‍य आधारित महंगाई दर में पांच महीने के बाद पहली बार इजाफा देखने को मिला है। इसकी प्रमुख वजह खाने-पीने की चीजों की कीमतों का बढ़ना है। जुलाई में थोक मूल्‍य सूचकांक 1.88 फीसदी के स्‍तर पर रहा जो जून में 0.90 फीसदी था। पिछले साल इसी महीने के दौरान थोक महंगाई दर 0.63 फीसदी थी। अर्थशास्त्रियों का अनुमान था कि जुलाई में थोक मूल्‍य आधारित महंगाई दर 1.3 फीसदी के स्‍तर पर रहेगी।

यह भी पढ़ें : पनामा पेपर्स मामला : इनकम टैक्‍स विभाग के रडार पर अमिताभ बच्‍चन, 33 के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मासिक आधार पर जुलाई में सब्जियों की महंगाई दर -21.16 से बढ़कर 21.95 फीसदी हो गई है। वहीं टमाटर की कीमतें बढ़ने से खाद्य महंगाई जुलाई में महीने दर महीने आधार पर -1.25 फीसदी से बढ़कर 2.12 हो गई है। जुलाई में मैन्‍युफैक्‍चर्ड प्रोडक्‍ट की थोक महंगाई दर जून के 2.27 फीसदी से घटकर 2.18 फीसदी पर रही है। मासिक आधार पर जुलाई में ईंधन, पावर की थोक महंगाई दर 5.28 फीसदी से घटकर 4.37 फीसदी के स्तर पर रही है।

यह भी पढ़ें : बांबे हाई कोर्ट ने जारी की सहारा एंबी वैली की नीलामी की नोटिस, 37,392 करोड़ रुपए होगी रिजर्व्‍ड प्राइस

सब्जियों के अलावा जिन खद्य वस्‍तुओं की कीमतों में बढ़ोतरी दर्ज की गई उनमें अंडा, मांस और मछली शामिल हैं। इनकी थोक महंगाई दर 3.30 फीसदी के स्‍तर पर रही। फलों का थोक महंगाई दर में 2.71 फीसदी धान में 3.47 फीसदी और अनाज की थोक महंगाई दर में 0.63 फीसदी की बढ़ोतरी जुलाई में दर्ज की गई। बता दें कि आज शाम में रिटेल महंगाई दर के आंकड़े जारी किए जाएंगे।

Write a comment