1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. झटका: पेट्रोल की कीमतों में 84 रुपये का जबर्दस्त उछाल, सरकारी तेल कंपनी ने यहां उड़ाई लोगों की नींद

झटका: पेट्रोल की कीमतों में 84 रुपये का जबर्दस्त उछाल, सरकारी तेल कंपनी ने यहां उड़ाई लोगों की नींद

सरकारी तेल कंपनी सीलोन पेट्रोलियम कॉरपोरेशन (सीपीसी) ने सोमवार आधी रात से ईंधन की कीमत बढ़ा दी हैं।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: April 19, 2022 11:50 IST
IOC Lanka- India TV Paisa
Photo:FILE

IOC Lanka

Highlights

  • सरकारी तेल कंपनियों ने आम लोगों को एक और तगड़ा झटका दिया है
  • सीलोन पेट्रोलियम कॉरपोरेशन ने आधी रात से ईंधन की कीमत बढ़ा दी
  • पेट्रोल की कीमत 84 रुपये बढ़ाकर 338 रुपये प्रति लीटर कर दी है

कोलंबो। कंगाल हो चुके श्रीलंका में लोगों की मुश्किलें दिन ब दिन बढ़ती जा रही हैं। पेट्रोल पंप पर तेल की किल्लत है, वहीं अब यहां कीमतें भी आसमान पर हैं। अब सरकारी तेल कंपनियों ने आम लोगों को एक और तगड़ा झटका दिया है। 

श्रीलंका की सरकारी तेल कंपनी सीलोन पेट्रोलियम कॉरपोरेशन (सीपीसी) ने सोमवार आधी रात से ईंधन की कीमत बढ़ा दी हैं। इससे पहले इंडियन ऑयल के स्थानीय परिचालन ने कीमतों में बढ़ोतरी की घोषणा की थी। गौरतलब है कि श्रीलंका भीषण आर्थिक संकट का सामना कर रहा है और ताजा फैसले से आम लोगों की परेशानी बढ़ेगी। 

कितनी बढ़ी कीमतें 

सीपीसी ने 92 ऑक्टेन पेट्रोल की कीमत 84 रुपये बढ़ाकर 338 रुपये प्रति लीटर कर दी है। यह कीमत अब श्रीलंकाई भारतीय तेल कंपनी (एलआईओसी) की प्रति लीटर कीमत के बराबर हो गई है। सीपीसी एक महीने में दो बार दाम बढ़ा चुकी है।

इसी महीने बढ़ी थीं कीमतें

श्रीलंका की सरकारी तेल और गैस कंपनी सीलोन पेट्रोलियम ने इसी महीने पेट्रोल की कीमत में 77 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत में 55 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की थी। बढ़ोतरी के बाद पेट्रोल की कीमत 43.5 प्रतिशत बढ़कर रिकॉर्ड 254 रुपये प्रति लीटर, जबकि डीजल 45.5 प्रतिशत बढ़कर 176 रुपये प्रति लीटर के भाव पर पहुंच गया था। इससे पहले भारत की प्रमुख तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन की सहायक कंपनी लंका आईओसी ने भी पेट्रोल की कीमत में 50 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत में 75 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की थी। 

पेट्रोल पंप के बाहर कई किलोमीटर लंबी कतारें

आज कोलम्बो शहर में पेट्रोल पम्प के बाहर कई किलोमीटर लम्बी लाइनें देखी जा रही हैं। कतार में अपनी अपनी गाड़ियों के साथ लोग घण्टों इन्तजार करते नज़र आ रहे हैं। आर्थिक मंदी के चलते में पैट्रोल और उससे ज्यादा डीज़ल की भारी कमी हो गई है, श्रीलंका के पास इतना पैसा ही नहीं है कि वो लोगों की जरूरत के अनुरूप पैट्रोल और डीज़ल की आपूर्ति कर सके।

Write a comment
erussia-ukraine-news