Sunday, April 21, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. घड़ियां,वाइन, विंटेज कार समेत इन चीजों पर सबसे ज्यादा खर्च करते हैं अमीर लोग, देखें पूरी लिस्ट

वाइन, विंटेज कार और घड़ी समेत इन चीजों पर सबसे ज्यादा खर्च करते हैं अमीर लोग, देखें पूरी लिस्ट

नाइट फ्रैंक की ओर से 'द वेल्थ रिपोर्ट-2024' नाम से एक रिपोर्ट जारी की गई है। इसमें बताया गया कि भारत के सबसे अमीर लोग कहां खर्च करना पसंद करते हैं।

Abhinav Shalya Edited By: Abhinav Shalya
Published on: February 28, 2024 13:46 IST
Super rich people- India TV Paisa
Photo:CANVA जानिए कहां खर्च करना पसंद करते हैं भारत के सबसे अमीर लोग

भारत के अत्यधिक अमीर लोग अपनी निवेश योग्य संपत्ति का 17 प्रतिशत हिस्सा लग्जरी प्रोडक्ट्स पर खर्च करते हैं। उनकी पहली प्राथमिकता लक्जरी घड़ियां होती हैं। इसके बाद कलाकृतियों और फिर ज्वेलरी का नंबर आता है। ये सभी बातें नाइट फ्रैंक इंडिया की एक रिपोर्ट में यह बात कही गई हैं। 

'द वेल्थ रिपोर्ट-2024' रिपोर्ट हुई जारी 

रियल एस्टेट सलाहकार नाइट फ्रैंक ने बुधवार को ‘द वेल्थ रिपोर्ट-2024’ जारी की। इसमें कहा गया है कि अत्यधिक उच्च नेटवर्थ वाले लोगों (यूएचएनडब्ल्यूआई) ने अपनी निवेश योग्य संपत्ति का 17 प्रतिशत विलासिता या लक्जरी में लगाया है। यूएचएनडब्ल्यूआई की श्रेणी में तीन करोड़ डॉलर से अधिक के नेटवर्थ वाले लोगों को रखा गया है। सलाहकार कंपनी ने कहा कि किसी चीज का स्वामित्व रखने की खुशी प्रमुख कारण है जिसकी वजह से यूएचएनडब्ल्यूआई लक्जरी संपत्तियों में निवेश कर रहे हैं। 

विंजेट गाड़ियां भी बनी पसंद

भारतीय यूएचएनडब्ल्यूआई में लक्जरी घड़ियां निवेश का पसंदीदा विकल्प हैं। इसके बाद कलाकृतियां और ज्वेलरी आते हैं। वहीं, क्लासिक यानी विजेंट कारें चौथे स्थान पर हैं। इसके बाद लक्जरी हैंडबैग, वाइन, दुर्लभ व्हिस्की, फर्नीचर, रंगीन हीरे और सिक्कों का स्थान आता है। हालांकि, वैश्विक स्तर पर बेहद अमीर लोगों की पसंद लक्जरी घड़ियां और क्लासिक कारें हैं। 

नाइट फ्रैंक इंडिया के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक शिशिर बैजल ने रिपोर्ट में कहा,"भारत के समृद्ध वर्ग ने लंबे समय से विभिन्न श्रेणियों में संग्रहणीय वस्तुओं के प्रति रुचि दिखाई है। घरेलू और वैश्विक दोनों बाजार ऐसी वस्तुओं के लिए काफी अधिक रिटर्न की पेशकश करते हैं। भारत के अति-धनी वर्ग सक्रिय रूप से इसपर ध्यान दे रहा है।’’ उन्होंने कहा कि भारत में विभिन्न आयु समूहों में दुर्लभ संग्रहणीय वस्तुओं की मांग बढ़ रही है। 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement