1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. गैजेट
  5. ये बिजनेसमैन डाटा को सुरक्षित रखने के लिए तोड़ देता है स्‍मार्टफोन, इन तरीकों को अपनाकर आप बच सकते हैं ऐसे

ये बिजनेसमैन डाटा को सुरक्षित रखने के लिए तोड़ देता है स्‍मार्टफोन, इन तरीकों को अपनाकर आप बच सकते हैं ऐसे

अमेरिका की कंपनी टेस्ला के मालिक एलन मस्क अपने स्मार्टफोन को एक निश्चित अंतराल के बाद तोड़ देते हैं। एलन मस्क डाटा सुरक्षा कारणों से ऐसा करते हैं।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: October 25, 2019 14:21 IST
Elon Musk regularly destroys his phones for security purposes- India TV Paisa
Photo:ELON MUSK REGULARLY DESTR

Elon Musk regularly destroys his phones for security purposes

नई दिल्‍ली। आजकल मोबाइल हमारे जीवन का एक अभिन्‍न हिस्‍सा बन चुका है। सुबह जागने से लेकर रात को सोने तक यह हमारे साथ हमारी परछाई की तरह रहता है। इसका उपयोग हम न केवल कॉल करने के लिए करते हैं, बल्कि इसमें हम अपनी हर निजी और खास जानकारी को भी स्‍टोर करके रखते हैं। ऐसे में स्‍मार्टफोन हमारे लिए कितने महत्‍व की चीज है, इसे हम सब बहुत अच्‍छी तरह से समझ सकते हैं।

अगर आपसे कहा जाए कि एक अरबपति बिजनेसमैन हर महीने अपने स्‍मार्टफोन को तोड़कर नष्‍ट कर देता है तो आप इस पर भरोसा नहीं करेंगे। लेकिन यह सच है। अमेरिका की कंपनी टेस्‍ला के मालिक एलन मस्‍क अपने स्‍मार्टफोन को एक निश्चित अंतराल के बाद तोड़ देते हैं। एलन मस्‍क डाटा सुरक्षा कारणों से ऐसा करते हैं।

अमेरिकी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एलन मस्‍क अपने पुराने स्‍मार्टफोन के डाटा को निकालकर सुरक्षित कर लेते हैं। इसके बाद स्‍मार्टफोन को नष्‍ट कर दिया जाता है। यह प्रक्रिया नियमित तौर पर अपनाई जाती है, ताकि मस्‍क का डाटा सुरक्षित रखा जा सके।

आपको बता दें कि स्‍मार्टफोन के इस्‍तेमाल की वजह से डाटा प्राइवेसी का भी खतरा हमेशा बना रहता है। पिछले कुछ सालों में जिस तरह की डाटा प्राइवेसी में सेंधमारी की घटनाएं सामने आई हैं, उससे टेक्‍नोलॉजी की दुनिया में थोड़ी सी भी लापरवाही भारी नुकसान की वजह बन सकती है।

एलन मस्‍क एक अमरी व्‍यक्ति हैं इसलिए स्‍मार्टफोन तोड़ना एक आम बात है, लेकिन एक आम नागरिक के लिए ऐसा करना संभव नहीं है। ऐसे में अगर हम थोड़ा सजग रहें तो निजी डाटा के लीक होने की संभावना को कम किया जा सकता है। आइए जानते हैं हमें किन बातों का ध्‍यान रखना चाहिए, जिसकी वजह से हमारे निजी डाटा को नुकसान न पहुंचे।

  • सबसे पहले इस बात का ध्‍यान रखें कि आप अपने स्‍मार्टफोन में किसी भी ऐसे एप को डाउनलोड या इंस्‍टॉल न करें, जो गूगल प्‍ले स्‍टोर पर वेरीफाइड न हो।
  • एंड्रॉयड 10 में ऐसे फीचर्स दिए गए हैं, जो एप्‍स के परमीशन को कंट्रोल करते हैं। ऐसे में किसी भी एप को अपनी निजी जानकारियों की परमीशन न दें। अगर आप परमीशन दे रहे हैं तो केवल उतने समय के लिए दें, जब तक आप इसका इस्‍तेमाल कर रहे हैं।
  • अपने स्‍मार्टफोन के पासवर्ड को हमेशा अल्‍फा न्‍यूमेरिक बनाएं या फि‍र बायोमेट्रिक पासवर्ड के साथ-साथ न्‍यूमेरिक पासवर्ड का भी उपयोग करें।
  • स्‍मार्टफोन में अपने प्रत्‍येक प्राइवेट डाटा वाले एप को लॉक करके रखें, ताकि अगर कोई आपके फोन का पासवर्ड पता भी लगा ले तो आपके निजी डाटा तक न पहुंच पाए।
  • स्‍मार्टफोन के फाइल और फोल्‍डर के साथ-साथ सोशल मीडिया और बैंकिंग एप्‍स को सुरक्षित रखने की कोशिश करें।
  • गलती से भी कभी भी अपनी प्राइवेट जानकारी को किसी के साथ शेयर न करें।
  • स्‍मार्टफोन, सोशल मीडिया और बैंकिंग एकाउंट के पासवर्ड को समय-समय पर बदलते रहें।
  • अगर आप भी इन सावधानियों को बरतते हैं तो आपको अपना स्‍मार्टफोन न तो बदलना पड़ेगा और न ही तोड़ना पड़ेगा।
Write a comment