1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. सेबी ने जून तिमाही के वित्तीय परिणाम जारी करने की समयसीमा एक महीने बढ़ाकर 15 सितंबर की

सेबी ने जून तिमाही के वित्तीय परिणाम जारी करने की समयसीमा एक महीने बढ़ाकर 15 सितंबर की

कोरोना वायरस संकट को देखते हुए नतीजों के लिए समय सीमा बढ़ाई गई

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: July 29, 2020 20:03 IST
- India TV Paisa
Photo:PTI (FILE)

Sebi extends deadline for June quarter result to September 15

नई दिल्ली। बाजार नियामक सेबी ने बुधवार को लिस्टेड कंपनियों को जून तिमाही का वित्तीय परिणाम जारी करने की समय सीमा एक महीने बढ़ाकर 15 सितंबर कर दिया। कोरोना वायरस संकट को देखते हुए यह कदम उठाया गया है। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) को 30 जून को समाप्त तिमाही या छमाही के लिये वित्तीय परिणाम जारी करने को लेकर समयसीमा बढ़ाने को लेकर अनुरोध मिले थे। अनुरोध में 31 मार्च को समाप्त वित्त वर्ष के लिये सालाना वित्तीय परिणाम जारी करने को लेकर बढ़ायी गयी समयसीमा और 30 जून को समाप्त तिमाही या छमाही के लिये वित्तीय नतीजे घोषित करने के लिये समय के बीच कम अंतर का हवाला दिया गया था।

सेबी ने परिपत्र में कहा, ‘‘विचार-विमर्श के बाद वित्तीय परिणाम जारी करने की समयसीमा बढ़ाने का निर्णय किया गया है। 30 जून को समाप्त तिमाही या छमाही के लिये अब 15 सितंबर, 2020 तक वित्तीय परिणाम जारी किये जा सकते हैं।’’ इससे पहले, लिस्टेड कंपनियों को 30 जून, 2020 को समाप्त तिमाही के वित्त परिणाम 14 अगस्त, 2020 तक जारी करने थे। सामान्य तौर पर सूचीबद्ध कंपनियों को सालाना वित्तीय परिणाम वित्त वर्ष समाप्त होने के 60 दिन के भीतर और तिमाही परिणाम तीन महीने की अवधि समाप्त होने के 45 दिन के भीतर जारी करने होते हैं। सेबी ने जून में सूचीबद्ध कंपनियों को चौथी तिमाही के साथ सालाना वित्तीय परिणाम जारी करने के लिये समय एक और महीने बढ़ाकर 31 जुलाई तक कर दिया था। इससे पहले वित्तीय परिणाम जमा करने की समयसीमा 30 जून थी। सेबी ने कहा कि परिपत्र तत्काल प्रभाव से अमल में आ गया है।

Write a comment
X