1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. शेयर बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 440 अंक से अधिक गिरा, निफ्टी 15,000 अंक से नीचे

शेयर बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 440 अंक से अधिक गिरा, निफ्टी 15,000 अंक से नीचे

बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स शुक्रवार को कारोबार की शुरुआत में बिकवाली के जोर पकड़ने से 440 अंक से अधिक नीचे आ गया

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 05, 2021 12:08 IST
Stock MArket- India TV Paisa
Photo:AP

Stock MArket

मुंबई। बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स शुक्रवार को कारोबार की शुरुआत में बिकवाली के जोर पकड़ने से 440 अंक से अधिक नीचे आ गया जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 15,000 अंक से नीचे चला गया। अन्य एशियाई बाजारों में भी कारोबार की शुरुआत गिरावट के साथ हुई। बाजार जानकारों का कहना है कि अमेरिका में बॉंड बाजार में लगातार उठापटक जारी रहने से निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई है। 

बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का संवेदी सूचकांक कारोबार की शुरुआत में 440.09 अंक यानी 0.87 प्रतिशत की गिरावट के साथ 50,405.99 अंक तक नीचे आ गया। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का व्यापक आधार वाला निफ्टी सूचकांक इस दौरान 124.75 अंक यानी 0.83 प्रतिशत गिरकर 14,958 अंक रह गया। इस दौरान सेंसेक्स में शामिल शेयरों में इंडसइंड बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, स्टेट बैंक, पावर ग्रिड और एचडीएफसी के शेयरों में तीन प्रतिशत तक की गिरावट दर्ज की गई। सेंसेक्स में शामिल शेयरों में 21 शेयरों में गिरावट का रुख रहा। 

एशिया के अन्य शेयर बाजारों में शुक्रवार को लगातार गिरावट का रुख रहा। वॉल स्ट्रीट में बॉंड बाजार में बढ़ते प्रतिफल को लेकर निवेशकों में चिंता बढ़ी है। बाजार विश्लेषकों के मुताबिक अमेरिकी बाजार में बॉंड में मंदी लाने वालों और इक्विटी के तेजड़ियों के बीच खींचतान जारी है। इसके चलते नास्डैक बाजार रिकार्ड ऊंचाई से 10 प्रतिशत नीचे आ गया। इधर, घरेलू बाजार में विदेशी संस्थागत निवेशकों और घरेलू संस्थागत निवेशकों ने बृहस्पतिवार को बाजार में बिकवाली की। बृहस्पतिवार को सेंसेक्स 598.57 अंक यानी 1.16 प्रतिशत और निफ्टी में 164.85 अंक यानी 1.08 प्रतिशत की गिरावट रही। एक्सचेंज के शुरुआती आंकड़ों के मुताबिक विदेशी निवेशकों ने इस दौरान बाजार में 223.11 करोड़ रुपये के शेयरों की बिकवाली की। बहरहाल, वैश्विक बाजार में ब्रेंट क्रूड 0.77 प्रतिशत ऊंचा रहकर 64.32 डालर प्रति बैरल पर बोला जा रहा था। 

Write a comment
X