Saturday, April 13, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. फायदे की खबर
  4. रिलायंस और Jio फाइनेंशियल सर्विसेज का डिमर्जर कल, बाजार खुलने से पहले समझ लें ये 5 बातें

रिलायंस में कल होने जा रहा है बहुत बड़ा बदलाव, Jio फाइनेंशियल सर्विसेज के डिमर्जर से पहले समझ लें ये 5 बातें

BSE और NSE डीमर्जर के बाद RIL की कीमत जानने के लिए 20 जुलाई को एक विशेष प्री-ओपन सत्र आयोजित करेंगे। RIL के पिछले सत्र का समापन मूल्य इस सत्र के लिए संदर्भ मूल्य होगा।

Sachin Chaturvedi Written By: Sachin Chaturvedi @sachinbakul
Updated on: July 19, 2023 18:40 IST
RIL- India TV Paisa
Photo:FILE Reliance Industries Limited

जियो फाइनेंशियल सर्विसेज (JSFL) गुरुवार (20 जुलाई) को रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) से अलग होने जा रही है। बाजार की भाषा में इसे डिमर्जर कहा जाता है। आरआईएल ने 8 जुलाई को बीएसई फाइलिंग में घोषणा की थी कि नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल ने जियो फाइनेंशियल सर्विसेज के नियोजित डिमर्जर को मंजूरी दे दी है। इसने इसके लिए 20 जुलाई, 2023 की तारीख मुकम्मल की गई थी। 

पिछले साल हुई थी घोषणा 

पिछले साल अपनी सितंबर तिमाही की आय की घोषणा करते समय, आरआईएल ने अपने वित्तीय सेवा व्यवसाय को अलग करने और इसे जियो फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड के तहत स्टॉक एक्सचेंजों पर अलग से सूचीबद्ध करने की घोषणा की थी। नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT) की मुंबई पीठ ने 28 जून को अपने आदेश में (5 जुलाई को NCLT की वेबसाइट पर अपलोड) ने डीमर्जर को मंजूरी दे दी।

ऐसे होगा शेयरों का बंटवारा

मई में, शेयरधारकों और लेनदारों ने रिलायंस स्ट्रैटेजिक इन्वेस्टमेंट्स लिमिटेड के डिमर्जर को मंजूरी दे दी। अब इस नई कंपनी का नाम बदलकर जियो फाइनेंशियल सर्विसेज रखा जाएगा।डिमर्जर के लिए अनुपात 1:1 निर्धारित किया गया है। इसका मतलब है कि 20 जुलाई से पहले खरीदे गए आरआईएल के प्रत्येक शेयर के लिए, कंपनी जेएफएसएल का एक शेयर देगी। अगले दो-तीन महीनों में जेएफएसएल के सूचीबद्ध होने की उम्मीद है।

अब आंकड़े भी समझ लीजिए 

विशेषज्ञों ने बताया कि जियो फाइनेंशियल सर्विसेज के पास आरआईएल के 413 मिलियन ट्रेजरी शेयर होंगे, जो आरआईएल के कुल बकाया शेयरों का लगभग 6.1 प्रतिशत है। इसका मतलब है कि जेएफएसएल के पास आरआईएल में 6.1 फीसदी हिस्सेदारी होगी। जब जियो फाइनेंशियल रिलायंस इंडस्ट्रीज से अलग हो जाएगा, तो रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर की कीमत को समायोजित करने की आवश्यकता होगी। समायोजन जियो फाइनेंशियल सर्विसेज को दिए गए मूल्य पर निर्भर करेगा।

गुरुवार, 20 जुलाई को क्या होगा?

बीएसई और एनएसई डीमर्जर के बाद आरआईएल की कीमत जानने के लिए 20 जुलाई को एक विशेष प्री-ओपन सत्र आयोजित करेंगे। आरआईएल के पिछले सत्र का समापन मूल्य इस सत्र के लिए संदर्भ मूल्य होगा। मान लीजिए, बुधवार (19 जुलाई) को आरआईएल का समापन मूल्य ₹3,000 है और 20 जुलाई को विशेष प्री-ओपन सत्र के बाद यह ₹2,800 पर स्थिर हो जाता है, जियो फाइनेंशियल सर्विसेज का शेयर मूल्य ₹200 (3,000-2,800) होगा।

डिमर्जर के बाद क्या हो?

डिमर्जर के बाद, जियो फाइनेंशियल को एनएसई के 18 अन्य सूचकांकों के साथ निफ्टी 50 में अस्थायी रूप से जोड़ा जाएगा, जिसमें निफ्टी 100, निफ्टी 200, निफ्टी 500, निफ्टी एनर्जी और निफ्टी ऑयल एंड गैस शामिल हैं। यह समावेशन सूचकांक घटकों में विलय और डिमर्जर पर विचार करते समय एक्सचेंज द्वारा निर्धारित सूचकांक पद्धति नियमों में बदलाव के कारण होता है। जियो फाइनेंशियल को 20 जुलाई से तीन दिनों की अवधि के लिए एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स सहित एसएंडपी बीएसई सूचकांकों में से 18 में जोड़ा जाएगा। तीन दिनों के बाद, इसे सभी सूचकांकों से अंतिम कारोबार मूल्य पर हटा दिया जाएगा।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। My Profit News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement