1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. बायोकॉन को कोविड-19 के मरीजों के इलाज में इटोलिजूमैब के प्रयोग की मंजूरी मिली

बायोकॉन को कोविड-19 के मरीजों के इलाज में इटोलिजूमैब के प्रयोग की मंजूरी मिली

जैव प्रौद्योगिकी कंपनी बायोकॉन की बायोजॉलिक दवा इटोलिजूमैब (Itolizumab) का प्रयोग कोविड-19 के मरीजों के इलाज में करने की भारतीय औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) से मंजूरी मिल गयी है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: July 11, 2020 18:12 IST
Biocon, DCGI, Itolizumab, treatment of COVID-19 patients- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV Biocon gets DCGI nod for use of Itolizumab for treatment of COVID-19 patients

नयी दिल्ली। जैव प्रौद्योगिकी कंपनी बायोकॉन की बायोजॉलिक दवा इटोलिजूमैब (Itolizumab) का प्रयोग कोविड-19 के मरीजों के इलाज में करने की भारतीय औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) से मंजूरी मिल गयी है। कंपनी ने शनिवार को इसकी जानकारी दी। कंपनी ने बीएसई को बताया कि डीसीजीआई ने कोविड-19 के कारण श्वसन संबंधी गंभीर समस्याओं से जूझ रहे मरीजों के इलाज में इटोलिजूमैब इंजेक्शन (25 मिलीग्राम/पांच मिलीलीटर) का आपातकालीन प्रयोग करने की मंजूरी दी है। 

कंपनी ने कहा कि इटोलिजूमैब पहली ऐसी बायोलॉजिक दवा है, जिसे दुनिया में कहीं भी कोविड-19 के मरीजों के इलाज में प्रयोग की मंजूरी मिली है। हालांकि कंपनी ने अभी यह नहीं बताया है कि वह इस दवा को किस दर से बेचेगी। कंपनी ने कहा कि मुंबई और नयी दिल्ली के कई अस्पतालों में नियंत्रित क्लीनिक परीक्षण के परिणामों के बाद इटोलिजूमैब के प्रयोग की मंजूरी मिली है। 

बायोकॉन की चेयरपर्सन किरण मजूमदार-शॉ ने कहा, 'नवोन्मेष आधारित एक बायोफार्मा होने के नाते कोविड-19 के मरीजों के इलाज में इटोलिजूमैब के प्रयोग की मंजूरी पाने से हम गौरवान्वित हैं।' उन्होंने कहा कि इसने कोविड-19 महामारी को हराने के प्रयासों में हो रहे वैश्विक नवोन्मेष में भारत को अग्रण्णी बना दिया है। हमारी योजना कोरोना वायरस महामारी से प्रभावित दुनिया के अन्य देशों में भी इस दवा को उपलब्ध कराने की है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, देश में शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 27,114 नये मामले सामने आये। इस तरह देश में कुल संक्रमितों की संख्या आठ लाख के पार हो गयी। अब तक इस महामारी से देश में 22 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment