Sunday, March 03, 2024
Advertisement

Operation Trishul: भारत सरकार का 'ऑपरेशन त्रिशूल': भगोड़ों के लिए है काल, दुनिया में कहीं भी छिप नहीं पा रहे

ऑपरेशन त्रिशूल की वजह से एक के बाद भगोड़े अपराधियों को भारत वापस लाने में खासी मदद मिल रही है। CBI भगोड़ों को पकड़ने के लिए 'ऑपरेशन त्रिशूल' के तहत तीन लेवल की रणनीति से काम लेती है।

Swayam Prakash Edited By: Swayam Prakash @swayamniranjan_
Published on: March 13, 2023 13:25 IST
CBI का ऑपरेशन त्रिशूल साबित हो रहा सुपरहिट- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO CBI का ऑपरेशन त्रिशूल साबित हो रहा सुपरहिट

भारत में बड़े और संगीन अपराध को अंजाम देकर जो मोस्ट वांटेड अपराधी विदेशों में जाकर छिपे बैठे हैं, उनके लिए CBI का ऑपरेशन त्रिशूल (Operation Trishul) काल बन रहा है। ऑपरेशन त्रिशूल के तहत सीबीआई ने अलग-अलग आपराधिक गतिविधियों में शामिल 33 लोगों को दूसरे देशों से प्रत्यर्पित किया है, जो भागकर विदेशों में छिपे बैठे थे। इंटरपोल के मुताबिक, भारतीय एजेंसियां ​​वैश्विक स्तर पर 276 भगोड़ों की तलाश कर रही हैं। 

 
ऑपरेशन त्रिशूल की वजह से एक के बाद भगोड़े अपराधियों को भारत वापस लाने में खासी मदद मिल रही है। CBI भगोड़ों को पकड़ने के लिए 'ऑपरेशन त्रिशूल' के तहत तीन लेवल की रणनीति से काम लेती है। इसमें इंटरपोल की मदद से विदेशों में अपराधियों और अपराध की आय का पता लगाया जाता है और उन्हें वापस लाया जाता है।

ऑपरेशन त्रिशूल की 3 अहम रणनीति-

  1. ऑपरेशन त्रिशूल की पहली रणनीति के तहत जांच एजेंसी इंटरपोल की मदद से एक भगोड़े का पता लगाती है। फिर उस वांटेड शख्स की उस देश से निर्वासन या प्रत्यर्पण की मांग करती है जहां वह छिपा होता है।
  2. दूसरी रणनीति के तहत CBI वित्तीय अपराधियों द्वारा अपराध की कमाई के फैलाव की पहचान करने के लिए इंटरपोल तंत्र - स्टार ग्लोबल फोकल प्वाइंट नेटवर्क, वित्तीय अपराध विश्लेषण फाइलें और अन्य चैनल भी जुटाती है, ताकि अपराध की ऐसी आय को पुनर्प्राप्त (रिट्रीव) करने के लिए औपचारिक चैनलों के माध्यम से बाद के कदम उठाए जा सकें।
  3. ऑपरेशन त्रिशूल तीसरी रणनीति होती है शेल कंपनियों, धोखाधड़ी लेनदेन, मनी म्यूल्स और विश्व स्तर पर स्थित सह-अभियुक्तों पर आपराधिक खुफिया जानकारी जुटाना और उनका समर्थन कर रहे नेटवर्क को खत्म करना। इससे संबंधित देश की कानून-प्रवर्तन एजेंसियों को इंटरपोल के माध्यम से उपयुक्त कार्रवाई करने के लिए सूचित किया जा सके।

हाल ही में वापस आया एक और वांटेड अपराधी
गौरतलब है कि ‘ऑपरेशन त्रिशूल’ के तहत हाल ही में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को अपहरण और हत्या के आरोपों के तहत केरल पुलिस द्वारा वांचेड आरोपी को प्रत्यर्पण के जरिये सऊदी अरब से वापस लाने में सफलता मिली है। इंटरपोल की मानें तो भारतीय जांच एजेंसियां ​​वैश्विक स्तर पर 276 भगोड़ों की तलाश कर रही हैं, जिनमें कुछ हाई-प्रोफाइल आर्थिक अपराधी भी शामिल हैं। 

ये भी पढ़ें-

उमेश पाल शूटआउट: क्या नेपाल में है अतीक का बेटा असद? खोजने पहुंची पुलिस की दो टीमें

सतीश कौशिक मौत केस: विकास मालू की पत्नी का एक और सनसनीखेज आरोप, इस बार इंस्पेक्टर भी लपेटे में!

 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement