Monday, April 15, 2024
Advertisement

झारखंड में चंपई सरकार का कैबिनेट विस्तार, शिबू सोरेन के छोटे बेटे बसंत समेत 8 मंत्रियों ने ली शपथ

बसंत सोरेन नवंबर 2020 में हुए उपचुनाव में दुमका सीट से भाजपा के लुइस मरांडी को 6,842 मतों से हराकर विधायक निर्वाचित हुए। बसंत सोरेन झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के छोटे भाई हैं। हेमंत कथित भूमि घोटाले से जुड़े धनशोधन के मामले में फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं।

Khushbu Rawal Edited By: Khushbu Rawal @khushburawal2
Updated on: February 16, 2024 19:23 IST
basant soren- India TV Hindi
Image Source : PTI बसंत सोरेन

रांची: झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) प्रमुख शिबू सोरेन के सबसे छोटे बेटे बसंत सोरेन ने 7 अन्य विधायकों के साथ शुक्रवार को चंपई सोरेन के नेतृत्व में बनी नई सरकार में मंत्री पद की शपथ ली। बसंत सोरेन झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के छोटे भाई हैं। हेमंत कथित भूमि घोटाले से जुड़े धनशोधन के मामले में फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं। झारखंड के 12 सदस्यीय मंत्रिमंडल में जिन नए चेहरों को शामिल किया गया है, उनमें झामुमो के चाईबासा से विधायक दीपक बिरुआ और दुमका से बसंत सोरेन हैं।

शपथ ग्रहण समारोह राजभवन के बिरसा मंडप में हुआ और इस दौरान झामुमो नीत गठबंधन के वरिष्ठ नेता और अन्य सरकारी अधिकारी भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘विभागों का आवंटन आज कर दिया जाएगा। सभी मंत्रियों को जिम्मेदारी देने के बाद हम झारखंड के विकास कार्य को आगे ले जाएंगे।’’

दुमका सीट से भाजपा के लुइस मरांडी को हराकर विधायक बने थे बसंत

बसंत सोरेन नवंबर 2020 में हुए उपचुनाव में दुमका सीट से भाजपा के लुइस मरांडी को 6,842 मतों से हराकर विधायक निर्वाचित हुए। झारखंड विधानसभा के लिए 2019 में हुए चुनाव में बिरुआ ने चाईबासा सीट पर भाजपा के जे बी तुबिद को 26 हजार से अधिक मतों से हराया था। हेमंत सोरेन मंत्रिमंडल में शामिल रहे और अब चंपई सोरेन के मंत्रिमंडल में भी शामिल किए गए नेताओं में झामुमो के मिथिलेश कुमार ठाकुर, हफीजुल हसन और बेबी देवी के अलावा कांग्रेस के रामेश्वर उरांव, बन्ना गुप्ता और बादल पत्रलेख शामिल हैं। राज्यपाल सी पी राधाकृष्णन ने मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई।

31 जनवरी को गिरफ्तार हुए थे हेमंत सोरेन

इससे पहले दो फरवरी को 67 वर्षीय चंपई सोरेन ने राज्य के 12वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी। उनके साथ वरिष्ठ कांग्रेस नेता आलमगीर आलम और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नेता सत्यानंद भोक्ता ने मंत्री पद की शपथ ली थी। झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के तुरंत बाद 31 जनवरी को ईडी ने गिरफ्तार कर लिया था।

झारखंड में किस पार्टी के कितने विधायक?

राज्य की 81 सदस्यीय विधानसभा में झामुमो के नेतृत्व वाले गठबंधन के 47 विधायक हैं। इनमें झामुमो के 29, कांग्रेस के 17 और राजद का एक विधायक है। विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के 26 और ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन पार्टी (आजसू) के तीन विधायक हैं। इनके अलावा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी-लेनिनवादी) के एक-एक विधायक और दो निर्दलीय विधायक हैं।

यह भी पढ़ें-

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement