1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. ज्ञानवापी मस्जिद में कल भी होगा सर्वे, आज कड़े पहरे में हुई गुंबद की जांच और वीडियोग्राफी

Gyanvapi Masjid Case: ज्ञानवापी मस्जिद में कल भी होगा सर्वे, आज कड़े पहरे में हुई गुंबद की जांच और वीडियोग्राफी

कोर्ट कमिश्नर की मौजूदगी में ज्ञानवापी मस्जिद के गुंबद की जांच की गई। साथ ही छत, ग्राउंड फ्लोर की ​वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी की गई।

Deepak Vyas Edited by: Deepak Vyas
Updated on: May 15, 2022 13:33 IST
Gyanvapi Masjid Case- India TV Hindi
Image Source : PTI Gyanvapi Masjid Case

Gyanvapi Masjid Case: ज्ञानवापी में दूसरे दिन का सर्वे कार्य संपन्न हुआ। इस दौरान कोर्ट कमिश्नर की मौजूदगी में ज्ञानवापी मस्जिद के गुंबद की जांच की गई। साथ ही छत, ग्राउंड फ्लोर की ​वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी की गई। जहां नमाज पढ़ी जाती है, उस जगह का भी सर्वे का काम किया गया। मस्जिद के उत्तरी पश्चिमी दीवार की भी वीडियोग्राफी की गई। इस दौरान डीएम कौशल राज शर्मा भी सर्वे खत्म होने से पहले सर्वे वाली जगह पर पहुंचे।

मस्जिद में बुलाए गए सफाई कर्मचारी

तहखानों के खंभों और दरवाजों की माप ली गई। दीवारों की मोटाई भी मापी गई। खंभों से धूल हटाकर आकृतियों की ​वीडियोग्राफी की गई। सर्वे का काम पूरा होने के बाद 10 सफाई कर्मचारियों को मस्जिद के अंदर बुलाया गया। सर्वे खत्म होने के करीब डेढ़ घंटे बाद सर्वे की टीम बाहर निकली। इस दौरान बताया गया कि थोड़ा काम और बचा हुआ है। सर्वे का काम सोमवार को भी होगा। कल सोमवार को डेढ़ घंटे तक सर्वे होगा। वकील ने बताया कि सर्वे के दौरान शासन प्रशासन का पूरा सहयोग मिला। 

इससे पहले पुलिस कमिश्नर सतीश गणेश बयान दिया कि सर्वे का काम अच्छे तरीके से हुआ। सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए। इस दौरान काशी विश्वनाथ मंदिर दर्शन करने आने वालों को सर्वे के कारण कोई परेशानी का सामना नहीं करना पड़े, इस लिहाज से सुरक्षा व्यवस्था की गई। रविवार को भी सर्वे कार्य के दौरान असिस्टेंट कोर्ट कमिश्नर अजय प्रताप सिंह और विशाल सिंह भी मौजूद रहे।

पहले दिन 4 घंटे चला था सर्वे का काम

गौरतलब है कि ज्ञानवापी मस्जिद में शनिवार को पहले दिन के सर्वे का काम हुआ था। पहले दिन सुबह 8 बजे से 4 घंटे तक सर्वे का काम चला। पहले दिन सर्वे का करीब 50 फीसदी काम पूरा हो गया था। सर्वे के दौरान दोनों तहखानों वीडियोग्राफी की गई थी। इस दौरान हिंदू पक्ष के वकील ने दावा किया था कि सर्वे के दौरान हमारी उम्मीदों के मुताबिक साक्ष्य मिले हैं। हालांकि वकीलों ने कहा था कि मामला गोपनीय है, जो कोर्ट के समक्ष पेश किया जाएगा। 

कोर्ट ने 17 मई तक ​सर्वे रिपोर्ट पेश करने के दिए हैं आदेश

कोर्ट ने आदेश दिया था कि एडवोकेट कमिश्नर अजय कुमार मिश्रा ही रहेंगे। वहीं कोर्ट ने विशाल सिंह और अजय सिंह को सहायक कोर्ट कमिश्नर नियुक्त किया है। कोर्ट ने पूरी सर्वे रिपोर्ट 17 मई को अदालत में पेश करने का आदेश दिया है। ज्ञानवापी मस्जिद प्रतिष्ठित काशी विश्वनाथ धाम के करीब स्थित है और स्थानीय अदालत महिलाओं के एक समूह द्वारा इसकी बाहरी दीवारों पर मूर्तियों के सामने दैनिक प्रार्थना की अनुमति मांगने से जुड़ी याचिका पर सुनवाई कर रही है ।

ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर क्या है हालिया विवाद?

ज्ञानवापी मस्जिद  ताजा विवाद, पुराने विवाद से कुछ अलग है। ताजा विवाद मस्जिद परिसर में श्रृंगार गौरी और अन्य देवी-देवताओं की रोज पूजा के अधिकार की मांग के बाद खड़ा हुआ है। ये मूर्तियां ज्ञानवापी मस्जिद की बाहरी दीवार पर स्थित हैं। इस विवाद की शुरुआत 18 अगस्त 2021 को हुई थी, जब 5 महिलाओं ने श्रृंगार गौरी मंदिर में रोजाना पूजन और दर्शन की मांग को लेकर अदालत का दरवाजा खटखटाया था। दरअसल पहले इस परिसर में साल में केवल 2 बार परंपरा के मुताबिक पूजा की जाती थी, लेकिन फिर इन महिलाओं ने मांग की, कि अन्य देवी देवताओं की पूजा में बाधा नहीं आनी चाहिए। जब ये अपील कोर्ट के सामने आई तो उसने मस्जिद परिसर में सर्वे और वीडियोग्राफी करने के आदेश दिए।

 

erussia-ukraine-news