1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. दिवाली पर आम्रपाली घर खरीदारों को मिलेगा तोहफा, NBCC 150 फ्लैट मालिकों को देगी कब्‍जा

दिवाली पर आम्रपाली घर खरीदारों को मिलेगा तोहफा, NBCC 150 फ्लैट मालिकों को देगी कब्‍जा

आर. वेंकटरमणि ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) और यूको बैंक आम्रपाली परियोजनाओं में 450 करोड़ रुपये निवेश करने के लिए सहमत हो गए हैं, लेकिन अन्य बैंक, जो एक संघ का हिस्सा थे, प्रक्रिया में देरी कर रहे हैं।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: October 26, 2021 12:12 IST
Amrapali home buyers get 150 flats on Diwali 2021- India TV Paisa
Photo:PIXABAY

Amrapali home buyers get 150 flats on Diwali 2021

नई दिल्‍ली। सालों से अपने घर का इंतजार कर रहे आम्रपाली परियोजनाओं के घर खरीदारों के लिए दिवाली से पहले अच्‍छी खबर आई है। एनबीसीसी ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में बताया कि वह आम्रपाली की फंसी परियोजनाओं में 150 फ्लैट का काम पूरा कर चुकी है और दिवाली पर फ्लैट मालिकों को उनके फ्लैट सौंप दिए जाएंगे। एनबीसीसी ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि आम्रपाली के ग्रेटर नोएडा स्थित एक प्रोजेक्‍ट के 150 फ्लैट मालिकों को दि‍वाली के दिन आयोजित एक समारोह में पजेशन लेटर सौंपे जाएंगे। 2019 में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद यह पहली बार होगा जब 150 घर मालिकों को एक साथ पजेशन लेटर सौंपे जाएंगे।

जस्टिस यूयू ललित और अजय रस्‍तोगी की बेंच ने एनबीसीसी के काम की तारीफ की। कोर्ट रिसीवर वरिष्‍ठ वकील आर. वेंकटरमणि ने बेंच को बताया कि आम्रपाली परियोजनाओं में 300 फ्लैट का काम पूरा होने के करीब है और इनमें से 150 फ्लैट का काम एनबीसीसी ने पूरा कर लिया है और अब इनका कब्‍जा दिया जाएगा।  

एसबीआई, यूको बैंक आम्रपाली प्रोजेक्टों में 450 करोड़ रुपये के निवेश पर सहमत

आर. वेंकटरमणि ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) और यूको बैंक आम्रपाली परियोजनाओं में 450 करोड़ रुपये निवेश करने के लिए सहमत हो गए हैं, लेकिन अन्य बैंक, जो एक संघ का हिस्सा थे, प्रक्रिया में देरी कर रहे हैं। वरिष्ठ अधिवक्ता और अदालत द्वारा नियुक्त रिसीवर आर. वेंकटरमणि ने कहा कि छह बैंक सैद्धांतिक रूप से सहमत हो गए हैं, लेकिन करीब दो महीने से चीजें वांछित दिशा में नहीं बढ़ी हैं। उन्होंने कहा कि इस प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए शीर्ष अदालत से थोड़ा धक्का-मुक्की करने की जरूरत है।

3 सितंबर को, रिसीवर ने सुप्रीम कोर्ट को बताया था कि उसने छह बैंकों के एक संघ- एसबीआई, यूको बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ बड़ौदा, पंजाब नेशनल बैंक और पंजाब एंड सिंध बैंक- के अधिकारियों के साथ बैठक की थी। रिसीवर ने शीर्ष अदालत को सूचित किया कि एसबीआई और यूको बैंक को छोड़कर, शेष चार बैंकों में से कोई भी आम्रपाली परियोजनाओं के वित्तपोषण पर कोई ठोस प्रस्ताव नहीं लाया था। उन्होंने जोर देकर कहा कि प्रस्ताव को अंतिम रूप नहीं दिया गया है।

शीर्ष अदालत ने बैंकों से दो सप्ताह के भीतर निर्णय लेने और उसके समक्ष प्रस्ताव दाखिल करने को कहा। सुनवाई के दौरान, शीर्ष अदालत ने कहा कि यदि बैंकों को इस मुद्दे पर और विचार करना है, तो एमडी स्तर के एक अधिकारी को एक ठोस प्रस्ताव विकसित करने के लिए रिसीवर के साथ एक बैठक बुलानी चाहिए।

कुछ घर खरीदारों का प्रतिनिधित्व करने वाले वकील कुमार मिहिर ने कहा कि यह एक स्वागत योग्य कदम है कि एसबीआई और यूको बैंक आम्रपाली परियोजनाओं के निर्माण में 450 करोड़ रुपये का निवेश करने के लिए सैद्धांतिक रूप से सहमत हुए हैं, और उम्मीद है कि अन्य बैंक भी उनके कदमों का पालन करेंगे।

सुप्रीम कोर्ट ने भी उत्तर प्रदेश सरकार को नोटिस जारी कर आम्रपाली फ्लैट खरीदारों से रजिस्ट्री के समय वसूले जा रहे स्टांप शुल्क पर स्पष्टीकरण मांगा है। रिसीवर ने पिछले महीने शीर्ष अदालत को सूचित किया था कि कंसोर्टियम रुकी हुई आम्रपाली परियोजनाओं को निधि देने के लिए सहमत हो गया था और बैंक अधिकारियों ने कहा था कि प्रक्रिया के संबंध में दस्तावेज महीने के दौरान शुरू हो जाएगा और ऋण के वितरण की उम्मीद की जानी चाहिए।

यह भी पढ़ें: अब सरकार तय करेगी आपकी मोटरसाइकिल की स्‍पीड, जारी हुआ ड्राफ्ट नोटिफ‍िकेशन

यह भी पढ़ें:  Air India बिक्री सौदा हुआ पक्‍का, सरकार ने Tata Sons के साथ शेयर खरीद समझौते पर किए हस्‍ताक्षर

यह भी पढ़ें: देश में सुधर रही है रोजगार की स्थिति, आंकड़े दे रहे हैं गवाही

यह भी पढ़ें: धनतेरस-दिवाली पर इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स व स्‍मार्टफोंस की होगी मारामारी...

Write a comment
bigg boss 15