1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. चालू वित्त वर्ष में अबतक करदाताओं को 1.81 लाख करोड़ रुपये का टैक्स रिफंड किया गया

चालू वित्त वर्ष में अबतक करदाताओं को 1.81 लाख करोड़ रुपये का टैक्स रिफंड किया गया

व्यक्तिगत आयकर मद में 1.71 करोड़ करदाताओं को 62,231 करोड़ रुपये और कंपनी कर के मामले में 2.12 लाख करदाताओं को विभाग ने 1.19 लाख करोड़ रुपये लौटाये गए हैं।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: January 27, 2021 20:53 IST
1.81 लाख करोड़ रुपये का...- India TV Paisa
Photo:PTI

1.81 लाख करोड़ रुपये का टैक्स रिफंड

नई दिल्ली। आयकर विभाग ने बुधवार को कहा कि चालू वित्त वर्ष में अबतक 1.74 करोड़ से ज्यादा करदाताओं को 1.81 लाख करोड़ रुपये वापस किये गये हैं। इसमें से व्यक्तिगत आयकर मद में 1.71 करोड़ करदाताओं को 62,231 करोड़ रुपये और कंपनी कर के मामले में 2.12 लाख करदाताओं को विभाग ने 1.19 लाख करोड़ रुपये लौटाये। विभाग ने ट्विटर पर लिखा है, ‘‘सीबीडीटी ने एक अप्रैल, 2020 से 25 जनवरी, 2021 के बीच 1.74 लाख से अधिक करदाताओं को 1,81,336 करोड़ रुपये वापस किये।’’

आयकर विभाग ने इससे पहले जानकारी दी थी कि 4 जनवरी तक 1.41 करोड़ करदाताओं को 1.64 लाख करोड़ रुपये भेज दिए हैं। यानि 4 जनवरी से अब तक 33 लाख करदाताओं को 17 हजार करोड़ रुपये वापस दिए गए हैं।

रिफंड न मिलने की बड़ी वजहें

आयकर विभाग द्वारा बड़ी संख्या में करदाताओं को रिफंड जारी करने के बाद भी संभव है कि कई लोगों को टैक्स रिफंड न मिला हो। इसकी सबसे बड़ी वजह है फॉर्म में गलत जानकारी भरना। आयकर विभाग बैंक खाते में ही रिफंड जारी करता है। ऐसे में अगर आपने फॉर्म भरते वक्त गलत जानकारी दे दी है तो आपका रिटर्न अटक जाएगा। हालांकि इस गड़बड़ी को ठीक किया जा सकता है। आप घर बैठे ऑनलाइन बैंक की जानकारी भर सकते हैं। आपको वही बैंक खाता रिफंड के लिए देना है जो पैन से जुड़ा हुआ हो। इसके साथ ही खाते का वेरिफाई न होना या फिर रिटर्न को समय पर वेरिफाई न करने से भी रिफंड अटक सकता है।

Write a comment
X